ताज़ा खबर
 

UP: नगरपालिका की शर्मनाक करतूत, सड़क पर हुई थी शख्स की मौत, कोरोना के डर से कूड़ा गाड़ी में उठाया शव

वीडियो में नजर आ रहा है कि घटनास्थल पर एंबुलेंस भी मौजूद है लेकिन कोरोना के डर से यह लोग शव को हाथ नहीं लगा रहे हैं कि कहीं इन लोगों को भी उस शख्स कोरोना का संक्रमण ना हो जाए।

Author नई दिल्ली | Updated: June 11, 2020 11:04 PM
Corona Virus, UP, Balrampurनगरपालिका के कर्मचारियों ने यहां एक शख्स की मौत के बाद उसके कोरोना संक्रमित होने के डर से उसके शव को कूड़ागाड़ी में उठाया। (फोटो- सोशल मीडिया)

उत्तर प्रदेश के बलरामपुर में नगरपालिका की शर्मनाक करतूत सामने आई है। यहां सड़क पर एक शख्स की मौत के बाद उसके शव को कूड़ा गाड़ी में उठाने का मामला सामने आया है। इस घटना का एक वीडियो सामने आया है जहां नगरपालिका कर्मचारी शव को कूड़ा गाड़ी में लादकर थाने ले जा रहे हैं।

वीडियो में नजर आ रहा है कि घटनास्थल पर एंबुलेंस भी मौजूद है लेकिन कोरोना के डर से यह लोग शव को हाथ नहीं लगा रहे हैं कि कहीं इन लोगों को भी उस शख्स कोरोना का संक्रमण ना हो जाए। इस मामले में 7 सरकारी कर्मचारी सस्पेंड कर दिए गए हैं, जिनमें एक सब-इंस्पेक्टर, 2 कॉन्स्टेबल और 4 नगरपालिका के कर्मचारी शामिल हैं।

क्या है मामला:  दरअसल, बलरामपुर जिले की उतरौला तहसील में 42 वर्षीय मोहम्मद अनवर किसी काम से बाजार आए थे। इस दौरान तहसील के गेट पर वो अचानक से अचेत होकर गिर पड़े। यह देखकर लोगों ने घटना की जानकारी पुलिस और एम्बुलेंस को दी। जानकारी मिलने पर वहां एम्बुलेंस और पुलिस पहुंची लेकिन किसी ने उन्हें अस्पताल नहीं पहुंचाया।

इन लोगों ने उन्हें मरा जानकर नगरपालिका की कूड़ा ढोने वाली गाड़ी बुलाई और शव को गाड़ी में डालकर थाने ले गए। बाद में डॉक्टर्स ने उन्हें मृत घोषित किया। हालांकि अभी यह साफ नहीं है कि उस शख्स की मौत कोरोना के चलते हुई है या नहीं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 यूपी के मुख्य सचिव ने ज़्यादा कोरोना टेस्ट करने वाले डीएम को हड़काया? पूर्व आईएएस ने किया ट्वीट तो हुई एफ़आईआर
2 शर्मनाक: कोरोना पीड़ित पिता को अहमदाबाद में बाइक पर लेकर अस्पतालों के चक्कर लगाता रहा बेटा, हो गई मौत
3 भारत बेहतर रेटिंग का हकदार है, देनदारी चुकाने की क्षमता, बोले- मोदी सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार