ताज़ा खबर
 

कैब रेप कांड: NSA की रडार पर कैब कंपनियां

राजधानी दिल्ली में हुए कैब रेप कांड ने केंद्र सरकार को सख्त रवैया अपनाने पर मजबूर कर दिया है। इस कांड पर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने एक आपातकालीन बैठक बुला ली है। सूत्रों की मानें तो एनएसए अजीत डोभाल इस बैठक में पुलिस अधिकारियों और अन्य संबंधित विभाग के जिम्मेदार लोगों से बात करेंगे। ख़बर […]

Author December 9, 2014 12:43 PM
कैब रेप कांड ने केंद्र सरकार को सख्त रवैया अपनाने पर मजबूर कर दिया

राजधानी दिल्ली में हुए कैब रेप कांड ने केंद्र सरकार को सख्त रवैया अपनाने पर मजबूर कर दिया है। इस कांड पर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने एक आपातकालीन बैठक बुला ली है। सूत्रों की मानें तो एनएसए अजीत डोभाल इस बैठक में पुलिस अधिकारियों और अन्य संबंधित विभाग के जिम्मेदार लोगों से बात करेंगे।

ख़बर है कि इन सब प्रयासों के बीच केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी की ओर से भी बयान आया है। गडकरी ने कैब पर लगाई गई रोक को कथित तौर पर गलत बताया है। गडकरी ने कहा है कि रेल, बस या कैब पर रोक लगाने से लोगों को दिक्कत हो सकती है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जो भी जरूरी सुधारों की जरूरत है उन्हें किया जाएगा।

सूत्रों के मुताबिक सभी ऐप से संचालित कैब कंपनियों को सरकार ने अपने रडार पर ले लिया है। यही नहीं मुंबई पुलिस कमिश्नर ने भी इस मामले के बाद अब वहां चलने वाली कैब कंपनियों की जांच शुरू कर दी गई है।

चालकों के चरित्र की जांच की जा रही है। सूत्रों का कहना है कि राज्यसभा में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह आज इस मसले पर अपना बयान दे सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App