ताज़ा खबर
 

बुरे राजनीतिक ‘आकाओं’ से घिरे नजीब जंग हैं ‘भले’ इंसान: केजरीवाल

भाजपा सांसद की तरफ से उपराज्यपाल नजीब जंग को हटाए जाने की मांग के एक दिन बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आश्चर्यजनक रूप से उनके समर्थन में..

Author नई दिल्ली | September 26, 2015 16:40 pm
केजरीवाल ने दिल्ली के राज्यपाल के लिए कहा अच्छे इंसा हैं नजीब जंग और PMO पर साधा निशाना

भाजपा सांसद की तरफ से उपराज्यपाल नजीब जंग को हटाए जाने की मांग के एक दिन बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आश्चर्यजनक रूप से उनके समर्थन में आकर बोले कि वह महज पीएमओ के निर्देशों का पालन कर रहे और बुरे राजनीतिक आकाओं के बीच घिरे हुए एक अच्छे व्यक्ति हैं।

बहुत सारे विवादित मुद्दों पर उपराज्यपाल से अपने टकराव के बावजूद केजरीवाल ने कहा कि जंग को हटाने से मदद नहीं मिलने वाली क्योंकि दिल्ली के मामलों में जब तक प्रधानमंत्री कार्यालय दखल देना बंद नहीं करता ‘असली समाधान’ नहीं निकलने वाला।

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, ‘‘कांग्रेस और भाजपा दोनों नजीब जंग को हटाने की मांग कर रही है। अजीब है…क्या उनकी गलती है? नहीं…वह वैसा ही कर रहे हैं जैसा पीएमओ उनसे कह रहा है।’’

उन्होंने ट्वीट में कहा, ‘‘उनको हटाने से मदद नहीं मिलने वाली। पीएमओ दखलंदाजी करता रहा तो उनके स्थान पर आने वाले अन्य भी वैसा ही करेंगे। असली समाधान है कि पीएमओ को दिल्ली में हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए।’’

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा कि नजीब जंग एक भले इंसान हैं जो बुरे राजीनितक आकाओं के बीच घिरे हुए हैं। जंग के समर्थन में मुख्यमंत्री के बयान के एक दिन पहले भाजपा सांसद उदित राज ने उपराज्यपाल को ‘सुपरकिंग’ बताते हुए उन्हें हटाने की मांग की थी जो निर्वाचित प्रतिनिधियों के दृष्टिकोण पर ‘ध्यान नहीं देते’।

गुरुवार को बाहरी दिल्ली के कांझावला इलाके में उत्तर पश्चिम दिल्ली के जिलाधिकारी संजय गोयल से कथित बदसलूकी के लिए उनके तीन समर्थकों को गिरफ्तार किये जाने से राज नाखुश थे। सांसद ने पुलिस पर नौकरशाहों के दबाव में काम करने का आरोप लगाया।

भाजपा ने जंग को हटाए जाने की मांग नहीं की है लेकिन पार्टी की दिल्ली इकाई का एक धड़ा उन्हें हटाए जाने के पक्ष में है। भ्रष्टाचार रोधी शाखा पर नियंत्रण, करोड़ों रुपये के सीएनजी फिटनेस घोटाले के लिए जांच आयोग की नियुक्ति सहित कई मुद्दों पर आप सरकार और उपराज्यपाल में टकराव चल रहा है।

इससे पिछले सप्ताह केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपनी सरकार और केंद्र के बीच पैदा हो रहे मतभेदों के कारण अभूतपूर्व स्थिति के समाधान के लिए अनुरोध करते हुए कहा कि वह शहर के विकास की खातिर उनके साथ आगे बढ़ने को तैयार हैं।

मोदी को एक पत्र में केजरीवाल ने कहा था कि दोनों तरफ के बीच दरार में दिल्ली का विकास बाधित हुआ है और कोई कारण नहीं है कि दोनों सरकारें अपना मतभेद दूर नहीं कर सकती हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App