ताज़ा खबर
 

कसाब वाले सेल में रहेगा छोटा राजन!

बाली में गिरफ्तार किए गए छोटा राजन के भारत आने पर उसे किस जेल में रखा जाए, यह सवाल इन दिनों पुलिस के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है..

Author मुंबई | Published on: October 30, 2015 1:27 AM
भारत के सबसे वांछित अपराधियों में एक अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन को इंडोनेशिया पुलिस ने इंटरपोल के रेडकार्नर नोटिस के आधार पर बाली में गिरफ्तार कर किया गया। (Source: NCB-Interpol Indonesia)

बाली में गिरफ्तार किए गए छोटा राजन के भारत आने पर उसे किस जेल में रखा जाए, यह सवाल इन दिनों पुलिस के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है। छोटा राजन को दाऊद इब्राहीम गैंग से संभावित खतरे को देखते हुए पुलिस उसकी सुरक्षा के माकूल इंतजाम करना चाहती है। सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए पुलिस को सबसे बेहतर इंतजाम फिलहाल आर्थर रोड का नजर आ रहा है। माना जा रहा है कि जिस अंडा सेल में पाकिस्तानी आतंकवादी अजमल कसाब को रखा गया था, वहीं पर छोटा राजन ज्यादा सुरक्षित रहेगा। हालांकि पुलिस ने अभी तक इस मामले में अंतिम निर्णय नहीं लिया है।

जेल प्रशासन और मुंबई पुलिस की अपराध शाखा इन दिनों इस बात की पड़ताल कर रही है कि छोटा राजन के भारत आने और मुंबई पुलिस को उसे सौंपने की स्थिति में उसे कहां रखा जा सकता है। इसी सिलसिले में तलोजा जेल का निरीक्षण किया गया है। इन दिनों यहां पर राजन का करीबी गैंगस्टर डीके राव बंद है। मगर जेल प्रशासन को तलोजा जेल राजन को रखे जाने के लिए उपयुक्त नहीं लगी है। इसलिए अब पुलिस और जेल प्रशासन आर्थर रोड जेल के बारे में गंभीरता से विचार कर रहा है। इस विचार में अभी तक पुलिस को आर्थर रोड जेल कहीं ज्यादा सुरक्षित नजर आ रही है। मुंबई पर आतंकवादी हमले के आरोपी अजमल कसाब को भी आर्थर रोड जेल की अंडा सेल में रखा गया था। इस समय इस सेल के एक हिस्से में खूंखार अपराधी अबू जिंदाल को रखा गया है, जो वहां से अपने को बाहर निकालने की गुहार लगा चुका है। यह ‘बॉम्बप्रूफ सेल’ है और इसकी सुरक्षा व्यवस्था बहुत कड़ी है। पुलिस अधिकारियों और जेल प्रशासन ने इसका निरीक्षण किया है।

मुंबई पुलिस छोटा राजन को मुंबई लाना चाहती है क्योंकि उस पर लगभग 75 मामले दर्ज हैं। इनमें जो अपराध गंभीर है इन दिनों पुलिस उनकी सूची बनाने के साथ ही उनसे जुड़े दस्तावेज इकट्ठे कर रही है। इसके लिए मुंबई पुलिस की अपराध शाखा के पांच अधिकारियों का एक दल बनाया गया है।

राजन के खिलाफ मुंबई में हत्या, हत्या के प्रयास, हफ्तावसूली, मकोका, टाडा और पोटा जैसे कानूनों के तहत मामले दर्ज हैं। उस पर एक दर्जन से ज्यादा मामलों में रेड कॉर्नर नोटिस जारी है। पुलिस ने इसके अलावा राजन टोली से जुड़े लगभग साढ़े तीन सौ गुंडों पर नजर रखने का काम भी शुरू कर दिया है। इनमें जेल में बंद राजन के करीबी डीके राव, पत्रकार जेडे की हत्या करनेवाले सतीश कालिया से लेकर विदेश में राजन का नेटवर्क चलानेवाले अबू सावंत भी शामिल हैं।

लगातार ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट्स, एनालिसिस, ब्‍लॉग पढ़ने के लिए आप हमारा फेसबुक पेज लाइक करेंगूगल प्लस पर हमसे जुड़ें  और ट्विटर पर भी हमें फॉलो करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories