ताज़ा खबर
 

250 से 3,000 रुपये के बीच होगा मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन का किराया, लगेगा सिर्फ 1 बिजनेस क्‍लास कोच

मुंबई से अहमदाबाद के बीच का किराया 3000 रुपए होगा, वहीं बांद्रा-कुर्ला कॉम्पेक्स से लेकर थाणे तक का किराया सबसे कम यानि कि 250 रुपए होगा। बुलेट ट्रेन में सिर्फ एक ही बिजनेस क्लास कोच होगा, जिसका किराया 3000 रुपए से ज्यादा होगा।

बुलेट ट्रेन का किराया 250 से 3000 रुपए के बीच होगा।(file photo)(प्रतीकात्मक तस्वीर)

मुंबई-अहमदाबाद के बीच प्रस्तावित बुलेट ट्रेन का किराया 250 रुपए से लेकर 3000 रुपए के बीच होगा। दूरी के आधार पर किराए का निर्धारण होगा। बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट के मैनेजिंग डायरेक्टर अचल खरे ने पहली बार बुलेट ट्रेन के संभावित किराए की जानकारी दी है। अचल खरे ने कहा कि यह किराया अनुमान और गणना के आधार पर तय किया गया है। खरे के अनुसार, मुंबई से अहमदाबाद के बीच का किराया 3000 रुपए होगा, वहीं बांद्रा-कुर्ला कॉम्पेक्स से लेकर थाणे तक का किराया सबसे कम यानि कि 250 रुपए होगा। बुलेट ट्रेन में सिर्फ एक ही बिजनेस क्लास कोच होगा, जिसका किराया 3000 रुपए से ज्यादा होगा।

सरकार के महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट के मैनेजिंग डायरेक्टर ने बताया कि बुलेट ट्रेन का सफर हवाई सफर के मुकाबले ज्यादा आरामदायक और कम समय लेने वाला होगा। अचल खरे ने कहा कि अगर आप टैक्सी से बांद्रा-कुर्ला कॉम्पलेक्स से थाणे तक का सफर तय करते हैं तो उसका किराया 650 रुपए होता है और करीब डेढ़ घंटे का समय लगता है। वहीं बुलेट ट्रेन में इसका किराया सिर्फ 250 रुपए होगा और समय की बात करें तो इस सफर में सिर्फ 15 मिनट लगेंगे। बुलेट ट्रेन में 10 कोच होंगे, जिसमें से एक बिजनेस क्लास कोच होगा। बिजनेस क्लास में खाना कॉम्पलीमेंटरी होगा, जबकि बाकी कोचों में भी ऑर्डर पर खाना मिलेगा।

सरकार का ड्रीम प्रोजेक्टः माना जा रहा है कि बुलेट ट्रेन का परिचालन साल 2022 से शुरु हो जाएगा। बुलेट ट्रेन मुंबई से अहमदाबाद के बीच करीब 500 किलोमीटर की दूरी तय करेगी और उसकी टॉप स्पीड 320 किलोमीटर प्रतिघंटा होगी। बताया जा रहा है कि बुलेट ट्रेन एक दिन में मुंबई से अहमदाबाद के बीच 70 ट्रिप लगाएगी।

क्या हुई है बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट पर प्रगतिः बुलेट ट्रेन के लिए करीब 1415 हेक्टेयर जमीन की जरुरत होगी। जमीन के अधिग्रहण के लिए सरकार ने करीब 10,000 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है। महाराष्ट्र सरकार ने तो जमीन अधिग्रहण के लिए बाकायदा किसानों को नोटिस भी जारी कर दिया है। सरकार ने ऐलान किया है कि किसानों को सर्किल रेट से 25 प्रतिशत ज्यादा पैसे दिए जाएंगे। वहीं बुलेट ट्रेन से करीब 3000-4000 लोगों को रोजगार मिलेगा। कंस्ट्रक्शन के दौरान करीब 30000-40000 लोगों को काम मिलेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App