scorecardresearch

मोदी-शाह और योगी की “तिकड़ी” का जिक्र कर ऐंकर पूछने लगीं सवाल, बोले कांग्रेसी सीएम- एक म्यान में नहीं रह सकती दो तलवार, देखिए कौन जाता है

एबीपी न्यूज के आइडियाज ऑफ इंडिया कार्यक्रम में बात करते हुए भूपेश बघेल ने कहा कि वो बीजेपी की पिच पर नहीं बल्कि छत्तीसगढ़ की संस्कृति पर बात करते हैं।

modi yogi amit shah up
पीएम मोदी, सीएम योगी और अमित शाह एक कार्यक्रम के दौरान (फोटो- इंडियन एक्सप्रेस)

यूपी में योगी सरकार सत्ता में वापसी कर चुकी है। योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को शपथ भी ले चुके हैं। योगी की सत्ता में वापसी के साथ ही अब बीजेपी के अंदर पावर की लड़ाई छिड़ने की आशंका जताई जा रही है। अभी तक मोदी और शाह की जोड़ी के पास पावर थी, अब उसमें योगी की एंट्री होने की बात कही जा रही है। इसी को लेकर जब एक कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल से सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि एक म्यान में दो तलवार नहीं रह सकती है।

दरअसल एबीपी न्यूज के आइडियाज ऑफ इंडिया कार्यक्रम में जब कांग्रेस नेता भूपेश बघेल से पूछा गया कि अभी तक मोदी और शाह की जोड़ी कांग्रेस को पछाड़ रही थी, अब ये मोदी और योगी आ गए हैं…। इस पर भूपेश बघेल ने कहा कि जोड़ी तो दो की ही रहेगी, अब इसमें कौन जाता है ये तो मोदी जी जानें। वहीं पीएम मोदी पर सीधा हमला बोलते हुए बघेल ने कहा कि पीएम से कुछ संभल नहीं रहा इसलिए सब कुछ बेच रहे हैं।

बघेल ने कहा- “इसका मतलब ये है कि जोड़ी तो दो की हुई, चाहे अटल-आडवाणी जी की जोड़ी, सोनिया-मनमोहन सिंह जी की जोड़ी, मोदी-शाह की जोड़ी, अब तीसरे की एंट्री कर रहे हैं तो शाह को आप खारिज कर रहे हैं?”

आगे कांग्रेस नेता ने कहा कि दोनों में से एक को ही रहना चाहिए। उन्होंने कहा- “एक म्यान में दो तलवार नहीं रहते। अब कौन जाएगा सेंटर में और सेंटर से कौन हटेगा… इसका उत्तर तो केवल मोदी जी दे सकते हैं। क्योंकि शतरंज के खिलाड़ी वो हैं, मोहरा कौन कहां बैठेगा ये तो मोदी जी तय करेंगे”।

भूपेश बघेल ने कहा कि वो बीजेपी की पिच पर नहीं बल्कि छत्तीसगढ़ की संस्कृति की बात करते हैं और लड़ते हैं। उन्होंने कहा कि वो राम के नाम पर वोट की राजनीति नहीं करते हैं। वो अपनी संस्कृति के लिए काम करते हैं। बघेल ने कहा कि उनकी योजनाओं को तो अब मोदी जी भी अपना रहे हैं। आवारा पशुओं से निजात दिलाने के लिए छत्तीसगढ़ की जो योजना है, उसे अब भाजपा यूपी में लागू करने की बात कह रही है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.