ताज़ा खबर
 

नागरिकता कानून विवादः राहुल गांधी का वार- झूठे हैं PM नरेंद्र मोदी, BJP का पलटवार- झूठों के सरदार हैं पूर्व Congress चीफ

राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी पर उनकी उस टिप्पणी को लेकर निशाना साधा जिसमें उन्होंने कहा था कि देश में कोई हिरासत केंद्र नहीं है।

Author Updated: December 26, 2019 8:04 PM
कांग्रेस नेता राहुल गांधी। फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर झूठ बोलने का आरोप लगाने के लिये भाजपा ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर बृहस्पतिवार को पलटवार करते हुए उन्हें ‘‘झूठों का सरदार’’ कहा। भाजपा ने कहा कि असम में हिरासत केंद्र (डिटेंशन सेंटर) तब बनाये गए थे जब कांग्रेस केंद्र और राज्य दोनों ही जगह सत्ता में थी। इससे पहले दिन में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक ट्वीट करके आरोप लगाया था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी असम में हिरासत केंद्र के मुद्दे पर देश से झूठ बोल रहे हैं।

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए कहा कि उन्होंने आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया है लेकिन उनसे सार्वजनिक संवाद में शालीन भाषा की अपेक्षा करना बहुत ज्यादा है। पात्रा ने यहां संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए 2011 में तत्कालीन कांग्रेस नीत संप्रग सरकार की ओर से जारी आधिकारिक बयान दिखाया जिसमें कहा गया था कि असम में हिरासत केंद्र स्थापित किये गए हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘राहुल गांधी झूठों के सरदार हैं। असम में तीन हिरासत केंद्र उनकी पार्टी ने बनवाये थे, जो (उस वक्त) केंद्र और राज्य दोनों ही जगह सत्ता में थी।’’ पात्रा ने असम सरकार द्वारा अवैध प्रवासियों के मुद्दे पर जारी श्वेतपत्र भी दिखाया और दावा किया कि इसमें भी हिरासत केंद्र स्थापित करने की बात की गई है। उन्होंने साथ ही कहा कि हिरासत केंद्रों और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) में कोई संबंध नहीं है।

गांधी ने बृहस्पतिवार को मोदी पर उनकी उस टिप्पणी को लेकर निशाना साधा जिसमें उन्होंने कहा था कि देश में कोई हिरासत केंद्र नहीं है। गांधी ने ट्वीट करते हुए आरोप लगाया,‘‘आरएसएस के प्रधानमंत्री भारत माता से झूठ बोलते हैं।’’ उन्होंने ट्विटर पर एक वीडियो क्लिप भी डाली जिसमें मोदी कांग्रेस और उसके सहयोगियों तथा ‘‘शहरी नक्सलियों’’ पर यह अफवाह फैलाने का आरोप लगा रहे हैं कि मुस्लिमों को हिरासत केंद्रों में भेजा जाएगा। क्लिप में असम में एक कथित हिरासत केंद्र बनते हुए भी दिखाया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 CAA नहीं लागू किया तो केंद्र सरकार करेगी शक्ति का इस्तेमाल, BJP सांसद ने राज्यों को चेताया
2 अठावले को नहीं रास आया RSS प्रमुख का बयान, कहा- एक समय देश में सभी बौद्ध थे, सबको हिंदू कहना ठीक नहीं
3 BHU के 51 प्रोफेसरों ने CAA व NRC के खिलाफ उठाई आवाज, हस्ताक्षर अभियान चलाकर जताया विरोध
ये पढ़ा क्या?
X