ताज़ा खबर
 

सुप्रीम कोर्ट से हमें निराशा है, मानवाधिकार की याचिकाएं नहीं सुनी जा रही हैं, CAA, NRC के खिलाफ प्रदर्शन कर रही लॉ स्टूडेंट्स ने बताया लोकतंत्र का मतलब

"लोकतंत्र का नाम लेकर उसे बर्बाद किया जा रहा है। यहां लोकतंत्र नहीं है। लोकतंत्र वो नहीं होता, जो आप (सरकार) सुनना चाहते हो, बल्कि वो होता है, जो हम कहना चाहते हैं। आपके मन की बात नहीं, हमारे मन की बात।"

CAA ProtestCAA के खिलाफ देश के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन जारी हैं। (PTI Photo)

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ देश के अलग-अलग हिस्सों में विरोध प्रदर्शन जारी हैं। कई युवा छात्र-छात्राएं सरकार के खिलाफ मुखर होकर बयानबाजी कर रहे हैं। ऐसी ही लॉ स्टूडेंट ने केन्द्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। छात्रा ने देश में लोकतंत्र की स्थिति पर निराशा जाहिर की और सुप्रीम कोर्ट के प्रति भी निराशा जाहिर की। छात्रा ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट से हमें निराशा है, क्योंकि हमारी रिट याचिकाएं नहीं सुनी जा रही हैं। लॉ स्टूडेंट का एक वीडियो सामने आया है, जिसे सोशल मीडिया पर काफी देखा जा रहा है।

छात्रा वीडियो में कहती दिखाई दे रही है कि “लोकतंत्र का नाम लेकर उसे बर्बाद किया जा रहा है। यहां लोकतंत्र नहीं है। लोकतंत्र वो नहीं होता, जो आप (सरकार) सुनना चाहते हो, बल्कि वो होता है, जो हम कहना चाहते हैं। आपके मन की बात नहीं, हमारे मन की बात।” छात्रा ने कहा कि लोकतंत्र लोगों के लिए हैं। सत्ता तो आज है कल नहीं रहेगी, लेकिन ये देश रहेगा।

लोकतंत्र कुछ लोगों या केवल अपने समर्थकों के लिए नहीं होती। सरकार देश के सभी लोगों के लिए काम करती है। छात्रा ने देश के बिगड़ते आर्थिक हालात के मुद्दे पर भी सरकार ने घेरा और कश्मीर के हालात को लेकर भी चिंता जाहिर की।

छात्रा ने कश्मीर मुद्दे पर बोलते हुए कहा कि “कल जब लोग बोलेंगे कि क्या भारत के लोग सो रहे थे, जब उनके अपने ही लोग तकलीफ में थे, तो हम जैसे कुछ कह सकेंगे कि हमने अपनी तरफ से प्रयास किया था। चाहे हमसे आग नहीं बुझ रही थी, लेकिन हम उसमें अपने हाथ भी नहीं सेक रहे थे।”

छात्रा ने कहा सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि आप अपनी संसद चलाइए, लेकिन हमारे पास न्यायपालिका है। हालांकि सुप्रीम कोर्ट से हमें निराशा हुई है। मानवाधिकार याचिकाएं नहीं सुनी जा रही हैं। जजों को संबोधित करते हुए प्रदर्शनकारी छात्रा ने कहा कि सारी दुनिया आपको याद रखेगी आगे, क्योंकि यदि कोर्ट हमारी नहीं सुनेगा तो कौन सुनेगा?

Next Stories
1 CAA वापस नहीं लिया तो अमित शाह को कोलकाता एयरपोर्ट के बाहर कदम नहीं रखने देंगे; जमीयत उलेमा हिंद ने चेताया
2 भारत में मुस्लिमों पर लागू नहीं होगा नागरिकता कानून, नितिन गड़करी बोले- देश में अल्पसंख्यकों के साथ नहीं होने देंगे अन्याय
3 Citizenship Act पर दो लाइन बोल के दिखाएं राहुल गांधी, कैसे देश को होगा नुकसान; JP नड्डा का हमला
ये पढ़ा क्या?
X