ताज़ा खबर
 

चैत्र नवरात्रि 2017: 40 साल से व्रत रख रहे हैं पीएम नरेंद्र मोदी, योगी आदित्य नाथ पहली बार गोरखपुर से बाहर कर रहे नवरात्र पूजा

प्रधानमंत्री मोदी की तरह की यूपी के नए सीएम योगी आदित्य नाथ भी है। योगी साल में दोनों बार नवरात्रि का व्रत रखते हैं और देवी मां की साधना करते हैं।

पीएम मोदी और योगी आदित्य नाथ का नवरात्रि व्रत शुरू।

हिन्दू नववर्ष और चैत्र नवरात्रि पर्व मंगलवार से प्रारंभ हो गया है। 28 मार्च मंगलवार को कलश स्थापना (घट स्थापना) के साथ 9 दिन तक आराधन का पर्व चलेगा। नवरात्र 28 मार्च से 5 अप्रैल तक चलेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्य नाथ ने हर बार की तरह इस बार भी नवरात्रि का व्रत रखा। पीएम मोदी 40 सालों से नवरात्रि का व्रत रखते आ रहे हैं। साल 2012 में पीएम नरेंद्र मोदी ने ब्लॉग के जरिए बताया था कि वह पिछले 35 सालों से यह व्रत रखते हैं। इस दौरान वह अन्न और किसी भी तरह के मसालों का सेवन नहीं करते हैं। पूरे दिन काम करने के बाद वह शाम को नीबू पानी और कुछ फल खाते हैं। पूरे नवरात्र भर उनका यही शेड्यूल रहता है। देवी मां की भक्ति के साथ पीएम मोदी इस दौरान अपना काम भी करते हैं। पीएम मोदी ने उस समय भी उपवास रखा था, जब वह 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद अमेरिका की यात्रा पर गए थे। इसके चलते उनके लिए वहां पर मीनू में बदलाव किया गया था। खाने की जगह उन्हें नींबू पानी प्रदान किया गया था।

मोदी की तरह ही योगी भी
प्रधानमंत्री मोदी की तरह की यूपी के नए सीएम योगी आदित्य नाथ भी है। योगी साल में दोनों बार नवरात्रि का व्रत रखते हैं और देवी मां की साधना करते हैं। शारदीय नवरात्र में तो योगी 9 दिनों तक किसी से मुलाकात तक नहीं करते बस एक कमरे में रहते हैं और आराधना करते हैं। नवरात्रि पर योगी रोजाना सुबह तीन बजे उठते और दुर्गा सप्तशती का पाठ करते हैं। इस दौरान वो अन्न नहीं खाएंगे, सिर्फ दूध-दही और फलाहार का ही सेवन करते हैं। इस दौरान योगी कन्या पूजन भी करते हैं। जिसमें कन्याओं के पैर धोते हैं, तिलक लगाते हैं फिर उन्हें भोजन कराते हैं।

पहली बार गोरखपुर से रहेंगे दूर
इस बार की नवरात्र में योगी पहली बार योगी आदित्य नाथ पूरे 9 दिन गोरखपुर में नहीं रहेंगे। दरअसल, सीएम बनने के बाद योगी लखनऊ स्थित सीएम हाउस, पांच कालिदास मार्ग पर नवरात्रि के दौरान रहेंगे और यहीं देवी मां की पूजा करेंगे। कहा जा रहा है कि योगी नवरात्र पर गोरखपुर जा सकते हैं। बताया जाता है कि अब तक सिर्फ एक बार ऐसा हुआ है जब योगी को गोरखपुर से बाहर जाना पड़ा था। कुछ साल पहले ट्रेन हादसे के कारण उन्हें घटनास्थल पर जाना पड़ा था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 IE 100 2017: ताकतवर भारतीयों की इंडियन एक्‍सप्रेस लिस्‍ट में नरेंद्र मोदी फिर टॉप पर, सोनिया-राहुल गांधी फिसले
2 चीन के डर से नरेंद्र मोदी सरकार ने की नेपाल से डील, 2020 तक सप्लाई करेगी 13 लाख टन के पेट्रोलियम प्रॉडक्ट्स
3 विरोध में आधार कार्ड नहीं बनवा रहे थे भाकपा सांसद डी राजा, पैन कार्ड रद्द होने के मैसेज आने लगे तो छोड़ी जिद
ये पढ़ा क्या?
X