ताज़ा खबर
 

सीबीएसई पेपर लीक: 12वीं की स्टूडेन्ट का दावा- पुलिस को बताया, पीएम को लिखा, फिर भी एक्शन नहीं

सीबीएसई के पेपर लीक मामले में 12वीं की एक छात्रा ने दावा किया है कि उसने पुलिस में इसकी शिकायत की और प्रधानमंत्री को पत्र लिखा, लेकिन इस बारे में कोई कार्रवाई नहीं की गई। पंजाब के लुधियाना की 12वीं की छात्रा जाह्नवी ने बहल ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया- ''मैंने कुछ अन्य छात्रों और एक शिक्षक के साथ पेपर...

12वीं की छात्रा जाह्नवी बहल। (फोटो सोर्स- एएनआई)

सीबीएसई के पेपर लीक मामले में 12वीं की एक छात्रा ने दावा किया है कि उसने पुलिस में इसकी शिकायत की और प्रधानमंत्री को पत्र लिखा, लेकिन इस बारे में कोई कार्रवाई नहीं की गई। पंजाब के लुधियाना की 12वीं की छात्रा जाह्नवी ने बहल ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया- ”मैंने कुछ अन्य छात्रों और एक शिक्षक के साथ पेपर लीक होने का पता लगाना शुरू किया और उन लोगों से संपर्क किया जो व्हॉट्सएप के जरिये पेपर लीक कर रहे थे। हमने इसकी शिकायत पुलिस में की लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई।” जाह्नवी ने यह भी बताया- ”मैंने प्रधानमंत्री को भी पेपर लीक के बारे में 17 मार्च को एक पत्र लिखा, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिन लोगों ने पेपर लीक किया, उन्हें पकड़ा जाना चाहिए।” सीबीएसई की 10वीं के गणित और 12वीं के इकोनॉमिक्स के पेपर लीक होने की खबर आने के बाद से हड़कंप मचा है। राजधानी दिल्ली में आक्रोशित छात्रों का भारी विरोध प्रदर्शन देखा जा रहा है। मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने इस मामले को लेकर सत्तारूढ़ मोदी सरकार को घेर लिया है और छात्र शाखा एनएसयूआई के छात्र भी नाराज सीबीएसई छात्रों के साथ विरोध प्रदर्शन में हिस्सा ले रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के घर के बाहर धारा 144 तक लगानी पड़ी। दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा की टीम ने  गूगल से जानकारी मांगी है कि वह उस मेल की पूरी जानकारी दे जिससे पेपर लीक होने के बारे में खबर दी गई थी। लीक पेपर के बारे में जीमेल आईडी से सीबीएसई के चेयरमैन को मेल भेजा गया था और उसमें हाथ से लिखे प्रश्नपत्रों की तस्वीरें भी संलग्न की गई थीं। पुलिस उन व्हॉट्सएप ग्रुप्स को भी खंगाल रही है जिनमें पेपर शेयर किए गए थे। इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पेपर लीक मामले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जोरदार तंज कसा है।

राहुल गांधी ने पीएम और उनकी किताब की तस्वीर को ट्वीट करते हुए लिखा है- ”प्रधानमंत्री ने एग्जाम वॉरियर्स लिखी, एक किताब जो परीक्षाओं के दौरान छात्रों को तनाव दूर करने की सीख देती है। अब उन्हें इसका दूसरा भाग एग्जाम वॉरियर्स 2 लिखना चाहिए, एक किताब जो छात्रों और उनके माता-पिता को पेपर लीक होने कारण बर्बाद हुई जिंदगी के तनाव को दूर करना सिखाएगी।” इसी बीच खबर यह भी है कि 12वीं के इकोनॉमिक्स की परीक्षा अब 25 अप्रैल को होगी, और 10वीं के पेपर की परीक्षा जांच के बाद जरूरत महसूस होने पर दिल्ली और हरियाणा में दोबारा कराई जाएगी। 10वीं की परीक्षा के लिए एलान 15 दिनों में होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App