scorecardresearch

ITBP Bus Accident: चंदनवाड़ी के पास ITBP के जवानों को ले जा रही बस नदी में गिरी, 7 जवानों की मौत, ब्रेक फेल होने से हुआ हादसा

Pahalgam Road Accident, ITBP jawans Bus Accident, ITBP Bus Accident in Jammu Kashmir News: सेना के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल कर रहे हैं। घायल जवानों को एयरलिफ्ट करके श्रीनगर स्थित सेना के अस्पताल में लाया गया है।

ITBP Bus Accident: चंदनवाड़ी के पास ITBP के जवानों को ले जा रही बस नदी में गिरी, 7 जवानों की मौत, ब्रेक फेल होने से हुआ हादसा
आईटीबीपी बस दुर्घटना, ITBP Bus Accident: जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में चंदनवाड़ी के पास, 39 कर्मियों को लेकर जा रही बस के नदी में गिरने के बाद बचाव कार्य जारी है। (पीटीआई)

ITBP Bus Accident in Pahalgam News: जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में 37 आईटीबीपी कर्मियों और जम्मू-कश्मीर के दो पुलिस कर्मियों को ले जा रही बस मंगलवार की सुबह ब्रेक फेल होने के बाद फिसलकर पहलगाम के निकट नदी में जा गिरी। इस हादसे में आईटीबीपी के सात जवानों की मौत हो गई। 30 अन्य जवान घायल हो गए हैं। घटनास्थल पर बचाव कार्य जारी है। सेना के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचकर जांच-पड़ताल कर रहे हैं। घायल जवानों को एयरलिफ्ट करके अनंतनाग स्थित सेना के अस्पताल में लाया गया है।

आईटीबीपी के पीआरओ ने बताया, “सभी जवान अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा में तैनात थे। यात्रा समाप्त होने के बाद वे वापस लौट रहे थे। सात जवानों की मौत हुई है और 30 जवान घायल हुए हैं। हम घायलों को हर संभव इलाज मुहैया कराएंगे। आईटीबीपी मुख्यालय स्थिति पर नजर रखे हुए है। प्रभावित परिवारों को सभी तरह की मदद दी जाएगी।”

हादसे पर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने जताया गहरा शोक

हादसे पर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने गहरा शोक जताया है। उन्होंने कहा, “जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना में आईटीबीपी कर्मियों के अनमोल जीवन का दुखद नुकसान से मुझे बहुत दुख हुआ है। शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना। मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।”

जम्मू-कश्मीर लेफ्टिनेंट गवर्नर मनोज सिन्हा ने भी आईटीबीपी जवानों के निधन पर शोक जताया है। उन्होंने कहा, “चंदनवाड़ी के पास बस दुर्घटना से गहरा दुख हुआ, जिसमें हमने अपने बहादुर आईटीबीपी कर्मियों को खो दिया। शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी संवेदना और घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ के लिए प्रार्थना। घायल कर्मियों को हर संभव सहायता प्रदान की जा रही है।”

जीएमसी अनंतनाग डॉ. सैयद तारिक ने बताया कि अस्पताल में 30 जवानों को भर्ती कराया गया है। उनका इलाज जारी है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट