ताज़ा खबर
 

VIDEO: आईबी के कार्यक्रम में गडकरी ने की नेहरू की तारीफ, कहा- उनके भाषण मुझे बहुत पसंद हैं

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने सोमवार (24 दिसंबर, 2018) को ये भी कहा कि सहिष्णुता भारतीय संस्कृति का महत्त्वपूर्ण अंग है जिसने कई देशों से पलायन करके आए लोगों को अपने यहां आसरा दिया है।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी। (पीटीआई फाइल फोटो)

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री नितिन गडकारी ने इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) एक कार्यक्रम में देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की तारीफ की। सड़क परिवहन और राजमार्ग, जहाजरानी, जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री ने कहा कि उन्हें नेहरू के भाषण बहुत पसंद हैं। न्यूज एजेंसी एएनआई ने उनके भाषण का एक छोटा सा अंश भी साझा किया है। इसमें वह कह रहे हैं, ‘समाज से लोग बोलते हैं देश में ऐसा हो रहा है, वैसा हो रहा है। देश का मतलब क्या है? एक समाज… और समाज का मतलब है अनेक व्यक्ति। सिस्टम को सुधारने के लिए दूसरे की तरफ उंगली क्यों करें, अपनी तरफ क्यों नहीं करते।’

अपने भाषण में नेहरू की तारीफ करते हुए उन्होंने आगे कहा, ‘भारत एक राष्ट्र नहीं है, यह एक जनसंख्या है। दूसरी बात वो (नेहरू) कहते थे कि देश का हर एक व्यक्ति प्रश्न है, समस्या है। उनके यह भाषण मुझे बहुत पसंद हैं। मैं इतना तो कर सकता हूं कि मैं देश के सामने समस्या नहीं रखूंगा। अगर सब लोगों ने यह तय किया कि मैं समस्या नहीं रहूंगा तो भी तो आधे प्रश्न सुलझाए जांएगे। दूसरी बात एक यह है कि मेरे किसी ने अन्याय किया होगा और मैं दूसरे के साथ अन्याय नहीं करुंगा।’

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने सोमवार (24 दिसंबर, 2018) को ये भी कहा कि सहिष्णुता भारतीय संस्कृति का महत्त्वपूर्ण अंग है जिसने कई देशों से पलायन करके आए लोगों को अपने यहां आसरा दिया है। जानना चाहिए कि उनका यह बयान ऐसे समय में आया जब देश में भीड़ हिंसा पर नसीरुद्दीन शाह के बयान को लेकर चर्चा गर्म है। आईबी के 31वें कार्यक्रम को संबोधित करते हुए गडकरी ने कहा कि एकता और विविधता भारतीय संस्कृति का अभिन्न अंग हैं और सामाजिक-आर्थिक बदलाव के लिए राजनीति एक माध्यम है।

यहा देखें वीडियो-

Next Stories
1 रामसेतु के शुरुआती पड़ाव तक जाएगी ट्रेन, रामेश्‍वरम से धनुषकोडी के बीच नई रेलवे लाइन को हरी झंडी
2 मोहम्‍मद कैफ ने लगाई इमरान खान की क्‍लास, कहा- हमें लेक्‍चर न दे पाकिस्‍तान
3 क्रिश्‍च‍ियन मिशेल का दावा- यूपीए की बैठकों तक थी पहुंच, रक्षा बैठकों की भी रखता था जानकारी, प्रधानमंत्री पर बनाता था दबाव
ये पढ़ा क्या?
X