ताज़ा खबर
 

कोरोना योद्धाओं का आभार जताने के लिये सशस्त्र बल करेंगे फ्लाई पास्ट, अस्पतालों पर बरसाएंगे फूल

वायुसेना के लड़ाकू विमान तीन मई की शाम को फ्लाई-पास्ट में भाग लेंगे, सीडीएस ने कहा कि नौसेना के हेलीकॉप्टर कोविड-19 रोगियों का इलाज कर रहे अस्पतालों पर फूल बरसाएंगे।

Author नई दिल्ली | Updated: May 1, 2020 11:17 PM
सीडीएस जनरल बिपिन रावत।

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत ने शुक्रवार को कहा कि सशस्त्र बल फ्लाई-पास्ट के जरिए कोविड-19 रोगियों के इलाज में जुटे अस्पतालों पर फूल बरसा कर और नौसेना के जहाजों को प्रकाशमान कर ‘कोरोना योद्धाओं’ के प्रति आभार जताएंगे।

सेना के तीनों अंगों (थल सेना, वायुसेना और नौसेना) के प्रमुखों के साथ एक विशेष संवाददाता सम्मेलन में जनरल रावत ने कहा कि कोरोना वायरस संकट से निपटने के लिये राष्ट्र एकजुटता के साथ खड़ा है और इस महामारी से शीघ्र उबरने की क्षमता प्रदर्शित की है। उन्होंने कहा, “हम उन सभी ‘कोरोना योद्धाओं’ का आभार प्रकट करते हैं, जो हमें सुरक्षित रखने के लिये कड़ी मेहनत कर रहे हैं।” सीडीएस ने कहा कि भारतीय वायुसेना ‘कोरोना योद्धाओं’ के प्रति आभार प्रदर्शित करने के लिये तीन मई को देशभर में ‘फ्लाई- पास्ट’ करेगी।

बिहार से जुड़ी कोरोना की सभी खबरें जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

संवाददाता सम्मेलन में सीडीएस जनरल रावत के साथ थल सेना प्रमुख एम एम नरवणे, नौसेना प्रमुख एडमिरल कर्मबीर सिंह और वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आर केएस भदौरिया भी उपस्थित थे। जनरल रावत ने कहा कि वायुसेना ‘कोरोना योद्धाओं’ को धन्यवाद देने के लिये श्रीनगर (जम्मू कश्मीर) से तिरूवनंतपुरम (केरल) तक और डिब्रूगढ़ (असम) से लेकर कच्छ (गुजरात) तक ‘फ्लाई-पास्ट’ करेगी। वायुसेना के लड़ाकू विमान तीन मई की शाम को फ्लाई-पास्ट में भाग लेंगे। सीडीएस ने कहा कि नौसेना के हेलीकॉप्टर कोविड-19 रोगियों का इलाज कर रहे अस्पतालों पर फूल बरसाएंगे।
Follow Jansatta Covid-19 tracker

जनरल रावत ने कहा कि थल सेना लगभग प्रत्येक जिले में कुछ कोविड-19 अस्पताल के सामने माउंटेन बैंड का प्रदर्शन करेगी, जबकि नौसेना के जहाज ‘कोरोना योद्धाओं’ का आभार जताने के लिये विशेष अभ्यास करेंगे और जहाजों को प्रकाशमान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सशस्त्र बल उन लोगों के पीछे मजबूती से खड़ा है, जो कोरोना वायरस महामारी से लड़ रहे हैं। जनरल रावत ने जोर देते हुए कहा कि कोविड-19 के चलते कोई अभियान कार्य प्रभावित नहीं हुआ है और न प्रभावित होगा। उन्होंने कहा कि इस निष्कर्ष पर पहुंचना उचित नहीं है कि कोरोना वायरस महामारी जैविक (बायोलॉजिकल) युद्ध का परिणाम है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Video: ओवैसी के पार्षद मुर्तजा अली ने लाइव शो में एंकर को धमकाया, मुझे गुंडा मत कहो अपनी जुबान पर लगाम दो
2 MHA Lockdown 3.0 Guidelines: रेड जोन को राहत नहीं; ऑरेंज जोन में कैब को मंजूरी, ‘2 गज की दूरी’ के साथ ग्रीन जोन में खुलेगी शराब की दुकानें
3 COVID-19 संकटः तीसरी बार लॉकडाउन बढ़ने के बाद रेल मंत्रालय ने किया साफ- 17 मई तक सभी यात्री ट्रेनें रद्द