ताज़ा खबर
 

उत्तर प्रदेश: अलग-अलग समुदाय के नाबालिग लड़का-लड़की भागे, आगरा में सांप्रदायिक हिंसा, दो दुकानें जलाईं

नाबालिग लड़की के परिजनों ने लड़के के खिलाफ अपहरण का केस दर्ज करवाया। इसके थोड़ी देर बाद एक समुदाय के 30-35 लोगों ने हिंसा की और लड़के के समुदाय से जुड़ी प्रतिष्ठानों को आग के हवाले कर दिया।

Author नोएडा | Published on: September 18, 2019 8:24 AM
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।

उत्तर प्रदेश में आगरा के एक गांव में अलग-अलग समुदाय के नाबालिग लड़की-लड़की के भागने के बाद खासा तनाव पैदा हो गया और दोनों पक्षों के बीच खूब आगजनी हुई। मंगलवार (17 सितंबर, 2019) को दोपहर बाद नाबालिग घर छोड़कर भाग गए। मामले में नाबालिग लड़की के परिजनों ने लड़के के खिलाफ अपहरण का केस दर्ज करवाया। इसके थोड़ी देर बाद एक समुदाय के 30-35 लोगों ने हिंसा की और लड़के के समुदाय से जुड़ी प्रतिष्ठानों को आग के हवाले कर दिया। पुलिस ने बताया कि इस बीच दो दुकानों को आग के हवाले कर दिया गया जबकि स्थानीय लोगों का कहना है कि कुछ लोगों ने लड़के के घर और दुकानों पर हमला किया।

आगरा जोन के एडीजी अजय आनंद ने बताया, ‘शाम चार बजे हमें जानकारी मिली कि एक नाबालिग दूसरे समुदाय के शख्स के साथ घर छोड़कर चली गई। पीड़िता के पारिवारिक सदस्यों से मुलाकात के बाद एक एफआईआर दर्ज की गई। जब शिकायत दर्ज कर ली गई तब कुछ अराजक तत्वों ने इलाके में शांति भंग करने की कोशिश की। कुछ दुकानों को नुकसान पहुंचाया गया। हालांकि हालात काबू में हैं और लड़की को खोजने की कोशिश जारी है।’

पुलिस ने बताया कि लड़की दोपहर एक से शाम चार बजे के बीच घर से गायब हो गई। उसके परिजन पुलिस स्टेशन पहुंचे और शिकायत दर्ज कराई। थोड़ी देर बाद 30-35 लोगों के झुंड ने इलाके में हिंसा फैलाना शुरू कर दी और दूसरे समुदाय की दुकानों को आग के हवाले कर दिया।

सोशल मीडिया में घटना की कुछ वीडियो भी वायरल हुई हैं जिसमें दुकानों को जलते हुए देखा जा सकता है। कुछ दुकानों के शटर आधे बंद देखे गए। वीडियो में जली हुई कारें और बिखरे पड़े सामान को भी देखा जा सकता है।

जानकारी के मुताबिक आगजनी, हिंसा भड़काने और संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के आरोप में एक शख्स के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘घटना के बारे में हमें सूचना दी गई और हम फायर टेंडर के साथ घटना स्थल पर पहुंचे। हमने उन्हें रोका जिसके बाद हालात शांत हुए। हम रात में सद्भाव सुनिश्चित करने के लिए इलाके में अतिरिक्त सुरक्षाबल तैनात कर रहे हैं।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 कमलनाथ सरकार का संत सम्मेलन: लगे ‘जय श्री राम’ के नारे, सीएम ने साधुओं के लिए किए कई लुभाने वाले ऐलान
2 अयोध्या केस: सुप्रीम कोर्ट बोला- ‘राम के जन्म स्थान को खारिज करने वाली रिपोर्ट इतिहासकारों की राय, सबूत नहीं’
3 Weather Forecast Today Updates: बारिश के चलते बिहार में हालात खराब, कई जगहों पर जलभराव