ताज़ा खबर
 

फोटो खींचने का आरोप लगाकर पाकिस्तानी कोर्ट ने भारतीय राजनयिक का जब्त किया मोबाइल

पाक मीडिया का कहना है कि भारतीय अधिकारी की ओर से लिखित माफी के बाद ही उसे मोबाइल लौटाया गया।

भारतीय अधिकारी पर अदालत में तस्वीरें खीचने का आरोप लगाया।

पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में एक भारतीय अधिकारी का मोबाइल जब्त कर लिया गया। ये घटना शुक्रवार (12मई) की है। पूरा वाकया इस्लामाबाद हाईकोर्ट में हुआ। दरअसल पाकिस्तान में भारतीय उच्चायुक्त के प्रथम सचिव पीयूष सिंह उजमा केस में हाईकोर्ट में याचिका दायर करने गये थे। पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक जब इस मामले की अदालत में सुनवाई हो रही थी तभी पीयूष सिंह जज की तस्वीरें खीचने की कोशिश कर रहे थे। पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक जब पाकिस्तानी अधिकारियों ने इस बात की जानकारी जज को दी उसने इस भारतीय अधिकारी का मोबाइल जब्त कर लेने के लिए कहा क्योंकि ऐसा करना अदालत की मर्यादा का उल्लंघन था। पाक मीडिया का कहना है कि भारतीय अधिकारी की ओर से लिखित माफी के बाद ही उसे मोबाइल लौटाया गया।

क्या है उजमा मामला

बता दें उजमा एक भारतीय महिला है, जो एक पाकिस्तानी नागरिक से शादी करने इस्लामाबाद गई थी। लेकिन बाद में पता चला कि ताहिर अली नाम का ये शख्स शादी शुदा था। उजमा ने आरोप लगाया कि इस शख्स ने बंदूक की नोक पर उससे शादी की। उजमा ने इस्लामाबाद हाई कोर्ट में इस शख्स के खिलाफ याचिका दायर की है। उजमा ने आरोप लगाया कि ये शख्स उसे प्रताडित करता था और उसके सारे दस्तावेजों को भी छीन लिया गया था। उजमा ने इस्लामाबाद स्थित भारतीय दूतावास से इस मामले में मदद मांगी थी। भारतीय दूतावास ने उजमा को शरण दी है। शुक्रवार को इसी मामले की सुनवाई इस्लामाबाद हाई कोर्ट में हुई। भारत के ऑफिसर पीयूष सिंह ने उजमा की ओर से याचिका दायर कर पाकिस्तान सरकार से डुप्लीकेट आव्रजन दस्तावेज जारी करने की मांग की है, साथ ही अदालत से उजमा की सुरक्षा की भी मांग की गई है। उजमा ने कहा है कि उसे पांच साल की अपनी बीमार बेटी से मिलने के लिए भारत जाना है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App