ताज़ा खबर
 

कोलेजियम के फैसलों के ‘लीक’ होने से बेहद नाराज हैं चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया!

सूत्रों ने बताया, 'सीजेआई बेहद नाराज हैं' और उन्होंने कोलेजियम के जजों से यह पता लगाने की कोशिश की। माना जा रहा है कि सीजेआई को ऐसा लगता है कि मीडिया में लीक सूचनाएं सिलेक्टिव हैं यानी कुछ खास जानकारियां ही लीक की जा रही हैं।

Author January 18, 2019 9:49 AM
चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई ने सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता से यह बात कही। (फोटो सोर्स : Express Group Photo)

सुप्रीम कोर्ट के कोलेजियम द्वारा लिए गए फैसलों पर मीडिया में छपी नकारात्मक खबरों पर चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई बेहद नाराज बताए जा रहे हैं। एक अंग्रेजी अखबार ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि 10 जनवरी को कोलेजियम की बैठक से जुड़ी खुफिया जानकारी के लीक होने के स्रोत के बारे में सीजेआई ने कई जुडिशियल अफसरों से पूछताछ की है। बता दें कि कोलेजियम के फैसले में जस्टिस संजीव खन्ना और जस्टिस दिनेश महेश्वरी को सुप्रीम कोर्ट में नियुक्त करने की सिफारिश की गई थी। दोनों ही जजों को शुक्रवार सुबह साढ़े 10 बजे शपथ लेना है।

द टेलिग्राफ को सूत्रों ने बताया, ‘सीजेआई बेहद नाराज हैं’ और उन्होंने कोलेजियम के जजों से यह पता लगाने की कोशिश की कि सूचनाएं कौन लीक कर रहा है। माना जा रहा है कि सीजेआई को ऐसा लगता है कि मीडिया में लीक सूचनाएं सिलेक्टिव हैं यानी कुछ खास जानकारियां ही लीक की जा रही हैं। सीजेआई को ऐसा लगता है कि इन सूचनाओं को लीक करने का मकसद 10 जनवरी को एकमत से लिए गए फैसले पर सवाल उठाना है।

गोगोई को ऐसा लगता है कि इस तरह के सिलेक्टिव लीक की वजह से संस्था को काफी नुकसान पहुंच रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक, ऐसी अटकलें हैं कि पिछले साल दिसंबर में हुई कोलेजियम की बैठक में दिल्ली हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस राजेंद्र मेनन और राजस्थान हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस प्रदीप नंदराजोग को सुप्रीम कोर्ट में नियुक्त करना तय हुआ था। हालांकि, एक महीने बाद उनके नाम जस्टिस खन्ना और महेश्वरी से बदल दिए गए।

सूत्रों का कहना है कि दिसंबर की बैठक में जस्टिस मेनन और नंदराजोग के नामों पर चर्चा हुई थी, लेकिन कोई आखिरी फैसला नहीं हुआ क्योंकि इस मसले पर और ज्यादा चर्चा किए जाने की जरूरत थी। विंटर वेकेशन की वजह से इस मामले पर फैसला टल गया। जब कोर्ट दोबारा से खुला तो कोलेजियम के एक सदस्य जस्टिस मदन बी लोकुर रिटायर हो गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 एम्स में अमित शाह से मिलने वाले नेताओं की लगी भीड़, खो गया बेटे जय का जूता
2 मस्त-मस्त’ पर रवीना टंडन के साथ डांस करते नजर आए तृणमूल सांसद सौगत राय
3 राजद्रोह: तीन साल में 179 गिरफ्तार, पर केवल दो को दोषी करार करवा पाई है पुलिस