ताज़ा खबर
 

ब्रिक्स सम्मेलन: पाकिस्तान की तरफ से भारत को ‘मनाने’ की कोशिश कर सकता है चीन

गोवा में हो रहे ब्रिक्स सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच मुलाकात होगी।
Author October 15, 2016 07:38 am
ब्रिक्स सम्मेलन गोवा में हो रहा है।

गोवा में हो रहे ब्रिक्स सम्मेलन में शनिवार (15 अक्टूबर) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच मुलाकात होगी। यह दोनों के बीच होने वाली नौंवी मुलाकात होगी। इंडियन एक्सप्रेस को जानकारी मिली है कि इस बातचीत में चीन की तरफ से पाकिस्तान का मुद्दा उठाया जा सकता है। जानकारी के मुताबिक, पाकिस्तान ने कूटनीतिक और राजनीतिक तरीकों से चीन से इस बारे में बात की है। शी जिनपिंग शनिवार को दोपहर 1.10 पर भारत आएंगे। शाम 5.40 पर वह पीएम मोदी से मुलाकात करेंगे। जानकारी के मुताबिक, चीन पाकिस्तान की तरफ से भारत को बॉर्डर पर ‘संयम’ बरतने और खटास में चल रहे रिश्तों को सुधारने के लिए मनाने की कोशिश कर सकता है। इसके लिए पाक उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने चीन के राजदूत लू जाउई से बातचीत भी की थी। इसके बाद लू ने नेशनल सिक्योरिटी एडवाइजर अजीत डोभाल से मिलकर शी जिनपिंग और मोदी के बीच होने वाली इस द्विपक्षीय बातचीत के बारे में बात की। जानकारी के मुताबिक, शी जिनपिंग मोदी को भारत-चीन बॉर्डर का उदाहरण दे सकते हैं। हालांकि, इस बॉर्डर पर भी तनाव रहता है लेकिन हिंसा ना के बराबर ही होती है।

वीडियो: स्पीड न्यूज

सूत्रों ने यह भी बताया कि अगर चीन ने पाकिस्तान का राग छेड़ा तो मोदी भी चुप नहीं रहेंगे। मोदी भी चीन को कहेंगे कि वह पाकिस्तान को समझाए ताकि दोनों देशों के बीच रिश्ते सुधर सकें। भारत की तरफ से चीन को यह भी बताया जाएगा कि अगर पाकिस्तान में आंतकवाद का खात्मा नहीं हुआ तो उसका चीन-पाक कॉरिडोर भी खतरे में पड़ सकता है। मोदी आतंकी मसूद अजहर की बात भी छेड़ सकते हैं। शी जिनपिंग को उसके खिलाफ सबूत दिखाए जाने की बात सामने आई है। इसके अलावा न्यूक्लियर स्पलायर्स ग्रुप (NSG) में एंट्री को लेकर भी भारत बात कर सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.