ताज़ा खबर
 

कश्मीर में सेना की गोलीबारी में एक उभरते क्रिकेटर की मौत, अंडर-19 कैंप में हुआ था शामिल

हंदवाड़ा में भीड़ सेना के जवान द्वारा एक छात्रा से कथित छेड़छाड़ के बाद प्रदर्शन कर रही थी। इसी के चलते गोलीबारी की गई थी।
Author श्रीनगर | April 13, 2016 08:31 am
नईम भट। (Facebook photo by Mehraj Dar)

जम्‍मू कश्‍मीर के हंदवाड़ा शहर में प्रदर्शनकारी भीड़ पर सेना की गोलीबारी में मारे गए दो युवकों में से एक उदीयमान क्रिकेटर भी था। गोलीबारी में मारा गया एक युवक नईम भट डिग्री कॉलेज का छात्र था। नईम के दोस्तों का दावा है कि वह तीन साल पहले अंडर-19 के राष्ट्रीय स्तर के क्रिकेट शिविर में भाग ले चुका था।

नईम की मौत के बाद सोशल मीडिया पर उसकी तस्वीरें डाली जा रहीं हैं जिनमें एक तस्वीर में उसे जम्मू कश्मीर के हरफनमौला खिलाड़ी परवेज रसूल के साथ नेट अभ्यास करते हुए देखा जा सकता है। नईम के दोस्‍त वसीम ने बताया कि वह क्रिकेट को लेकर दीवाना था।

Read Alsoजम्‍मू कश्‍मीर: सेना के जवान पर छेड़छाड़ के आरोप पर प्रदर्शन, सेना की गोलीबारी में तीन मरे

बता दें कि भीड़ सेना के जवान द्वारा एक छात्रा से कथित छेड़छाड़ के बाद प्रदर्शन कर रही थी। मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा कि युवकों की हत्या में शामिल जवानों को कठोर सजा दी जाएगी। इस तरह की घटनाएं बर्दाश्त नहीं की जा सकतीं जिनका राज्य सरकार के शांति लाने के प्रयासों पर नकारात्मक असर पड़ता है। सेना ने जांच का आदेश दे दिया है वहीं जम्मू कश्मीर पुलिस ने आपराधिक मामला दर्ज कर लिया है और घटना की जांच शुरू कर दी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. A
    Ashish
    Apr 13, 2016 at 3:50 am
    Indian express और जनसत्ता के आलावा ऐसा कोई न्यूज़ पेपर नहीं यह केवल इनदोनो न्यूज़ पेपर द्वारा की सेना के एक जवान ने कश्मीरी छात्रा के साथ छेड़छाड़ की एक साजिस है आज तक में खुलेशा हुआ है केवल indianएक्सप्रेस और जनसत्ता हमेशा सेना को बदनाम कर रही है
    (3)(0)
    Reply
    1. A
      Ashish
      Apr 13, 2016 at 3:51 am
      यह जनाब मारे गए है दुःख है लेकिन यह वहाँ क्या कर रहे थे केवल अपना विरोध दिखा रहे थे
      (0)(0)
      Reply
      1. D
        Dr B
        Apr 13, 2016 at 4:23 am
        ये लड़की जवान को गली गलोच कर रही थे | जवान ने सिर्फ उसको ऐसा न करने के लिए डाटा था | लेकिन भारतीय सेना के ऊपर झुटा आरोप लगाना और पत्थरबाजी करना ये आलगाववादी लोगोंकी हरदिन का काम है |
        (4)(0)
        Reply
        1. A
          Aam
          Apr 13, 2016 at 7:28 am
          जिस देश में खाया पिया नंगा नहाया उसका झंडा लहराने में तकलीफ क्यों?? bewajah ki nautanki
          (0)(0)
          Reply
          1. J
            jai prakash
            Apr 13, 2016 at 5:37 am
            जनसत्ता कुछ भी छाप सकता हे खसकर जिससे देश की बदनामी हो
            (1)(0)
            Reply
            1. Load More Comments