ताज़ा खबर
 

एकांतवास नियमों से सीडीएस का साक्षात्कार देने वाले उम्मीदवार दुखी

अलीगढ़ के रहने वाले अरुण (बदला हुआ नाम) ने ट्विटर पर लिखा कि मैं बहुत गरीब परिवार से हूं। मैं 14 दिन रहने का खर्च नहीं उठा सकता हूं। कृपया मेरी मदद कीजिए। उन्होंने अपने ट्वीट में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और प्रधानमंत्री कार्यालय को टैग किया है। दरअसल उनका साक्षात्कार कपूरथला में होना है।

CDS, CORONA VIRUSदेश की संयुक्त रक्षा सेवाओं में जाने वाले छात्रों के साक्षात्कार से पहले एकांतवास के नियम से परेशानी खड़ी हो गई है।

संयुक्त रक्षा सेवा (सीडीएस) परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले उम्मीदवारों को कपूरथला, बंगलुरु, भोपाल, इलाहाबाद आदि शहरों में सेवा चयन बोर्ड (एसएसबी) में साक्षात्कार देना है। लेकिन कोरोना विषाण्ुा संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए विभिन्न राज्यों की ओर से लागू एकातंवास के नियमों से उम्मीदवार परेशान हैं। कई उम्मीदवारों ने अपनी समस्या का इजहार सोशल मीडिया पर भी किया है। इस वजह से कुछ ने साक्षात्कार छोड़ भी दिया है।

कर्नाटक ने अन्य राज्य से आने वाले सभी लोगों को 14 दिन के गृह एकांतवास में रहना अनिवार्य किया हुआ है। इस नियम को देखते हुए सेवा चयन बोर्ड ने बंगलुरु में आयोजित होने वाले साक्षात्कारों को 15 दिन आगे कर दिया है। इस संबंध में वेबसाइट पर नोटिस भी जारी किया गया है। नोटिस में कहा गया है कि कर्नाटक सरकार की ओर से जारी एकांतवास के संशोधित नियमों की वजह से ऐसा किया जा रहा है।

नई सूचना के मुताबिक बंगलुरु में आठ से 12 जुलाई तक होने वाले साक्षात्कार अब 23 से 27 जुलाई तक और छह से दस जुलाई तक होने वाले साक्षात्कार अब 21 से 25 जुलाई तक होंगे। इतना ही नहीं साक्षात्कार देने आने वाले उम्मीदवारों को साक्षात्कार से 48 घंटे पहले कोरोना मुक्त होने का प्रमाणपत्र भी लाकर देना है। उम्मीदवारों का कहना है कि एक दिन के काम के लिए हमें 14 दिन पहले बंगलुरु पहुंचना होगा। इसके बाद हमें अपने खर्चे पर ही वहां रुकना होगा जो अधिकतर उम्मीदवारों के लिए आसान नहीं है। इसके बाद 48 घंटे पहले कोरोना जांच की रिपोर्ट कहां से मिलेगी जबकि देश में सामान्य लोगों की जांच ही नहीं हो रही है।

अलीगढ़ के रहने वाले अरुण (बदलाव हुआ नाम) ने ट्विटर पर लिखा कि मैं बहुत गरीब परिवार से हूं। मैं 14 दिन रहने का खर्च नहीं उठा सकता हूं। कृपया मेरी मदद कीजिए। उन्होंने अपने ट्वीट में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और प्रधानमंत्री कार्यालय को टैग किया है। दरअसल उनका साक्षात्कार कपूरथला में होना है। फोन पर अरुण ने बताया कि हमारे सामने बहुत बड़ी समस्या आकर खड़ी हो गई है। उन्होंने बताया कि उनके कुछ दोस्त इसी वजह से अपना साक्षात्कार छोड़ भी चुके हैं।

इंस्टाग्राम पर एक उम्मीदवार ने लिखा है कि कर्नाटक सरकार को चाहिए कि वह एसएसबी का साक्षात्कार देने आने वाले उम्मीदवारों के लिए 14 दिन के अनिवार्य एकातंवास के नियम को बदला जाए ताकि हम आसानी से साक्षात्कार दे सकें। दरअसल, एसएसबी का साक्षात्कार चार दिनों तक चलता है लेकिन उनमें से 80 फीसद उम्मीदवारों का कार्य पहले दिन में ही खत्म हो जाता है। सीडीएस परीक्षा का परिणाम 23 मार्च को घोषित किया गया था जिसमें 7081 उम्मीदवारों को साक्षात्कार के लिए योग्य माना गया था।

कुछ ने साक्षात्कार छोड़ा
नई सूचना के मुताबिक बंगलुरु में आठ से 12 जुलाई तक होने वाले साक्षात्कार अब 23 से 27 जुलाई तक और छह से दस जुलाई तक होने वाले साक्षात्कार अब 21 से 25 जुलाई तक होंगे। इतना ही नहीं साक्षात्कार देने आने वाले उम्मीदवारों को साक्षात्कार से 48 घंटे पहले कोरोना मुक्त होने का प्रमाणपत्र भी लाकर देना है। उम्मीदवारों का कहना है कि एक दिन के काम के लिए हमें 14 दिन पहले बंगलुरु पहुंचना होगा। इसके बाद हमें अपने खर्चे पर ही वहां रुकना होगा जो अधिकतर उम्मीदवारों के लिए आसान नहीं है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मुसीबत: भर गए कूड़ा घर, कोरोना अस्पताल बना कचरा घर; रोजाना निकल रहा है करीब 1200 किलो कचरा
2 संयुक्त राष्ट्र संघ: भारत की सुरक्षा परिषद में प्राथमिकता की प्रतिध्वनि, संरा की 75वीं सालगिरह के घोषणा पत्र में मिलेगी
3 भारत में 2021 की सर्दियों में रोजाना आ सकते हैं 2.87 लाख मामले : एमआइटी
ये पढ़ा क्या?
X