ताज़ा खबर
 

बिहार में कोरोना संकट पर बोले तेजस्वी यादव, नीतीश अब थक चुके हैं, नहीं संभल रही सरकार

विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने प्रधानमंत्री मोदी का जिक्र करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी कहते थे कि मैं बिहार का बेटा हूं, अब वो कहीं नजर क्यों नहीं आ रहे हैं?

बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ( सोर्स – एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

कोरोना महामारी से पूरा देश लड़ रहा है, हर राज्य से परेशान करने वाली खबरें सामने आ रही हैं, वहीं अगर बिहार की बात करे तो यहाँ स्थितियां बदतर होती जा रही हैं। बिहार में कोरोना का प्रकोप अब गाँवों की तरफ भी तेजी से बढ़ रहा है। ऐसे में बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने सोमवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उनकी सरकार पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि मेरा नीतीश कुमार से यही कहना कि आपसे बिहार संभल नहीं रहा है तो आप कुर्सी पर क्यों बैठे हुए हैं?

आगे उन्होंने कहा कि एक जिम्मेदार विपक्ष होने के नाते हम सरकार के साथ खड़े हैं। उन्होंने कहा की सरकार को अपनी कमी को देखते हुए सुधार करना चाहिए, लेकिन नीतीश कुमार यह मानाने को तैयार नहीं हैं कि व्यवस्था पूरी तरीके से फेल है। तेजस्वी यादव ने ये बातें अपने फेसबुक पेज से लाइव होकर कही। उन्होंने कहा कि सरकार में बैठे हुए लोग आज मुझे याद कर रहे हैं। इसका क्या मतलब है ? तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर हमला करते हुए कि,”मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी पूरी तरह से थक चुके हैं अब उनसे बिहार संभल नहीं रहा है उनको बिहार के लोगों की कोई चिंता नहीं है। अगर सरकार नहीं संभल रही तो कुर्सी छोड़ दीजिए,हमें मौका दीजिये, हम दिखाएंगे की काम कैसे होता है।”

उन्होंने नीतीश सरकार से सवाल पूछते हुए कहा कि कहा कि आपके पास पूरे 1 साल का मौका मिला,आपने क्या इंतज़ाम किए? आगे उन्होंने ने कहा कि लोगों का नीतीश कुमार और बीजेपी से विश्वास उठ गया है । उन्होंने ये भी बताया कि जो सलाह हमने सरकार को दी है, वही सलाह पटना हाईकोर्ट ने भी नीतीश सरकार को फटकार लगाते हए दी है। विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने प्रधानमंत्री मोदी का जिक्र करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी कहते थे कि मैं बिहार का बेटा हूं , अब वो कहीं नजर क्यों नहीं आ रहे हैं?

उन्होंने कहा कि पीएम केयर्स फंड से बिहार को कितनी ऑक्सीजन और वेंटीलेटर मुहैया कराई है। साथ में तेजस्वी कुमार ने यह भी आरोप लगाया कि 4 साल में मुख्यमंत्री ने हमारी किसी भी बात चिट्ठी का जवाब नहीं दिया।

उन्होंने एक बार फिर सरकार से स्वास्थ्य विभाग के खाली पड़े पदों को भरने की मांग की,और कहा कि सरकार को वे विपक्ष के नाते यह बात बहुत दिनों से कहते आ रहे हैं।

Next Stories
1 जब COVID-19 Emergency हो: क्या करें और क्या नहीं? जानें
2 कोरोना टीका पाना बना बड़ा टास्क! CoWin App पर स्लॉट बुक करने का क्या है सही वक्त? जानें- जरूरी बातें
3 COVID-19: क्या बच्चे को लेना चाहिए कोरोना वायरस का टीका?
ये  पढ़ा क्या?
X