ताज़ा खबर
 

सीएम कमलनाथ के भांजे ने अमेरिका के नाइट क्लब में एक रात में फूंक डाले थे 7 करोड़ से अधिक रुपये! चार्जशीट में ईडी का दावा

ईडी का दावा है कि नवंबर 2011 और अक्टूबर 2016 के बीच पुरी का कुल निजी खर्च 4.5 मिलियन डॉलर (करीब 32 करोड़ रुपये) था।

Author Updated: October 20, 2019 9:46 AM
चार्जशीट में ईडी का दावा: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे ने नाइटकल्ब में एक रात के भीतर 7 करोड़ से अधिक रूप फूंक डाले। (फोटो सोर्स: द इंडियन एक्सप्रेस)

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे और मनी लॉन्डरिंग केस में आरोपी रतुल पुरी के बारे में बड़ी बात सामने आई है। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने अपनी चार्जशीट में दावा किया है कि पुरी ने अमेरिका के एक नाइटक्लब में एक रात के भीतर 1.1 मिलियन डॉलर यानी 7.8 करोड़ रुपये खर्च दिए थे। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक पुरी के अलावा चार्जशीट में उनके सहयोगी और मोजर बेयर इंडिया (प्राइवेट) लिमिटिडे का भी नाम है। गौरतलब है कि रतुल पुरी मोजब बेयर के एग्जक्यूटिव डायरेक्टर हैं।

अपनी चार्जशीट में प्रवर्तन निदेशालय ने कहा है, “ट्रांजैक्शन से संबंधित सत्यापन का काम कर लिया गया और पाया गया कि लेनदेन का पैसा भारत और विदेशों के होटलों में ऐशो-आराम पर खर्च किए गए। प्रोवोकेटर नाम के एक नाइट-क्लब में पुरी ने एक रात के भीतर 11,43,980 डॉलर (करीब 7.8 करोड़ रुपये) खर्च कर डाले। ईडी का दावा है कि नवंबर 2011 और अक्टूबर 2016 के बीच पुरी का कुल निजी खर्च 4.5 मिलियन डॉलर (करीब 32 करोड़ रुपये) था।

ईडी ने अपनी चार्जशीट में हवाला के जरिए पैसे के लेनदेन की सीमा को बढ़ाते हुए अब 8,000 करोड़ रुपये कर दिया है। जांच एजेंसी का दावा है कि MBIL एक कंपनियों का बेहद ही पेचीदा ढांचा तैयार किया था जो बैंकों द्वारा लिए गए लोन को आसानी से साफ कर देता था। ईडी ने अपनी जांच में ‘शेल कंपनियों’ के जाल पर विशेष गौर फरमाया है, जिनके जरिए हवाला का सारा खेल रचा गया। चार्जशीट में दर्जनों सहयोगी कंपनियों का जिक्र है, जिनके मार्फत फंड को डायवर्ट किया गया।

गुरुवार को दिल्ली की अदालत में दायर 110 पेज की चार्जशीट में बताया गया है कि एक साल के भीतर MBIL ने अपनी सहायक कंपनियों में 800,20,96,683 रुपये का निवेश किया। मोजर बेयर और इसके निदेशक तथा प्रोमोटर्स पर बैंकों से मिले फंड और बिजनस से जुड़ी दूसरी गतिविदियों में धांधली का आरोप है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 उत्तर प्रदेश: ‘मानवीय’ आधार बता मुस्लिम हेडमास्टर का सस्पेंशन वापस! विश्व हिंदू परिषद नेताओं की शिकायत पर हुआ था ऐक्शन
2 महाराष्ट्र चुनाव: सिंचाई के लिए पानी न होने पर भड़के, 18 गांव के किसानों ने बीजेपी-शिवसेना को वोट न देने का किया ऐलान
3 राहुल गांधी की SPG सुरक्षा में ‘खामियां’! बिना बुलेटप्रूफ गाड़ी घूमते रहे, विदेश भी बिना सिक्योरिटी कवर गए
जस्‍ट नाउ
X