ताज़ा खबर
 

सीनियर पत्रकार पर चर्चा में भड़के इतिहासकार रामचंद्र गुहा, कहा- मुद्दे से खेलिए मत; मोदी-शाह के लिए कह दी ये बात

मशहूर इतिहासकार बोले- मोदी और शाह जो इस वक्त कर रहे हैं, उससे गांधी और अंबेडकर (अगर होते) को भी शर्म आ जाती।

मशहूर इतिहासकार रामचंद्र गुहा। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः पार्था पॉल)

जाने-माने इतिहासकार रामचंद्र गुहा गुरुवार को Citizenship Amendment Act (CAA) पर टीवी शो में चर्चा के दौरान सीनियर पत्रकार राजदीप सरदेसाई पर बुरी तरह भड़क उठे। उन्होंने फौरन टोकते हुए कहा कि आप लोग मुद्दे से खेलिए मत…। यह ठीक बात नहीं है। यही नहीं, गुहा ने इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह का जिक्र भी किया। कहा- मोदी-शाह जो इस वक्त कर रहे हैं, उससे गांधी और अंबेडकर (अगर होते) को भी शर्म आ जाती।

दरअसल, गुहा मोदी सरकार के डराने वाले तानाशाही रवैये का जिक्र कर रहे थे। इसी पर राजदीप ने धुव्रीकरण की राजनीति से जुड़ा सवाल पूछा था। इतिहासकार ने उन्हें यही टोका और कहा- नहीं, आपका सवाल दर्शाता है कि आप इस मुद्दे से खेल रहे हैं। कम से कम यहां तो जिम्मेदार बनिए, मेरी अपील है। आप लोगों (मीडिया) को देश को विभाजित करने के लिए गलती महसूस होगी। आप लोग देश को बांट रहे हैं, बर्बाद कर रहे हैं। आप कृपया इस तरह की चीजें न करें। यह गलत है।

केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, “दिल्ली में बैठे लोग असल टुकड़े-टुकड़े गैंग है। वे ही देश को बांट रहे हैं। वे हम सब पर हिंदी भी थोपना चाहते हैं। एक नेता को थोपना चाहते हैं।” सुनें, मोदी-शाह के लिए उन्होंने चर्चा के बीच क्या कहा-

बता दें कि गुहा गुरुवार को दिन में CAA के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान बेंगलुरू में हिरासत में लिए गए थे। टाउन हॉल क्षेत्र में उन्हें सहित बाकी लोगों को पुलिस ने धारा 144 का उल्लंघन करने के आरोप में हिरासत में लिया था। पुलिसकर्मी गुहा को अपने साथ पास में ही खड़े वाहन तक ले कर गए। पुलिस के अनुसार, इन लोगों ने शहर में प्रदर्शनों के खिलाफ लगी निषेधाज्ञा का उल्लंघन किया।

खुद को हिरासत में लिए जाने पर गुहा ने कहा कि यह ‘‘बिल्कुल अलोकतांत्रिक है’’ कि पुलिस शांतिपूर्ण तरीके से भी प्रदर्शन नहीं करने दे रही है, जबकि यह नागरिकों का मौलिक अधिकार है। भाकपा ने भी शहर में सीएए और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 CAA विवादः लखनऊ हिंसा में एक की गई जान, 55 गिरफ्तार; मेंगलुरू प्रदर्शन में भी दो की मौत
2 VIDEO: डिबेट में बोले BJP प्रवक्ता- मच्छर मारने को नहीं मिलीं 303 सीटें, गौरव वल्लभ ने लिए मजे- जरा कूद के बताएं, कैसे किया ड्रामा?
3 CAA का हिस्सा है NRC और क्या होगा जब किसी निरक्षर के पास नहीं होंगे जरूरी दस्तावेज? फैक्ट शीट में दिए गए भ्रमों के जवाब; देखें
ये पढ़ा क्या?
X