ताज़ा खबर
 

BSF ने दिया गोलीबारी का ऐसा जवाब कि पाक रेंजर्स ने फोन कर कहा- प्‍लीज, फायरिंग रोक दो

पाकिस्तान ने फायरिंग शुरू की तो बीएसएफ ने मुंहतोड़ जवाब देते हुए सीमा पार के बंकर को ही उड़ा दिया। यह देखकर पाकिस्तान के होश उड़ गए और वहां के रेंजर्स ने फोन कर बीएसएफ से शांति की अपील की।

Author नई दिल्ली | May 20, 2018 8:24 PM
यहां इस तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रतीक के तौर पर किया गया है।

पाकिस्तान ने फायरिंग शुरू की तो बीएसएफ ने मुंहतोड़ जवाब देते हुए सीमा पार के बंकर को ही उड़ा दिया। यह देखकर पाकिस्तान के होश उड़ गए और वहां के रेंजर्स ने फोन कर बीएसएफ से शांति की अपील की। पाकिस्तानी हमले में एक जवान सहित पांच नागरिकों के मरने के बाद से बीएसएफ ने ताबड़तोड़ जवाबी कार्रवाई शुरू की थी। बीएसफ ने अंतरराष्ट्रीय सीमा के करीब स्थित पाकिस्तानी चौकी को उड़ा दिया।
सीमा सुरक्षा बल(बीएसएफ) ने रविवार(20 मई) को कहा कि पाकिस्तानी रेंजर्स ने सीमा पर जवाबी फायरिंग रोकने की अपील की है।सीमा सुरक्षा बल ने 19 सेकंड का एक फुटेज भी जारी किया, फायरिंग के चलते पाकिस्तानी चौकी के नष्ट होने का दृश्य दिखता है। बीएसएफ के एक प्रवक्ता ने बताया कि पाकिस्तानी रेंजर्स ने रविवार(20 मई) को फोन कर गोलीबारी रोकने को कहा। एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक बीएसएफ की ओर से प्रत्याशित गोलीबारी और ताबड़तोड़ जवाब ने पाकिस्तान को इस अपील के लिए मजबूर किया।पाकिस्तानी रेंजर्स की फायरिंग के जबाब में सीमा सुरक्षा बल के जवान पिछले तीन दिनों से लगाातर सटीक ठिकानों पर गोलीबारी कर रहे थे, जिससे पाकिस्तानी रेंजर्स को काफी नुकसान हो रहा था।

इस गोलीबारी में बीएसएफ के भी दो जवान शहीद हुए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे के चलते सीमापार से फायरिंग की घटनाओं में बढ़ोत्तरी देखी गई। इस फायरिंग में कई नागरिकों के भी मारे जाने और घायल होने की खबर है।अब तक घाटी में गोलीबारी की सात सौ से अधिक घटनाएं हो चुकीं हैं, जिसमें 18 सुरक्षाकर्मियों सहित 38 लोग घायल हुए।बीएसएफ के सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तानी रेंजर्स ने जम्मू के आरएसपुरा, बिशनाह, अरनिया आदि इलाकों में गुरुवार रात करीब एक बजे से गोलीबारी शुरू की थी। जिसमें जबोवल सीमा चौकी पर तैनात जवान शहीद हो गया था।अगले दिन सेना ने कुपवाड़ा के ब्रिंजाल इलाके में तीन आतंकियों को ढेर कर दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App