ताज़ा खबर
 

पटना के वूमंस कॉलेज में बुर्का पहन के आने पर पाबंदी, नियम तोड़ने पर लगेगा 250 रुपये जुर्माना

इधर कॉलेज प्रबंधन के नए आदेश के बाद कॉलेज की कुछ छात्राएं दबी जुबान में इसका विरोध करने लगी हैं। कुछ मौलानाओं ने भी इसपर आपत्ति जताई है।

ड्रेस कोड के उल्लंघन पर 250 रुपया का जुर्माना है। प्रतीकात्मक तस्वीर।

पटना स्थित जेडी वूमंस कॉलेज में बुर्का पहन कर आने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। कॉलेज प्रबंधन की तरफ से छात्राओं को कहा गया है कि वो सिर्फ शनिवार को ही अलग ड्रेस पहन कर कॉलेज में दाखिल हो सकती हैं। कॉलेज प्रबंधन ने जो नये नियम बनाए हैं उसके मुताबिक जेडी वूमंस कॉलेज में पढ़ने वाली छात्राओं को कॉलेज परिसर में पहले से तय किये गये ड्रेस कोड में ही आना है। छात्राओं को सोमवार से शुक्रवार तक ड्रेस कोड में ही कॉलेज आना होगा। छात्राएं सिर्फ शनिवार को ही अलग ड्रेस में कॉलेज आ सकती हैं। हालांकि इस दिन भी वो बुर्का पहन कर कॉलेज नहीं आ सकती हैं। इतना ही नहीं कॉलेज प्रशासन ने साफ किया है कि ड्रेस कोड संबंधित नए नियमों का उल्लंघन करने पर छात्राओं पर 250 रुपया का जुर्माना भी लगाया जाएगा।

इस संबंध में कॉलेज प्रशासन की तरफ से जो आदेश जारी हुआ है उसपर कॉलेज के प्रॉक्टर और प्रिंसिपल के हस्ताक्षर हैं। ‘Hindustan Times’ से बातचीत करते हुए जेडी वूमंस कॉलेज की प्रॉक्टर वीणा अमृत ने कहा कि ‘पहले से ही कॉलेज में ड्रेस कोड तय किया जा चुका है। सभी छात्राओं को प्रॉसपेक्टस में बताए गए नियमों का पालन करना है। हमने ड्रेस कोड का सख्ती से पालन कराने के लिए क्लासरूम में बुर्का को प्रतिबंधित किया है।’ यहां आपको बता दें कि कॉलेज कैंपस में मोबाइल फोन के इस्तेमाल पर 500 रुपया का जुर्मान भी रखा गया है।

इधर कॉलेज प्रबंधन के नए आदेश के बाद कॉलेज की कुछ छात्राएं दबी जुबान में इसका विरोध करने लगी हैं। कुछ मौलानाओं ने भी इसपर आपत्ति जताई है। मौलानाओं का कहना है कि इससे प्राचार्या की मानसिकता का पता चलता है। मौलानाओं ने कहा है कि अगर कॉलेज प्रशासन ने अपने फैसले को वापस नहीं लिया तो वो इसका कड़ा विरोध करेंगे।

Next Stories
1 ‘मुस्लिम लीग से पहले सावरकर ने की थी दो राष्ट्रों की वकालत, बंटवारे की जिम्मेदार नहीं कांग्रेस’, शशि थरूर का तीखा हमला
2 दिल्ली चुनाव: 25 साल में सबसे कम उम्मीदवार, BJP ने दिए सबसे कम महिलाओं को टिकट
3 बिहार में इस हफ्ते बरस सकते हैं बादल, जानिए अपने क्षेत्र के मौसम का हाल
ये पढ़ा क्या?
X