ताज़ा खबर
 

Budget 2020 Income Tax Calculator: नए टैक्स स्लैब का हुआ ऐलान, जानें कैसे करें आयकर की गणना

Income Tax Calculator: आयकर गणना के ल‍िए 60 साल तक के व्यक्ति को आय के विवरण के तौर पर टैक्स लायक सैलरी, आय पर मिलने वाला ब्याज, होम लोन का ब्याज, अन्य आय, किराए से मिलने वाली आय और लोन पर चुकाए जाने वाले ब्याज की जानकारी की जरूरत होगी।

income taxप्रतीकात्मक तस्वीर (सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

Income Tax Calculator: केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण बजट 2020 पेश कर रही हैं। ऐलान के मुताबिक 5 लाख रुपए तक की आय पर इन्कम टैक्स में छूट दी गई है। 5 लाख से लेकर 7.5 लाख तक 10 प्रतिशत टैक्स देना होगा। अभी तक यह दर 20% थी।  7.5 लाख से लेकर 10 लाख तक 15 प्रतिशत टैक्स देना होगा। वहीं 10 लाख से लेकर 12.5 लाख रुपए तक की आय पर टैक्स की दर 20% रखी गई है, जो कि अभी तक 30% थी।

12.5 लाख से लेकर 15 लाख तक आयकर की दर 25 प्रतिशत तय की गई है। 15 लाख रुपए से ज्यादा की आय पर 30% तक आयकर देना होगा। केन्द्रीय वित्त मंत्री ने कहा कि इन्कम टैक्स में सुधार विकास को गति देने के उद्देश्य से किए गए हैं। वित्त मंत्री ने बताया कि इन्कम टैक्स में राहत के चलते सरकार को 48 हजार करोड़ रुपए के राजस्व का नुकसान होगा।

फरवरी 2019 में बजट पेश करते हुए तत्कालीन वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने इनकम टैक्स स्लैब का दायरा बढ़ाकर पांच लाख रुपये कर दिया था। जुलाई में पेश हुए बजट में निर्मला सीतारमन ने भी उसी स्लैब को बरकरार रखा। यानी 5 लाख रुपये तक की सालाना टैक्सेबल आमदनी वाले करदाताओं को फिलहाल कोई टैक्स नहीं देना पड़ रहा है।

बजट 2020 से जुड़े लाइव अपडेट्स, हाईलाइट्स, लाइव स्‍ट्रीम‍िंग न्‍यूज, इनकम टैक्‍स स्‍लैब अपडेट पढ़ें।

5 लाख से ज्यादा आय वालों के टैक्स स्लैब में कोई बदलाव नहीं हुआ था। हालांकि, सेक्शन 80C के तहत 1.5 लाख रुपये का निवेश करने पर कुल 6.5 लाख रुपये की इनकम टैक्स फ्री हो गई है। यानी उन्हें 1.50 लाख रुपये के स्लैब का फायदा हुआ। सरकार ने स्टैंडर्ड डिडक्शन लिमिट भी 40 हजार रु. से बढ़ाकर 50 हजार रु. कर दिया था।

BUDGET SLAB BUDGET SLAB

आयकर गणना के ल‍िए  60 साल तक के व्यक्ति को आय के विवरण के तौर पर टैक्स लायक सैलरी, आय पर मिलने वाला ब्याज, होम लोन का ब्याज, अन्य आय, किराए से मिलने वाली आय और लोन पर चुकाए जाने वाले ब्याज की जानकारी की जरूरत होगी।

इसके साथ ही व्यक्ति आयकर एक्ट 80 सी के तहत मिलने वाली छूट, डिपॉजिट पर मिलने वाला ब्याज, मेडिकल इंश्योरेंस आद‍ि के तहत खर्च की गई रकम बतानी होगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अमित शाह के बेटे ने टीम इंडिया को दी बधाई तो ट्रोल करने लगे लोग- ‘अर्थव्यवस्था जैसी खस्ताहाल हो जाएगी BCCI’
2 Railway Budget 2020 Highlights: किसान रेल से बढ़ेगी अन्नदाता की आय, पर्यटन स्थलों को जोड़ेंगी नई तेजस ट्रेनें
3 Budget 2020 Speech: मोदी सरकार की उपलब्धियों और GST के शिल्पकार को याद कर FM ने शुरू किया बजट भाषण, पढ़ें- पूरी स्पीच
IPL Records
X