ताज़ा खबर
 

अक्षय कुमार को SIT ने किया तलब, इस मामले में होगी पूछताछ

पंजाब सरकार के मुताबिक, एसआईटी के समक्ष प्रकाश को 16 नवंबर, सुखबीर बादल को 19 नवंबर और अक्षय को 21 नवंबर को हाजिर होना पड़ेगा।"

बॉलीवुड कलाकार अक्षय कुमार। (फोटोः पीटीआई)

जाने-माने बॉलीवुड कलाकार अक्षय कुमार की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। पंजाब पुलिस की स्पेशल इनवेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) ने सिखों के पवित्र धर्मग्रंथ गुरु ग्रंथ साहिब के अपमान के मामले में उन्हें और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल व पूर्व उप-मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल को तलब किया है। पंजाब सरकार इस बाबत इन तीनों से अगले हफ्ते तक पछताछ करेगी, जिसे लेकर पंजाब सरकार ने ट्वीट भी किया।

राज्य सरकार की ओर से टि्वटर पर लिखा गया, “पुलिस फायरिंग की घटनाओं की जांच कर रही एसआईटी ने बरगाड़ी गांव में धर्म ग्रंथ के अपमान के मामले में पूछताछ को लेकर प्रकाश, सुखबीर बादल के साथ अक्षय को समन भेजा है। प्रकाश को एसआईटी के समक्ष 16 नवंबर, सुखबीर को 19 नवंबर और अक्षय को 21 नवंबर को अमृतसर स्थित सर्किट हाउस में हाजिर होना पड़ेगा।”

चंडीगढ़ में जारी आधिकारिक विज्ञप्ति के मुताबिक, एसआईटी सदस्य और आईजी रैंक के अधिकारी कुंवर विजय प्रताप सिंह ने अलग-अलग समन आदेश जारी किए। एसआईटी, राज्य में बेअदबी की कई घटनाओं के बाद साल 2015 में फरीदकोट में कोटकपूरा और बहबल कलां में गोलीबारी की घटनाओं की जांच कर रही है। बहबल कलां में पुलिस गोलीबारी में दो लोगों की मौत हुई थी।

पवित्र ग्रंथ के अपमान का सबसे पहला मामला जून 2015 में सामने आया था। यह घटना फरीदकोट जिले के बुर्ज जवाहर सिंह वाला गांव की थी, जिसके बाद 12 अक्टूबर को बरगाड़ी गांव (उसी जिले में) में गुरु ग्रंथ साहिब के 110 पन्नों के साथ छेड़छाड़ की गई थी। राज्य भर में इसके कुछ दिन बाद तक ऐसी घटनाएं देखने को मिली थीं।

सिखों के पवित्र ग्रंथ के साथ छेड़छाड़ और अपमान की घटनाएं राज्य के विभिन्न हिस्सों में होने के बाद विरोध प्रदर्शन हुए, जिसमें लोगों ने आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग उठाई। मोगा जिले के बहबल कलां में प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने को लेकर पुलिस ने फायरिंग कर दी थी, जिसमें दो लोगों की जान चली गई थी। पुलिस ने इसके अलावा फरीदकोट के कोटकपुरा में भी प्रदर्शनकारियों पर गोली चलाई थी।

सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस मामले को लेकर जांच आयोग बिठाया था, जिसने पाया कि इस मामले के तार के डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम से जुड़े थे।रिपोर्ट्स के मुताबिक, अक्षय पर आरोप है कि उन्होंने बादल और राम रहीम की मुलाकात कराई। हालांकि, बॉलीवुड कलाकार इन आरोपों को गलत ठहराते हैं। उनका कहना है कि वह आज तक राम रहीम से नहीं मिले हैं, जबकि पिछले साल जनवरी में उनकी पत्नी ने राम रहीम का फोटो ट्वीट कर बताया था कि वह उनके पड़ोस में रहने आया है। राम रहीम पर रेप के आरोप हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App