मुंबई में किसानों की महापंचायत आज, बोले BKU के राकेश टिकैत- MSP, स्वामीनाथन रिपोर्ट और बेरोजगारी होगा मुद्दा

भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि आज की बैठक में MSP की मांग के अलावा, स्वामीनाथन की रिपोर्ट को लागू करने और बेरोजगारी जैसे मुद्दों पर चर्चा की जाएगी।

Rakesh Tikait Mumbai
किसान नेता राकेश टिकैत (Photo Source- ANI)

अपनी मांगों पर अड़े 100 से ज्यादा संगठन मुंबई के आजाद मैदान में संयुक्त शेतकरी कामगार मोर्चा (एसएसकेएम) के बैनर तले ‘किसान-मजदूर महापंचायत’ का आयोजन करेंगे। इस बैठक से पहले मीडिया से बात करते हुए भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि आज की बैठक में MSP की मांग के अलावा, स्वामीनाथन की रिपोर्ट को लागू करने और बेरोजगारी जैसे मुद्दों पर चर्चा की जाएगी।

29 मार्च का ट्रैक्टर मार्च स्थगित: किसान नेताओं ने शनिवार को कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) ने संसद तक 29 नवंबर को बुलाए गए ट्रैक्टर मार्च को स्थगित कर दिया है और अगले महीने एक बैठक में आगे की कार्रवाई तय की जाएगी।

सिंघू बॉर्डर प्रदर्शन स्थल पर किसान संगठनों की बैठक के बाद संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए किसान नेताओं ने केंद्र से उनकी लंबित मांगों के समाधान के लिए बातचीत फिर से शुरू करने का भी आह्वान किया। एसकेएम नेताओं ने कहा कि किसानों का आंदोलन तब तक जारी रहेगा जब तक कि न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की कानूनी गारंटी और किसानों के खिलाफ मामलों को वापस लेने की उनकी मांगों को सरकार द्वारा स्वीकार नहीं किया जाता है।

चार दिसंबर को होगी अगली बैठक: किसान नेता दर्शन पाल सिंह ने कहा कि एसकेएम अपनी अगली बैठक चार दिसंबर को आयोजित करेगा, जिसमें प्रधानमंत्री को लिखे अपने पत्र पर सरकार की प्रतिक्रिया का विश्लेषण किया जाएगा और उसके अनुसार आगे की कार्रवाई तय की जाएगी। बताते चलें कि एसकेएम ने 21 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को छह मांगों को लेकर एक खुला पत्र लिखा और इन पर सरकार के साथ बातचीत फिर से शुरू करने की मांग की।

किसानों की 6 मांगें: किसानों की मांगों में MSP के लिए कानूनी गारंटी, पराली जलाने के लिए और आंदोलन के दौरान किसानों के खिलाफ दर्ज मामलों को वापस लेना, विरोध के दौरान जान गंवाने वाले किसानों के लिए स्मारक बनाना, बिजली संशोधन विधेयक को वापस लेना और केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा को हटाने की मांग शामिल है, जिनका बेटा बेटा लखीमपुर खीरी हिंसा का आरोपी है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।