7th Pay Commission: मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री का ऐलान, राज्य में होगी एक लाख नियुक्तियां

7th Pay Commission: मुख्यमंत्री ने कहा कि निजी क्षेत्र में रोजगार की अपार संभावनाओं को देखते हुए प्रदेश औद्योगिक विकास और औद्योगिक निवेश की गति को तेज किया गया है।

shivraj singh chauhan, mp, state news
सीनियर BJP नेता और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः ताशी तोबग्याल)

7th Pay Commission: मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि राज्य में बहुत जल्द एक लाख पदों पर नियुक्तियां की जाएगी। साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य में उद्यमिता, स्व-रोजगार को भी प्रोत्साहित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि निजी क्षेत्र में रोजगार की अपार संभावनाओं को देखते हुए प्रदेश औद्योगिक विकास और औद्योगिक निवेश की गति को तेज किया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अब प्रत्येक महीने की 7 तारीख को अन्न उत्सव के माध्यम से जनता को राशन बांटा जायेगा। गरीबों के हितों की रक्षा और कल्याण के लिए हमारी सरकार संकल्पित है। कोविड-19 की की चुनौती के बावजूद हमने 300 से अधिक उद्योगों को ज़मीन आवंटित की है। रोज़गार सृजन में 38% की वृद्धि हुई है।

साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा है कि राज्य में जिस तरह अनुसूचित जाति और जनजाति के लिए आयोग है उसी की तर्ज पर राज्य में समान्य वर्ग के लिए भी आयोग बनाया जाएगा। वहीं डेंगू से बचाव के लिए मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है कि वे अपने-अपने घरों एवं उसके आसपास कूलर, बर्तन आदि में जमा पानी को सात दिनों के भीतर साफ करें ताकि डेंगू के लार्वा उसमें नहीं पनपें। चौहान ने कहा कि हमने तय किया है कि 15 सितम्बर को सुबह 10 बजे से लेकर साढ़े 10 बजे के बीच आधा घंटा इस अभियान के लिए समय निकालना है। नागरिकों के सहयोग से यह अभियान निश्चित ही सफल होगा। इस बीच कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जबलपुर के रांझी ब्लॉक में मच्छर जनित बीमारी फैलने को लेकर प्रदेश सरकार के खिलाफ धरना दिया।

उन्होंने कहा कि जबलपुर में एक जनवरी से अब तक 410 मामले सामने आए हैं। इनमें एक महिला आरक्षक की रविवार को मौत हो गई। कांग्रेस के रांझी ब्लॉक के अध्यक्ष राजेंद्र मिश्रा ने आरोप लगाया कि इलाके में करीब 2500 से 3000 लोग डेंगू से पीड़ित हैं। वहीं, जबलपुर नगर कांग्रेस की व्यापारी शाखा के उपाध्यक्ष नारायण गुप्ता ने बताया कि विरोध प्रदर्शन के दौरान पुलिस के लाठीचार्ज में चार कार्यकर्ता घायल हो गए। रांझी पुलिस थाना प्रभारी विजया परस्ते ने हालांकि इन आरोपों से इनकार किया है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट