ताज़ा खबर
 

पश्चिम बंगाल चुनावः हाहाकार मचा तब जागी बीजेपी, अब पीएम की रैली में भी होंगे केवल 5 सौ लोग

प्रधानमंत्री मोदी 23 अप्रैल को पश्चिम बंगाल में चार रैलियों को संबोधित करेंगे। ये रैलियां मालदा, मुर्शिदाबाद, सिवली और दक्षिण कोलकाता में होगी।

BJP, corona, west benagl rallyकोरोना के बढ़ते संक्रमण को ध्यान में रखकर भाजपा ने यह फैसला किया है कि अब प्रधानमंत्री मोदी समेत सभी नेता पश्चिम बंगाल में छोटी जनसभाओं को ही संबोधित करेंगे। इसमें सिर्फ 500 लोगों को ही शामिल होने की अनुमति होगी। (फोटो- पीटीआई)

कोरोना के बढ़ते मामलों, लोगों और विपक्षी दलों के द्वारा उठाए जा रहे सवाल के बाद आख़िरकार भारतीय जनता पार्टी ने अपनी जनसभाओं को छोटा करने का फैसला कर लिया है। भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जे पी नड्डा के अनुसार बाकी बचे चरणों के लिए होने वाले चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री मोदी समेत सभी बड़े नेताओं की रैली में सिर्फ 500 लोगों को ही शामिल होने की अनुमति होगी। इसके अलावा सभी रैलियां खुली जगहों पर ही होगी।

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा ने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ हुई वर्चुअल मीटिंग में कहा कि पश्चिम बंगाल में चुनाव का पूरा होना भी जरूरी है। इसलिए कोरोना के बढ़ते संक्रमण को ध्यान में रखकर यह फैसला किया गया कि अब प्रधानमंत्री मोदी समेत सभी नेता पश्चिम बंगाल में छोटी जनसभाओं को ही संबोधित करेंगे। इसमें सिर्फ 500 लोगों को ही शामिल होने की अनुमति होगी। साथ ही ये सभी रैलियां खुले मैदान में आयोजित की जाएगी और इसमें कोरोना प्रोटोकॉल का भी पूरा ध्यान रखा जाएगा।

इसके अलावा भाजपा ने पश्चिम बंगाल में 6 करोड़ मास्क और सेनिटाइजर वितरित करने का लक्ष्य भी रखा है। साथ ही भाजपा की तरफ से हर राज्यों में कोरोना हेल्पडेस्क भी बनाया जाएगा। बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी 23 अप्रैल को पश्चिम बंगाल में चार रैलियों को संबोधित करेंगे। ये रैलियां मालदा, मुर्शिदाबाद, सिवली और दक्षिण कोलकाता में होगी। पीएम मोदी के संबोधन के दौरान बड़ी बड़ी स्क्रीन लगाई जाएगी ताकि लोग दूर से ही उनके भाषण को सुन सकें और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा सके।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी कोरोना के बढ़ते संक्रमण को लेकर चुनाव आयोग से एक ही चरणों में विधानसभा चुनाव कराने का आग्रह किया। उत्तर दिनाजपुर के चाकुलिया में लोगों को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि मैं चुनाव आयोग से हाथ जोड़कर निवेदन करती हूं कि तीन चरणों के चुनाव को एक ही दिन या दो दिन में कराया जाए। कृपया लोगों के जीवन के साथ न खेलें। इसके अलावा मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कोरोना की दूसरी लहर के लिए प्रधानमंत्री मोदी को जिम्मेदार ठहराया।

बता दें कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी कोरोना के बढ़ते मामलों को ध्यान में रखकर अपनी चुनावी रैलियां पहले ही रद्द कर चुके हैं। राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा था कि कोरोना की भयंकर रफ्तार की वजह से वो सभी रैलियां रद्द कर रहे हैं। साथ ही उन्होंने कहा था कि राजनीतिक दलों को यह सोचना चाहिए कि ऐसे समय में इन रैलियों से जनता व देश को कितना खतरा है। पश्चिम बंगाल में अभी तीन चरणों के विधानसभा चुनाव बाकी हैं।

Next Stories
1 झारखंडः हेल्थकेयर सिस्टम मजबूत करने के बजाए अर्थी तैयार करवा रही सरकार
2 योगी सरकार की हाईकोर्ट को ना, बोली-लोगों की आजीविका भी बचानी है, लॉकडाउन नहीं लगा सकते
3 एमपी में लाठीचार्ज पर कांग्रेस का वार- लाठी से कोरोना नहीं भागता, रैलियां छोड़ काम करे सरकार
यह पढ़ा क्या?
X