ताज़ा खबर
 

Delhi Violence: दिल्ली हाई कोर्ट ने कहा- शहर जल रहा है, करनी होगी कड़ी कार्रवाई

Delhi Violence, CAA Protest Today: हिंसा में अब तक 24 लोगों की मौत हो चुकी है और 250 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। इस दौरान पुलिस की भूमिका पर भी सवाल उठ रहे हैं।

Author Edited By मोहित नई दिल्ली | Updated: Feb 27, 2020 7:13:32 am
दिल्ली हिंसा के दौरान पुलिसकर्मियों से बात करती एक महिला। (REUTERS)

Delhi Violence, CAA Protest: दिल्ली में सीएए विरोधी हिंसा में 27 लोगों की मौत पर दिल्ली हाई कोर्ट ने बुधवार को गृह मंत्रालय को नोटिस जारी किया। पुलिस कमिश्नर को हिंसा से जुड़े भड़काऊ भाषण से जुड़े वीडियो देखने के निर्देश जारी किए गए हैं। कोर्ट ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से कल (गुरुवार) तक जवाब मांगा है।

दिल्ली में हिंसा की घटनाओं के बाद अपनी पहली प्रतिक्रिया में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोगों से शांति एवं भाईचारा बनाये रखने की अपील की। प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने राष्ट्रीय राजधानी में वर्तमान स्थिति की गहन समीक्षा की है । उन्होंने कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि जल्दी शांति एवं सामान्य स्थिति बहाल हो।

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘ दिल्ली के विभिन्न हिस्सों में वर्तमान हालात की गहन समीक्षा की । पुलिस एवं अन्य एजेंसियां सामान्य स्थिति सुनिश्चित करने के लिये काम कर रही हैं ।’’ राष्ट्रीय राजधानी में स्थिति नियंत्रित करने का काम राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को दिया गया है।

 

दिल्ली हिंसा से जुड़ी सभी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

Live Blog

Highlights

    07:07 (IST)27 Feb 2020
    पीएम ने की शांति बनाए रखने की अपील

    दिल्ली में हिंसा की घटनाओं के बाद अपनी पहली प्रतिक्रिया में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोगों से शांति एवं भाईचारा बनाये रखने की अपील की। प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने राष्ट्रीय राजधानी में वर्तमान स्थिति की गहन समीक्षा की है । उन्होंने कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि जल्दी शांति एवं सामान्य स्थिति बहाल हो।

    22:01 (IST)26 Feb 2020
    दिल्ली हिंसा की जिम्मेदारी तय करने के लिए न्यायिक जांच होनी चाहिए: कर्ण सिंह

    कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कर्ण सिंह ने बुधवार को कहा कि दिल्ली के हिंसाग्रस्त क्षेत्रों में शांति लाने के लिए अगर जरूरत हो तो सेना तैनात की जानी चाहिए और स्थिति सामान्य होने के बाद जिम्मेदारी तय करने के लिए न्यायिक जांच होनी चाहिए।

    21:22 (IST)26 Feb 2020
    मारे गए लोगों के परिजनों को दो लाख रुपये का मुआवजा

    हिंसा में मारे गए लोगों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा। वरिष्ठ अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा, ‘‘सांप्रदायिक हिंसा में मारे गए लोगों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा। गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को पचास-पचास हजार रुपये का मुआवजा दिया जाएगा।'

    20:52 (IST)26 Feb 2020
    एनएसए डोभाल ने गृह मंत्री शाह को उत्तर पूर्वी दिल्ली में मौजूदा हालात के बारे में जानकारी दी

    एनएसए अजीत डोभाल ने बुधवार को गृह मंत्री अमित शाह को उत्तर पूर्वी दिल्ली के मौजूदा हालात के बारे में जानकारी दी] जहां सांप्रदायिक ंिहसा में कम से कम 22 लोग मारे जा चुके हैं। अधिकारियों के मुताबिक डोभाल ने राष्ट्रीय राजधानी के दंगा प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने के बाद शाह से उनके नॉर्थ ब्लॉक स्थित दफ्तर में मुलाकात की। यह एनएसए का 24 घंटे से भी कम समय के भीतर हिंसा प्रभावित इलाकों का दूसरा दौरा था।

    20:31 (IST)26 Feb 2020
    NSA अजित डोभाल ने गृह मंत्री अमित शाह के साथ बैठक की

    NSA अजित डोभाल ने गृह मंत्री अमित शाह के साथ दिल्ली में सीएए विरोधी हिंसा पर चर्चा की। इस दौरान उनके साथ होम सेक्रेटरी अजय कुमार भल्ला और दिल्ली पुलिस कमिशनर अमूल्य पटनायक भी मौजूद थे।

    19:57 (IST)26 Feb 2020
    दिल्ली हिंसा: मुंबई पुलिस ने गैरकानूनी प्रदर्शनों पर कार्रवाई के आदेश दिए

    दिल्ली में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) पर भड़की सांप्रदायिक हिंसा के मद्देनजर मुंबई पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने स्पष्ट कर दिया है कि शहर में गैरकानूनी प्रदर्शनों की अनुमति नहीं दी जाएगी। एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि अतिरिक्त और पुलिस उपायुक्तों ने अधीनस्थ अधिकारियों के साथ बैठकें की है और उन्हें कानून तोड़ने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

    19:29 (IST)26 Feb 2020
    दिल्ली हिंसा: पुलिस ने अबतक 106 लोगों को गिरफ्तार किया

    दिल्ली पुलिस ने सीएए विरोधी हिंसा मामले में अबतक 106 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी। पुलिस ने कहा है कि हिंसाग्रस्त इलाकों में बड़े अधिकारी मौजूद हैं। ड्रोन कैमरों से निगरानी की जा रही है।

    19:13 (IST)26 Feb 2020
    दंगा प्रभावित उत्तर पूर्वी दिल्ली में हालात नियंत्रण में: एनएसए

    राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोभाल ने दंगा प्रभावित उत्तर पूर्वी दिल्ली के कुछ इलाकों का दौरा करने के बाद बुधवार को कहा कि हालात नियंत्रण में है और पुलिस अपना काम कर रही है। कुछ स्थानों पर उनका गर्मजोशी से अभिवादन किया गया जबकि एक स्थान पर दो उत्तेजित लोगों ने हिंसा के बारे में उनसे शिकायत की।

    18:57 (IST)26 Feb 2020
    हिंसा में मारे गए हेड कॉन्स्टेबल के परिवार को मिलेगा एक करोड़ रुपये का मुआवजा

    मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने घोषणा की कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा में मारे गए हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल के परिवार को दिल्ली सरकार एक करोड़ रुपये का मुआवजा देगी। केजरीवाल ने दिल्ली विधानसभा में कहा, ‘‘दिल्ली सरकार की नीति के अनुसार हम हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल के परिवार को एक करोड़ रुपये का मुआवजा देंगे।’’ मुख्यमंत्री ने मंगलवार हेड कॉन्स्टेबल के परिवार से मुलाकात की थी। केजरीवाल ने कहा, ‘‘घृणा और हिंसा की राजनीति बर्दाश्त नहीं की जाएगी। दिल्ली का आम आदमी हिंसा में शामिल नहीं है, इसमें बाहरी लोग, कुछ राजनीतिक तत्व शामिल हैं।’’

    18:47 (IST)26 Feb 2020
    गृह मंत्री शाह से एनएसए डोभाल की मुलाकात

    उत्तर-पूर्व दिल्ली के संवेदनशील इलाकों का दौरा करने के बाद केंद्रीय मंत्री अमित शाह से मिलने गृह मंत्रालय पहुंचे एनएसए अजीत डोवाल।

    18:28 (IST)26 Feb 2020
    सरकार दिल्ली में शांति बनाये रखने में विफल रही, अमित शाह इस्तीफा दें: प्रियंका गांधी

    कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को सरकार पर दिल्ली में कानून व्यवस्था बनाये रखने में विफल रहने का आरोप लगाया और गृह मंत्री अमित शाह के इस्तीफे की मांग की। दिल्ली हिंसा के खिलाफ पार्टी के शांति मार्च के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रियंका ने उनसे प्रभावित इलाकों में जाने तथा शांति एवं भाईचारे का संदेश फैलाने की अपील की। उन्होंने सरकार पर दिल्ली को ‘बर्बाद’ करने का आरोप लगाया जहां देश भर से लोग रोजगार की तलाश में आते हैं।

    18:14 (IST)26 Feb 2020
    दिल्ली के आम लोग हिंसा में शामिल नहीं: केजरीवाल

    दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने विधानसभा में कहा कि दिल्ली के आम लोग हिंसा में शामिल नहीं हैं, इस हिंसा में बाहर के लोग, कुछ राजनीतिज्ञ, असामाजिक तत्व शामिल है।

    17:53 (IST)26 Feb 2020
    दिल्ली में हिंसा के खिलाफ कांग्रेस ने शांति मार्च निकाला

    दिल्ली में हिंसा के खिलाफ यहां कांग्रेस मुख्यालय से बुधवार को निकाले गए शांति मार्च में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा सहित पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने हिस्सा लिया। प्रियंका के अलावा मार्च में हिस्सा लेने वाले अन्य वरिष्ठ नेताओं में मुकुल वासनिक, के सी वेणुगोपाल, पी एल पुनिया, रणदीप सुरजेवाला, राजीव गौडा, शक्ति सिंह गोहिल, अजय सिंह लल्लू (उत्तरप्रदेश कांग्रेस प्रमुख), मणिशंकर अय्यर, सुष्मिता देव, कृष्णा तीरथ और सुभाष चोपड़ा शामिल थे।

    17:38 (IST)26 Feb 2020
    एनससए अजित डोभाल ने हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा करने के बाद कही ये बात

    एनससए अजित डोभाल ने हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा करने के बाद कहा कि लोग शांति चाहते हैं। उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा 'मैंने लोगों से मुलाककत की। पुलिस मुश्तैदी से काम कर रही है। सभी लोग मिल जुलकर रहना चाहते हैं। सभी लोग अमन की बात कर रहे हैं। पीएम मोदी और गृह मंत्री ने शांति बहाली के निर्देश दिए हैं।' एनएसए ने मीडिया से बातचीत के दौरान यह बातें कही। बता दें कि डोभाल ने मौजपुर, घोंडा और ब्रह्मापुर का दौरा किया।

    17:27 (IST)26 Feb 2020
    कल होने वाली 12वीं कक्षा की अंग्रेजी की परीक्षा टली

    सीबीएसई ने उत्तर पूर्वी दिल्ली में कल होने वाली 12 वीं कक्षा की अंग्रेजी की परीक्षा को टाल दिया है। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी है।

    17:02 (IST)26 Feb 2020
    हिंसा को लेकर पहली बार पीएम मोदी ने प्रतिक्रिया दी

    हिंसा को लेकर पहली बार पीएम मोदी ने प्रतिक्रिया दी है। पीएम मोदी ने लोगों से शांति एवं भाईचारा बनाये रखने की अपील की । प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने राष्ट्रीय राजधानी में वर्तमान स्थिति की गहन समीक्षा की है । मोदी ने यह भी कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि जल्दी शांति एवं सामान्य स्थिति बहाल हो। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने ट्वीट में कहा, "दिल्ली के विभिन्न हिस्सों में वर्तमान हालात की गहन समीक्षा की । पुलिस एवं अन्य एजेंसियां सामान्य स्थिति सुनिश्चित करने के लिये काम कर रही हैं।" मोदी ने कहा, "हमारे संस्कार के मूल में शांति, सौहार्द है। मैं दिल्ली के बहनों, भाइयों से शांति और भाईचारा बनाये रखने की अपील करता हूं।"

    17:02 (IST)26 Feb 2020
    कोर्ट ने घायलों की तुरंत मदद के लिए पुलिस की सराहना की

    दिल्ली हाई कोर्ट ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा के दौरान घायल लोगों की तुरंत मदद करने के लिए दिल्ली पुलिस की बुधवार को सराहना की। न्यायमूर्ति एस मुरलीधर और न्यायमूर्ति अनूप जे भम्भानी ने हिंसा में गुप्तचर ब्यूरो के अधिकारी के मारे जाने की घटना को ‘‘अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण’’ बताया। संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को लेकर उत्तर-पूर्वी दिल्ली में जारी हिंसा में कम से कम 24 लोग मारे गए हैं और लगभग 200 लोग घायल हुए हैं।

    16:27 (IST)26 Feb 2020
    कोर्ट ने गृह मंत्रालय को दिल्ली हिंसा पर नोटिस जारी किया

    कोर्ट ने गृह मंत्रालय को दिल्ली हिंसा पर नोटिस जारी किया। पुलिस कमिश्नर को हिंसा से जुड़े भड़काऊ भाषण से जुड़े वीडियो देखने के निर्देश जारी किए हैं। कोर्ट ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से कल (गुरुवार) तक जवाब मांगा है। कोर्ट ने कहा है कि जिस भी नेता ने भड़काऊ भाषण दिए हैं उनपर केस दर्ज हो। शहर जल रहा है एक्शन जरूर लेना होगा। सुनवाई के दौरान कोर्ट में चार भड़काऊ भाषण के वीडियो देखे गए।

    16:04 (IST)26 Feb 2020
    एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती एक और घायल शख्स की मौत

    सीएए विरोधी हिंसा में बुधवार को एक घायल की मौत हो गई है। घायल शख्स एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती था। वहीं जीटीबी अस्पताल में अबतक 21 घायलों की मौत हो चुकी है।

    15:55 (IST)26 Feb 2020
    पांच आईपीएस अधिकारियों का तबादला किया

    दिल्ली में हिंसा की बढ़ती घटनाओं और लगातार चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच पांच आईपीएस अधिकारियों का तबादला कर दिया गया है। जिन अधिकारियों का स्थानांतरण किया गया हैउनमें एसडी मिश्रा, एमएस रंधावा, पी मिश्रा, एस भाटिया और राजीव रंजन शामिल हैं। 

    15:13 (IST)26 Feb 2020
    हाईकोर्टने कहा एक और 1984 नहीं होगा

    दिल्ली के उत्तर पूर्वी हिस्से में हो रहीं हिंसा पर दिल्‍ली हाईकोर्ट ने सुनवाई करते हुए बेहद तल्‍ख टिप्‍पणी की है। इस मामले की सुनवाई करते हुए जस्टिस मुरलीधर ने कहा कि दिल्‍ली हाईकोर्ट के रहते हुए 1984 के दंगे की घटना को दोहराने नहीं दिया जाएगा। 

    15:10 (IST)26 Feb 2020
    दिल्ली हिंसा में मारे गए IB के अफसर

    नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में जारी हिंसा के बीच बुधवार को दिल्ली के चांदबाग इलाके में इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) के अफसर अंकित शर्मा का शव मिला है। शर्मा (26) इंटेलिजेंस ब्यूरो में ट्रेनिंग पर थे। शर्मा घर लौटते वक्त चांदबाग में ही पत्थरबाज भीड़ के निशाने पर आ गए। भीड़ ने उन्हें चांदबाग पुल तक दौड़ाया और पकड़ने के बाद पीट-पीटकर हत्या कर दी। उनका शव... पूरी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें

    14:43 (IST)26 Feb 2020
    प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को लोगों से शांति एवं भाईचारा बनाये रखने की अपील की

    प्रधानमंत्री मोदी ने अपने ट्वीट में कहा, 'दिल्ली के विभिन्न हिस्सों में वर्तमान हालात की गहन समीक्षा की । पुलिस एवं अन्य एजेंसियां सामान्य स्थिति सुनिश्चित करने के लिये काम कर रही हैं।' मोदी ने कहा, 'हमारे संस्कार के मूल में शांति, सौहार्द है। मैं दिल्ली के बहनों, भाइयों से शांति और भाईचारा बनाये रखने की अपील करता हूं।'

    13:49 (IST)26 Feb 2020
    दिल्ली के चांदबाग इलाके में इंटेलिजेंस ब्यूरो के कर्मी का शव मिला

    संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) विरोधी हिंसा के बीच बुधवार को दिल्ली के चांदबाग इलाके में इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) के कर्मी अंकित शर्मा का शव मिला है। शर्मा इंटेलिजेंस ब्यूरो में ट्रेनिंग पर थे। उनका शव चांदबाग में मिला है जो कि सीएए विरोधी हिंसा वालाी जगहों में शामिल है।

    13:29 (IST)26 Feb 2020
    1984 सिख विरोधी दंगों के जख्मों को एक बार फिर ताजा कर दिया

    शिवसेना ने दिल्ली की इस भयावह स्थिति को एक डरावनी फिल्म करार देते हुए कहा कि इसने 1984 सिख विरोधी दंगों के जख्मों को एक बार फिर ताजा कर दिया। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप जब ‘‘प्रेम का संदेश’’ देने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली पहुंचे तब उसकी सड़कों पर खून-खराबा मचा था और इससे पहले राष्ट्रीय राजधानी की कभी इतनी बदनाम नहीं हुई थी। शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ के सम्पादकीय ने अफसोस जताया कि ऐसे समय दिल्ली में ट्रंप का स्वागत किया गया जब उसकी सड़कों पर खून-खराबा मचा था।

    13:09 (IST)26 Feb 2020
    उच्चतम न्यायालय ने पुलिस को फटकार लगाई

    उच्चतम न्यायालय ने पुलिस को फटकार लगाई और राष्ट्रीय राजधानी में हिंसा की घटनाओं को दुर्भाग्यपूर्ण बताया लेकिन उनसे संबंधित याचिकाओं पर सुनवाई करने से इनकार कर दिया। पीठ ने हिंसा की घटनाओं का जिक्र करते हुए कहा, "अगर उकसाने वाले लोगों को पुलिस बच कर निकलने नहीं देती तो यह सब नहीं होता।" न्यायालय ने कहा कि अगर कोई भड़काने वाले बयान देता है तो पुलिस को आदेशों का इंतजार नहीं करना होता बल्कि कानून के अनुसार कार्रवाई करनी होती है। न्यायमूर्ति जोसेफ ने यह भी कहा कि पुलिस ने पेशेवर रवैया नहीं अपनाया।

    12:52 (IST)26 Feb 2020
    24 अकबर रोड से गांधी स्मृति तक होगा मार्च

    कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की इस बैठक में मुख्य रूप दिल्ली हिंसा पर चर्चा हुई और जल्द ही एक प्रस्ताव भी पारित किया जा सकता है। दिल्ली में लगातार बढ़ते हुए सामाजिक तनाव को देखते हुए कांग्रेस के नेता एवं कार्यकर्ता दोपहर बाद पार्टी मुख्यालय, 24 अकबर रोड से गांधी स्मृति, 30 जनवरी मार्ग तक साम्प्रदायिक सद्भाव के लिए ‘शांति मार्च’ निकालेंगे। इसमें कई वरिष्ठ नेताओं के शामिल होने की संभावना है।

    12:45 (IST)26 Feb 2020
    चांदबाग इलाके से एक बार फिर तोड़फोड़

    चांदबाग इलाके से एक बार फिर तोड़फोड़ की घटना सामने आई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यहां उपद्रवी ने एक दुकान को निशाना बनाया और उसमें तोड़फोड़ की। 23 फरवरी से शुरू हुई इस हिंसा में अब तक 20 लोगों की मौत हो चुकी है और 250 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। इस दौरान पुलिस की भूमिका पर भी सवाल उठ रहे हैं।

    12:30 (IST)26 Feb 2020
    उच्चतम न्यायालय ने हिंसा को दुर्भाग्यपूर्ण बताया

    उच्चतम न्यायालय ने बुधवार को दिल्ली में हो रही हिंसा को दुर्भाग्यपूर्ण बताया लेकिन उनसे संबंधित याचिकाओं पर सुनवाई करने से इनकार कर दिया। न्यायमूर्ति एस के कौल और न्यायमूर्ति के एम जोसेफ की पीठ ने कहा कि वह हिंसा पर याचिकाओं पर विचार करके शाहीन बाग प्रदर्शनों के संबंध में दायर की गई अपीलों के दायरे में विस्तार नहीं करेगी। सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने उच्चतम न्यायालय को बताया कि दिल्ली उच्च न्यायालय ने हिंसा के संबंध में याचिकाओं पर सुनवाई की है। इसके बाद न्यायालय ने दिल्ली हिंसा से संबंधित याचिकाओं का निस्तारण करते हुए कहा कि उच्च न्यायालय इस मामले पर विचार करेगा।

    12:04 (IST)26 Feb 2020
    कांग्रेस ने हिंसा के दौरान मरने वाले लोगों को श्रद्धांजलि दी

    कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में तय हुआ कि कांग्रेस नेता हिंसा प्रभावित दिल्ली में हालात सामान्य करने और शांति की मांग के लिए राष्ट्रपति भवन तक मार्च करेंगे। बैठक में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह मौजूद रहे। बैठक में हिंसा के दौरान मरने वाले लोगों को श्रद्धांजलि दी गई। 

    11:39 (IST)26 Feb 2020
    मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 20 हुई

    उत्तर पूर्वी दिल्ली में संशोधित नागरिकता कानून को लेकर भड़की साम्प्रदायिक हिंसा में मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर बुधवार को 20 पर पहुंच गई है। जीटीबी अस्पताल के अधिकारियों ने यह जानकारी दी। मंगलवार को मरने वाले लोगों की संख्या 13 बताई गई थी। जीटीबी अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक सुनील कुमार ने पीटीआई-भाषा को बताया, "मृतकों की संख्या आज बढ़कर 20 हो गई।" इससे पहले एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया था कि लोक नायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल से कम से कम चार शवों को गुरु तेग बहादुर अस्पताल लाया गया।

    11:14 (IST)26 Feb 2020
    अदालत ने घायलों के सुरक्षित निकास, तत्काल उपचार कराने का दिया निर्देश

    दिल्ली उच्च न्यायालय ने आधी रात सुनवाई के बाद पुलिस को संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को लेकर हुई हिंसा में घायल हुए लोगों के सुरक्षित निकास और उनका तत्काल उपचार सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। न्यायमूर्ति एस. मुरलीधर के आवास पर उस याचिका पर सुनवाई हुई जिसमें घायलों को पर्याप्त सुविधाओं वाले चिकित्सीय संस्थानों तक सुरक्षित ले जाने की व्यवस्था की मांग की गई थी।

    10:45 (IST)26 Feb 2020
    डोभाल को सौंप ज़िम्मेदारी

    दिल्ली में फैली हिंसा को शांत करने की जिम्मेदारी देश के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को सौंप दी गई है। NSA अजीत डोभाल अब यहां के विभिन्न इलाकों में फैली हिंसा को अपने तरीके से काबू करेंगे। अजीत डोभाल सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कैबिनेट को अपनी रिपोर्ट सौंपेंगे।

    10:38 (IST)26 Feb 2020
    कॉन्स्टेबल रतन लाल के परिजनों का धरना

    इधर इस हिंसा में मारे गए हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल के परिजन राजस्थान के सदीनसर स्थित उनके पैतृक आवास के पास धरने पर बैठ गए हैं। यह लोग रतन लाल को 'शहीद' का दर्जा देने की मांग कर रहे हैं।

    10:06 (IST)26 Feb 2020
    मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 17 हो गई है

    उत्तर पूर्वी दिल्ली में मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 17 पर पहुंच गई है। जीटीबी अस्पताल के अधिकारियों ने यह जानकारी दी। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि लोक नायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल से चार शवों को गुरु तेग बहादुर अस्पताल लाया गया। इसके साथ ही मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 17 हो गई है।

    09:34 (IST)26 Feb 2020
    13 लोगों की जान गई है और 250 से ज्यादा लोग घायल हुए

    23 फरवरी से शुरू हुई हिंसा में 25 फरवरी तक 13 लोगों की जान गई है और 250 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। इस दौरान पुलिस की भूमिका पर भी सवाल उठ रहे हैं। पुलिस पर मूकदर्शक बने रहने, वारदात से मुंह फेर लेने या घटनास्थल से गायब रहने के आरोप लग रहे हैं।

    09:20 (IST)26 Feb 2020
    दिल्ली हिंसा: दिन भर अस्पताल आते रहे खून से लथपथ लोग, सड़कों पर रहा भीड़ का राज, पुलिस रही खामोश

    Delhi Voilence: राजधानी दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून के विरोधियों और समर्थकों की बीच भड़की हिंसा ने भयानक रूप ले लिया है। दंगे की आग में अबतक कुल 13 लोगों की जान चली गई है। चश्मदीदों के मुताबिक जीटीबी अस्पताल में दिन भर खून से लथपथ लोग आते रहे। भीड़ की हिंसा के शिकार हुए ये लोग दर्द से कराह रहे थे....यहां पढ़ें पूरी खबर

    09:09 (IST)26 Feb 2020
    डोवाल ने नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली का दौरा किया

    राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोवाल ने मंगलवार की रात तीन दिन से हिंसा की आग में जल रही नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली का दौरा किया। वह रात 12.30 बजे हिंसाग्रस्त इलाकों के दौरे पर पहुंचे। 

    00:01 (IST)26 Feb 2020
    24 घंटे के भीतर गृह मंत्री अमित शाह ने तीसरी बार की बैठक

    दिल्ली में हिंसा को देखते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने तीसरी बार बड़ी बैठक की है। मामले को देखते हुए शाह ने अपने त्रिवेंद्रम दौरे को भी रद्द कर दिया है। बैठक में गृह मंत्री के अलावा दिल्ली पुलिस के स्पेशल कमिश्नर (लॉ एंड ऑर्डर) एसएन श्रीवास्तव भी मौजूद रहे। करीब डेढ़ घंटे तक चली बैठक में सुरक्षाबलों की तैनाती और कानून व्यवस्था के बारे में चर्चाएं हुईं। गृह मंत्रालय ने उपद्रवियों से निपटने के सख्ती से आदेश दिए हैं।

    22:43 (IST)25 Feb 2020
    बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष बोले- दंगाईयों पर सख्ती बरते पुलिस

    बंगाल बीजेपी के अध्यक्ष दिलीप घोष ने दिल्ली हिंसा पर कहा है कि पुलिस को दंगाईयों पर सख्त होना चाहिए। जब वह पत्थर फेंक रहे हैं तो पुलिस को क्या उन्हें चाय पिलानी चाहिए? 

    22:41 (IST)25 Feb 2020
    सीबीएसई ने जारी किया नोटिस
    22:10 (IST)25 Feb 2020
    उत्तर पूर्वी दिल्ली में बोर्ड परीक्षाएं टली

    सीबीएसई ने उत्तर पूर्वी दिल्ली में बुधवार को आयोजित होने वाली कक्षा 10 वीं, 12 वीं की परीक्षाएं टाली, बाकी इलाके में तय कार्यक्रम के मुताबिक परीक्षाएं होंगी। अधिकारियों ने यह जानकारी दी है। 

    21:48 (IST)25 Feb 2020
    दंगाईयों ने पत्रकार को मारी गोली

    जेके 24x7 न्यूज चैनल ने एक ट्वीट में कहा कि उसके पत्रकार आकाश को दिल्ली के मौजपुर क्षेत्र में संघर्ष की कवरेज के दौरान गोली लग गई। वह अस्पताल में हैं जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। एनडीटीवी ने कहा कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली में एक जगह उसके पत्रकार अरविन्द गुणशेखर पर दंगाइयों ने हमला किया। उनका एक दांत टूट गया है। जब उनके सहकर्मी सौरभ ने उन्हें बचाने की कोशिश की तो उनपर मुक्के से वार किया गया।

    21:47 (IST)25 Feb 2020
    दिल्ली पुलिस ने किया ऐलान- देखते ही गोली मारने के आदेश, घरों के अंदर रहें

    दिल्ली में देखते ही गोली मारने के आदेश

    20:40 (IST)25 Feb 2020
    दंगाईयों को देखते ही गोली मारने के आदेश

    दिल्ली में बिगड़ती कानून व्यवस्था को देखते हुए दंगाईयों को देखते ही गोली मारने के आदेश दिए गए हैं। दिल्ली पुलिस के जवान हिंसाग्रस्त इलाकों में लाउडस्पीकर से इस बात की जानकारी दे रहे हैं। सुरक्षाबल फ्लैग मार्च कर रहे हैं। 

    20:08 (IST)25 Feb 2020
    अमित शाह ने हेड कांस्टेबल रतन लाल की पत्नी को पत्र लिखा

    केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को दिल्ली में हुई हिंसा में मारे गये दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल रतन लाल की पत्नी को मंगलवार को पत्र लिखकर अपना शोक संदेश भेजा और कहा कि पूरा देश इस दुख की घड़ी में बहादुर पुलिसकर्मी के परिवार के साथ है। लाल की पत्नी पूनम देवी को लिखे पत्र में शाह ने कहा कि उन्होंने कर्तव्य निभाते हुए सर्वोच्च बलिदान दिया है।गृह मंत्री ने लिखा, ‘‘आपके बहादुर पति सर्मिपत पुलिसकर्मी थे जिन्होंने कठिन चुनौतियों का सामना किया। सच्चे सिपाही की तरह उन्होंने इस देश की सेवा के लिए सर्वोच्च कुर्बानी दी। मैं ईश्वर से आपको इस दुख और असमय क्षति को सहने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना करता हूं।’’ शाह ने कहा कि इस दुख की घड़ी में पूरा देश आपके परिवार के साथ है।

    19:42 (IST)25 Feb 2020
    सुरक्षाबलों की कमी से दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने किया साफ इंकार, बोले- गृह मंत्रालय से पूरी सपोर्ट मिल रही है

    दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक ने कहा है कि कुछ न्यूज एजेंसी ऐसी खबरें चला रही हैं कि दिल्ली पुलिस ने कहा है कि गृह मंत्रालय से जरुरत के मुताबिक सुरक्षाबल नहीं मिल रहे हैं। यह पूरी तरह से गलत है। गृह मंत्रालय लगातार सपोर्ट दे रहा है और हमारे पास पर्याप्त संख्या में सुरक्षाबल हैं।

    19:07 (IST)25 Feb 2020
    दिल्ली पुलिस बोली- दंगाईयों से सख्ती से निपटा जाएगा, स्थिति नियंत्रण में

    दिल्ली पुलिस के पीआरओ एमएस रंधावा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि हिंसा प्रभावित इलाकों में धारा 144 लागू है। दिल्ली पुलिस ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की और अफवाहों पर ध्यान ना देने को कहा। एमएस रंधावा ने कहा कि लोग कानून अपने हाथ में ना लें। ड्रोन कैमरों से निगरानी की जा रही है। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है।

    18:57 (IST)25 Feb 2020
    कांग्रेस ने की लोगों से शांति बनाए रखने की अपील

    कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा है कि हम सभी से शांति बनाए रखने की अपील करते हैं और हिंसा की घटना की निंदा करते हैं। कुछ सांप्रदायिक ताकतें राजनैतिक फायदे के लिए धर्म का इस्तेमाल कर भेदभाव को बढ़ावा दे रही हैं। सभी कांग्रेसी कार्यकर्ता राजधानी में शांति और कानून व्यवस्था बनाने में मदद करेंगे।

    18:39 (IST)25 Feb 2020
    दो आईपीएस अधिकारी समेत 56 पुलिसकर्मी घायल

    दिल्ली हिंसा में दो आईपीएस अधिकारियों समेत 56 पुलिसकर्मियों के घायल होने की खबर है। पुलिस ने दंगाईयों के खिलाफ 11 एफआईआर दर्ज की हैं। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि तंग गलियों की वजह से उपद्रव को काबू करने में उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पुलिस के कई आला अधिकारी ग्राउंड में हैं और खुद स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं।

    Next Stories
    1 स्कूल में उद्धघाटन करने पहुंचे BJP MLA अपाचू रंजन, बोले- जो लोग पाकिस्तान समर्थित नारे लगा रहे उन्हें गोली मार देनी चाहिए
    2 CAA पर चांदबाग में हुई थी झड़प, फिर दोपहर तक भड़की 7 और इलाकों में! 1 पुलिसकर्मी व 3 नागरिकों की मौत; कई पर केस
    3 ‘Namaste Trump’: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद देंगे डोनाल्ड ट्रंप के सम्मान में डिनर पार्टी, पर मनमोहन सिंह ने किया इन्कार
    Coronavirus LIVE:
    X