केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने उठाईं कार्यक्रम में बोतलें, VIDEO देख लोग बोले- आया मौसम स्वच्छता का

ये वीडियो हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर से सामने आया है और अनुराग स्वच्छता अभियान के तहत प्लास्टिक की ये खाली बोतलें उठा रहे हैं।

Anurag Thakur
ये वीडियो हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर से सामने आया है और अनुराग स्वच्छता अभियान के तहत प्लास्टिक की ये खाली बोतलें उठा रहे हैं। (फोटो सोर्स- ANI)

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने ऐसा काम किया है, जिसका वीडियो चर्चा में है। दरअसल अनुराग ठाकुर एक वीडियो में कुर्सियों के नीचे से प्लास्टिक की बोतलें उठाते हुए दिखाई दे रहे हैं।

ये वीडियो हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर से सामने आया है और अनुराग स्वच्छता अभियान के तहत प्लास्टिक की ये खाली बोतलें उठा रहे हैं।

जब उनसे इस बारे में पूछा गया तो अनुराग ने जवाब दिया कि ज्यादातर ये देखा जाता है कि प्लास्टिक की चीजें जमीन पर फेंक दी जाती हैं, जिससे पर्यावरण प्रदूषित होता है। प्लास्टिक का जितना कम उपयोग हो, उतना ही अच्छा है।

उन्होंने बताया कि युवा कार्यक्रम और खेल विभाग की ओर से हमने 1 से 31 अक्टूबर तक 75 लाख किलो कूड़ा जमा करने का संकल्प लिया है।

अनुराग ठाकुर के इस वीडियो पर ट्विटर यूजर्स के खूब कमेंट्स आ रहे हैं। ट्विटर पर भव्य अग्रवाल (@Bhavya_Agarwal) नाम के यूजर ने लिखा कि प्लास्टिक की बोतल का इस्तेमाल ही क्यों करना है।

प्रवीन गर्ग (@ParveenGarg10) नाम के यूजर ने लिखा कि इन बोतलों का प्रोडक्शन ही बंद करा दीजिए, ना रहेगा बांस, ना बजेगी बांसुरी।

बता दें कि 2 अक्टूबर 2014 को एक राष्ट्रीय आंदोलन के रूप में स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत की गई थी। इस बारे में पीएम मोदी ने कहा था कि साल 2019 में महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर देश स्वच्छ भारत के रूप में सर्वश्रेष्ठ श्रद्धांजलि दे सकता है

इस पहल को सफल बनाने के लिए पीएम मोदी ने खुद झाड़ू उठाई थी और मंदिर मार्ग पुलिस स्टेशन के पास सफाई अभियान शुरू किया था। पीएम ने कहा था कि लोगों को गंदगी नहीं फैलानी चाहिए और ना ही किसी और को फैलाने देना चाहिए। इस दौरान उन्होंने ना गंदगी करेंगे, ना करने देंगे का मंत्र दिया था।

इस अभियान में कई गणमान्य लोग शामिल हुए थे, इस वजह से ये एक राष्ट्रीय आंदोलन बन गया। आम जनता के ऊपर भी इसका असर देखा गया और लोग स्वच्छ भारत मिशन के प्रति जागरुक हुए। जहां पहले कूड़े के ढेर दिखाई देते थे, वहां अब सफाई दिखने लगी।

पीएम मोदी ने स्वच्छ भारत मिशन के तहत वाराणसी के अस्सी घाट पर भी कुदाल से सफाई की थी। इस दौरान लोकल लोगों ने भी उनका हाथ बंटाया था। समाज के हर वर्ग के लोग इस पहल में आगे आए थे।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट