ताज़ा खबर
 

GST रिटर्न फाइल करने की तारीख बढ़ी, अब 26 जून तक कर सकेंगे दाखिल

केंद्रीय वित्त मंत्री की अध्यक्षता में जीएसटी परिषद ने 28 मई की बैठक में रिटर्न भरने की तारीख को बढ़ाने का फैसला किया।

केंद्र सरकार ने जीएसटी रिटर्न फाइल करने की तारीख 11 जून से बढ़ाकर 26 जून कर दी है। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

कोरोना महामारी के दौरान केंद्र सरकार ने व्यापारियों को राहत देते हुए जीएसटी रिटर्न फाइल की तारीख बढ़ा दी है। व्यापारी अब अपना रिटर्न 26 जून तक भर सकेंगे। पहले जीएसटी भरने की अंतिम तारीख 11 जून थी। जीएसटी काउंसिल की 43 मीटिंग में रिटर्न फाइल करने की तारीख को बढ़ाने का फैसला लिया गया।

केंद्रीय वित्त मंत्री की अध्यक्षता में जीएसटी परिषद ने 28 मई की बैठक में रिटर्न भरने की तारीख को बढ़ाने का फैसला किया। कोरोना महामारी को देखते हुए समय बढ़ाने का यह फैसला किया गया। केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड (सीबीआईसी) ने ट्विटर पर एक संदेश में जीएसटी परिषद द्वारा दी गई ढील की जानकारी दी। मई 2021 महीने में भेजे गए माल की आपूर्तियों का ब्यौरा जीएसटीआर-1 फॉर्म में देने की आखिरी तारीख को 15 दिनों के लिए बढ़ा दिया गया है। आखिरी तारीख अब 26 जून 2021 होगी। 

जीएसटी परिषद ने वित्तीय वर्ष 2020-21 में कम्पोजिशिन डीलर के लिए वार्षिक रिटर्न दायर करने की अंतिम तारीख में तीन महीने का विस्तार कर उसे 31 जुलाई करने को भी मंजूरी दे दी। साथ ही कंपनी अधिनियम के तहत पंजीकृत करदाताओं को 31 अगस्त, 2021 तक डिजिटल हस्ताक्षर प्रमाणपत्र (डीएससी) के बजाए इलेक्ट्रॉनिक सत्यापन कोड (ईवीसी) का इस्तेमाल कर जीएसटी रिटर्न दायर करने की मंजूरी दे दी गयी है।

इसी बीच भारत सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार के. वी. सुब्रमण्यम ने कहा कि कोरोना महामारी के बावजूद जीएसटी लगातार बढ़ रही है। के. वी. सुब्रमण्यम ने कहा कि GST पिछले साल के मुकाबले इस साल काफी बढ़ा है। पिछले साल के सितंबर महीने के बाद से GST में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। अप्रैल महीने में GST में रिकॉर्ड बढ़ोतरी हुई है। 

बीते शुक्रवार को जीएसटी परिषद् की हुई मीटिंग में व्यापारियों को राहत देने वाले कई फैसले किए गए। मीटिंग में  पांच करोड़ रुपए तक के कारोबारी करदाताओं को राहत देते हुए देर से रिटर्न दाखिल करने पर ब्याज में छूट देने का फैसला लिया गया है। इसके अलावा शिपिंग क्षेत्र में जहाजों की मरम्मत से जुड़ी सेवाओं पर जीएसटी घटाकर 18 फीसदी से 5 फीसदी कर दिया गया है।(भाषा इनपुट्स के साथ)

Next Stories
1 केंद्र सरकार से सब एकजुट होकर मुफ्त वैक्सीन की मांग करो, पिनराई विजयन ने 11 गैर-भाजपा मुख्यमंत्रियों को लिखा पत्र
2 PF नियमों में बदलावः कोविड का हवाला दे अब निकाली जा सकेगी रकम, जानें ब्योरा
3 वकील का दावा-सरकार मेहुल चौकसी को भारत नहीं ला पाएगी
ये पढ़ा क्या?
X