ताज़ा खबर
 

Freedom 251: दाल के बदले फोन से घाटा पूरा करेगी कंपनी, ‘Smart क्रांति’ से केजरी दुखी, मोदी खुश!

Freedom 251 का फोन लाने वाले मोहित जी सिर्फ नरेंद्र मोदी की ही राह आसान नहीं है बल्कि भक्‍तजनों को भी महंगाई के इस दौर में राहत दी है।

Author नई दिल्‍ली | February 20, 2016 9:27 AM
Freedom 251 के लॉन्‍च में बीजेपी नेता मुरली मनोहर जोशी भी मौजूद रहे।

आजकल पूरा राजनीतिक जगत हैरान है। फिर चाहे दशकों पहले देश में ‘सस्‍ती राजनीति’ इंट्रोड्यूज करने वाली कांग्रेस हो या फिर 2014 में चमत्‍कार कर चुके पीएम मोदी। पॉलिटिक्‍स में कुछ साल पुराने केजरी तो सबसे ज्‍यादा आहत हैं। इन्‍हें दर्द देने वाला कोई और नहीं बल्कि Freedom 251 के जरिए देश में ‘स्‍मार्ट क्रांति’ लाने वाले मोहित गोयल हैं। लेकिन मन ही मन पीएम मोदी बड़े खुश हैं।

Read Also: Read Also: Pics: Freedom 251 दिखने में iPhone जैसा, बैक कवर पर बना है तिरंगा

मोदी को अब 2019 चुनाव में जीत पक्‍की लग रही है। MAKE IN INDIA में भले ही विदेशी कंपनियां ज्‍यादा इन्‍वेस्‍ट न कर रही हों, लेकिन शामली के लड़के ने 251 रुपए का फोन लॉन्‍च कर दिया। फ्रांस की जिस कंपनी से रफाल फाइटर प्‍लेन की डील, अमेरिका के हॉवित्‍जर तोप सौदा ये सभी MAKE IN INDIA के तहत हुए हैं। मोहितजी का मॉडल फॉलो हुआ तो संभव है कि रफाल फाइटर प्‍लेन जो अभी भारत को करोड़ों का पड़ रहा है, वो MAKE IN INDIA के तहत 700 या 800 रुपए बन जाए। हॉवित्‍जर तोप 400 से 500 रुपए के खर्च पर कहीं शामली या बागपत या फिर दिल्‍ली के नजदीक स्थित विश्‍ख्‍यात खोड़ा कॉलोनी में बना लिया जाए।

Read Also: सस्‍ता स्‍मार्टफोन FREEDOM 251 लॉन्‍च, पर आपको याद हैं ये सबसे सस्‍ते प्रोडक्‍ट्स?

Freedom 251 का फोन लाने वाले मोहित जी के जरिए सिर्फ नरेंद्र मोदी की ही राह आसान नहीं हुई है बल्कि जनता को भी महंगाई के इस दौर में राहत दी है। वे मंदिर में 500 रुपए किलो देशी घी के लड्डू के बजाय 251 रुपए का फोन आसानी से दान दे सकते हैं।

Read Also: किराने की दुकान चलाते थे Freedom 251 के मालिक, खातों की जांच करने पहुुंचे इनकम टैक्‍स अधिकारी

वैसे सूत्र तो यह भी बता रहे हैं कि भारत में ‘टॉय मोबाइल’ बनाने वाली सभी कंपनियों का विलय Freedom 251 फोन बनाने वाली कंपनी में होने जा रहा है। कई विदेशी कंपनियां शामली वाले मोहितजी को तलाश रही हैं और MAKE IN INDIA के तहत काम करने को तैयार हैं।

Read Also: Freedom 251: घोटाले के आरोप के बाद बिना पैसे शुरू की बुकिंग, एक करोड़ ऑर्डर मिलने का दावा

वहीं, शामली वाले भाईसाहब के ऑफिस के कुछ लोगों ने बिल्‍कुल पक्‍की बात बताई है कि कंपनी ने घाटा पूरा करने के लिए तगड़ा प्‍लान बनाया है। इसके तहत आने वाले दिनों में दो किलो अरहर की दाल के बदले Freedom 251 स्‍मार्टफोन बेचा जाएगा। कंपनी की कोर टीम को पूरा भरोसा है कि दाल के बदले फोन स्‍कीम सफल रहेगी और करीब 4000 करोड़ का घाटा एक ही महीने पूरा कर लेगी। हालांकि, कंपनी के लिए आने वाले कुछ दिन चुनौतियों से भरे हैं, क्‍योंकि हरियाणा में जाट, गुजरात के पाटीदार, यूपी-बिहार के यादव, राजस्‍थान के गुर्जर और मराठियों के लिए लड़ने वाली शिवसेना ने फोन बिक्री में 33 फीसदी आरक्षण की मांग की है। इनका कहना है कि ग्रामीण इलाकों में इंटरनेट की सुविधा नहीं है, इसलिए फोन बुक कराने में वे और से पिछड़ गए हैं। ऐसे में फोन खरीदने के उनके अधिकार पर कुठाराघात हुआ है।

(लेख में लिखे गए तथ्‍य काल्‍पनिक हैं और व्‍यंग्‍य के तौर पर लिखे गए हैं।)

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App