ताज़ा खबर
 

कोरोना, लॉकडाउन से हुई बजट भाषण की शुरुआत, सबसे ज्यादा ‘टैक्स’ शब्द का इस्तेमाल, तीसरे नंबर पर ‘किसान’

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के 110 मिनट के बजट भाषण में सबसे ज्यादा 'टैक्स' शब्द का इस्तेमाल किया गया। दूसरे नंबर पर 'इन्फ्रास्ट्रक्चर' और तीसरे नंबर पर 'किसान' शब्द रहा। चार बार उन्होंने 'मोदी' नाम भी लिया।

Nirmala Sitharaman, budgetनिर्मला सीतारमण ने बजट भाषण में 131 बार बोला टैक्स। फोटो- पीटीआई

Budget 2021 Highlights: व‍ित्‍त मंत्री न‍िर्मला सीतारमन ने आज अपना तीसरा बजट पेश किया। कोरोना-काल में पेश हुए इस बजट भाषण की शुरुआत भी कोरोना और लॉकडाउन के ज‍िक्र से हुआ। बजट के शुरुआती ह‍िस्‍से में सरकार द्वारा कोरोना से न‍िपटने के ल‍िए जारी पैकेज और टीके का काफी जि‍क्र रहा। यह भी बताया गया क‍ि कोरोना से लड़ाई में भारत कैसे आगे रहा। साथ ही, हर‍िद्वार महाकुंभ तक की चर्चा हो गई। व‍ित्‍त मंत्री ने जब बजट भाषण का पार्ट ए पढ़ना शुरू क‍िया तो इसकी शुरुआत भी आत्‍मन‍िर्भर भारत से हुई। इसे 130 करोड़ भारतीयों की भावना बताया गया।

110 मिनट के इस बजट भाषण में निर्मला सीतारमण ने सबसे ज्यादा ‘टैक्स’ शब्द का इस्तेमाल किया। दूसरे नंबर पर ‘इन्फ्रास्ट्रक्चर’ का उच्चारण किया गया और तीसरे नंबर पर ‘किसान’ शब्द रहा। बजट के बाद पीएम मोदी ने भी कहा कि बजट के दिल में गांव और किसान हैं।

वित्त मंत्री ने कोविड शब्द का सात बार, पैंडेमिक का सात बार, प्रधानमंत्री का 6 बार, टैक्स का 131 बार, किसान का 18 बार और इन्फ्रास्ट्रक्चर का 57 बा इस्तेमाल किया गया। बजट भाषण में जीएसटी 15 बार, बोला गया। बता दें कि पिछली बार वित्त मंत्री ने 2 घंटे 42 मिनट का बजट भाषण दिया था। वहीं 2019 में उनका भाषण दो घंटे 15 मिनट का था। वित्त मंत्री ने इस बार के भाषण में टैक्स शब्द का सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया फिर भी इनकम टैक्स देने वाले मायूस ही रह गए। इस बार टैक्स स्लैब में कोई परिवर्तन नहीं किया गया है। हालांकि ITR फाइल करने की प्रक्रिया आसान ज़रूर की गई है।


वित्त मंत्री ने 75 साल से ज्यादा के बुजुर्गों को तोहफा दिया है और इन्हें आईटीआर भरने में छूट दे दी है। अब पेंशन से होने वाली कमाई पर भी लोगों को टैक्स नहीं देना होगा। स्वास्थ्य बजट में खासी बढ़ोतरी की गई है। इसे 94 हजार करोड़ से बढ़ाकर 2 लाख 23 हजार करोड़ कर दिया गया है। कोरोना वैक्सीन के लिए भी 35 हजार करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। बजट में पेट्रोल और डीज़ल पर सेस टैक्स लगाने का ऐलान किया गया वहीं एक्साइज ड्यूटी घटा दी गई।

Next Stories
1 पुराना लैपटॉप व डेस्कटॉप हो रहा हैंग, इन 3 तरीकों से बढ़ाएं उनकी स्पीड
2 Budget 2021 Highlights: रेल को म‍िला आवास मंत्रालय से दोगुना पैसा; स्‍वास्‍थ्‍य, श‍िक्षा से भी ज्‍यादा
3 Best Affordable Prepaid Plans: Airtel, Jio, Vi और BSNL के सबसे सस्ते रिचार्ज प्लान, जानें कीमत
ये पढ़ा क्या?
X