ताज़ा खबर
 

CAA विवादः शाहीन बाग में गर्माने वाला है माहौल? 50 दिन से ज्यादा से ब्लॉक कर रखा है रास्ता; मौके पर RAF टीम की तैनाती

दिल्ली पुलिस का कहना है कि शाहीन बाग में RAF की गाड़ियां तैनात होना रूटीन के तौर पर उठाया गया कदम है।

Shaheen Bagh, CAA.NRC50 दिन से ज्यादा रास्ता ब्लॉक होने के बाद मौके पर RAF की तैनाती भी कर दी गई है।

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हो रहे शाहीन बाग में प्रदर्शन को लेकर माहौल और तल्ख होता नजर आ रहा है। 50 दिन से ज्यादा रास्ता ब्लॉक होने के बाद मौके पर RAF की तैनाती भी कर दी गई है। कयास लगाए जा रहे हैं कि प्रदर्शनकारियों को हटाने की तैयारी चल रही है। वहीं, दिल्ली पुलिस का कहना है कि शाहीन बाग में RAF की गाड़ियां तैनात होना रूटीन के तौर पर उठाया गया कदम है।

शाहीन बाग में सड़क खाली कराने के लिए खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की जा चुकी है। सुप्रीम कोर्ट में यह याचिका दिल्ली हाईकोर्ट के उस आदेश के खिलाफ दायर की गई है, जिसमें न्यायलय का कहना ता कि दिल्ली पुलिस इस मामले पर जनहित को ध्यान में रखते हुए कार्रवाई करे।

इसके अलावा पीएम मोदी ने दिल्ली विधानसभा  चुनाव की अपनी पहली रैली में प्रदर्शनकारियों को निशाने पर लिया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को कहा कि सीलमपुर, जामिया नगर और शाहीन बाग में सीएए विरोधी प्रदर्शन महज संयोग नहीं हैं बल्कि एक राजनीतिक षड्यंत्र हैं ताकि देश के सौहार्द को नुकसान पहुंचाया जा सके। उन्होंने आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पर प्रदर्शनों को भड़काने के आरोप लगाए।पूर्वी दिल्ली के कड़कड़डूमा में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने आरोप लगाए कि आप और कांग्रेस लोगों को उकसा रहे हैं और उन्हें गलत सूचनाएं दे रहे हैं।

दिल्ली में आठ फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले मोदी ने कहा कि वे संविधान और तिरंगे को आगे रख रहे हैं लेकिन उनका उद्देश्य ‘‘वास्तविक षड्यंत्र से ध्यान भटकाना है।’’ शाहीन बाग में प्रदर्शन का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि नोएडा से आने-जाने वाले लोगों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा, ‘‘दिल्ली के लोग चुप हैं और गुस्से से इस वोट बैंक की राजनीति को देख रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर षड्यंत्र करने वालों की संख्या बढ़ती है तो दूसरी सड़कों या मार्गों को जाम किया जाएगा। हम दिल्ली को इस तरह की अराजकता के लिए नहीं छोड़ सकते। दिल्ली के लोग ही इसे रोक सकते हैं। भाजपा को दिए गए हर वोट से यह हो सकता है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘चाहे सीलमपुर हो, जामिया (नगर) या शाहीन बाग, कई दिनों से संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन हो रहे हैं। क्या ये प्रदर्शन संयोग हैं? नहीं, ये संयोग नहीं बल्कि एक प्रयोग हैं।’’ मोदी ने कहा कि प्रदर्शनों के पीछे राजनीतिक षड्यंत्र है जिसका उद्देश्य देश के सौहार्द को खराब करना है।

(भाषा इनपुट्स के साथ

)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Delhi Elections 2020: भारत में नौकरी ही नहीं है, इसलिए अफगान लोगों को नहीं चाहिए यहां की नागरिकता
2 J&K: जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े 4 संदिग्ध पुलवामा से अरेस्ट, आतंकियों के बन चुके हैं मददगार!
3 मोदी सरकार के प्रस्तावित विनिवेश के फैसले के खिलाफ LIC Unions लामबंद, 4 फरवरी को करेंगे राष्ट्रव्यापी हड़ताल
यह पढ़ा क्या?
X