ताज़ा खबर
 

‘मेक इन इंडिया से रेप इन इंडिया की तरफ बढ़ रहा देश’, कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने मोदी सरकार के नारे पर कसा तंज

हाल ही में तेलंगाना में एक महिला वेटरनरी डॉक्टर के साथ गैंगरेप और उसके शव को जलाने और उत्तर प्रदेश के उन्नाव में एक युवती को जिंदा जलाने की घटनाओं के बाद महिला सुरक्षा को लेकर देशव्यापी विमर्श शुरू हो गया है।

Author Edited By नितिन गौतम नई दिल्ली | Updated: December 10, 2019 5:47 PM
कांग्रेस सांसद व नेता विपक्ष अधीर रंजन चौधरी। (फोटो सोर्स- लोकसभा टीवी)

देश में महिलाओं के खिलाफ बढ़ती आपराधिक घटनाओं और इस पर मोदी सरकार की चुप्पी पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अधीर रंजन चौधरी ने निशाना साधा है। मंगलवार को लोकसभा में अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि ‘देश मेक इन इंडिया से रेप इन इंडिया की तरफ बढ़ रहा है।’ बता दें कि मोदी सरकार द्वारा देश में ही मैन्यूफैक्चरिंग को बढ़ावा देने के लिए मेक इन इंडिया कैंपेन की शुरूआत की थी।

हाल ही में तेलंगाना में एक महिला वेटरनरी डॉक्टर के साथ गैंगरेप और शव को जलाने और उत्तर प्रदेश के उन्नाव में एक युवती को जिंदा जलाने की घटनाओं के बाद महिला सुरक्षा को लेकर देशव्यापी विमर्श शुरू हो गया है। संसद में भी इस मुद्दे पर काफी चर्चा जारी है। आज लोकसभा में विपक्ष के नेता और कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने सदन में उन्नाव दुष्कर्म का मुद्दा उठाया। शून्य काल में चर्चा के दौरान चौधरी ने कहा कि ‘कठुआ से उन्नाव तक दुष्कर्म के कई मामले सामने आ चुके हैं। जब ऐसी घटनाओं के बारे में सुनता हूं तो शर्म महसूस होती है।’

सरकार पर निशाना साधते हुए अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि ‘यह बेहद ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि प्रधानमंत्री हर मुद्दे पर बोलते हैं, लेकिन महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों को लेकर चुप हैं। देश धीरे-धीरे मेक इन इंडिया से रेप इन इंडिया की तरफ बढ़ रहा है।’ हैदराबाद में महिला डॉक्टर के गैंगरेप और हत्या के आरोपियों को हैदराबाद पुलिस द्वारा एक एनकाउंटर में ढेर कर दिया गया है, इसे लेकर भी कई सवाल उठ रहे हैं। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग भी इस मामले की जांच कर रहा है। हालांकि बड़ी संख्या में लोगों द्वारा पुलिस की इस कार्रवाई का समर्थन किया जा रहा है।

लोकसभा में चर्चा के दौरान अधीर रंजन चौधरी ने जम्मू कश्मीर के हालात पर सरकार से सवाल पूछे। जिनका जवाब केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह द्वारा दिया गया। अपने जवाब में अमित शाह ने कहा कि जम्मू कश्मीर में हालात बिल्कुल सामान्य हैं, लेकिन मैं कांग्रेस के हालात नॉर्मल नहीं कर सकता। जम्मू कश्मीर में एक भी गोली नहीं चली है। नजरबंद नेताओं को छोड़ने के सवाल पर अमित शाह ने कहा कि जैसे ही प्रशासन तय करेगा, उन्हें छोड़ दिया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 ‘धर्म हमारे बीच कभी नहीं आया’ कहकर भावुक हो गया दिल्ली अग्निकांड में मरे मुशर्रफ का दोस्त मोनू, कहा अली के बच्चे अब मेरे बच्चे हैं
2 अमित शाह पर प्रतिबंध लगाने की सिफारिश: अमेरिकी रिपोर्ट पर भारत सरकार का पलटवार, ‘कमिशन’ के इतिहास पर उठाए सवाल
3 CAB पर गिरिराज ने बोला ओवैसी पर हमला, कहा जिन्ना की राह पर चलकर मुसलमानों में फैला रहे भ्रम
ये पढ़ा क्‍या!
X