ताज़ा खबर
 

Mumbai Mayor Election: शिवसेना के खिलाफ चुनाव नहीं लड़ेगी BJP, शरद पवार ने महाराष्ट्र की सियासत पर दिया बड़ा बयान

आशीष शेलार ने कहा, 'भारतीय जनता पार्टी मुंबई मेयर का चुनाव नहीं लड़ेगी क्योंकि पार्टी के पास निगम में पर्याप्त संख्याबल नहीं है। बीजेपी किसी भी पार्टी के साथ गठबंधन नहीं करना चाहती। 2022 में हमारे पास खुद का पर्याप्त संख्या बल होगा।'

Author मुंबई | Published on: November 18, 2019 12:03 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर

महाराष्ट्र में सत्ता संघर्ष और शिवसेना (Shiv Sena) से बिगड़े रिश्तों के बीच मुंबई से एक बड़ी खबर सामने आई है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक ब्रह्ममुंबई महानगर पालिका (BMC) के महापौर के लिए होने वाले चुनाव (Mumbai Mayor Election) में बीजेपी, शिवसेना के खिलाफ अपना प्रत्याशी नहीं उतारेगी। पार्टी ने पर्याप्त संख्याबल न होना इसकी वजह बताई है।

…इसलिए बीजेपी नहीं लड़ेगीः बीजेपी नेता आशीष शेलार ने कहा, ‘भारतीय जनता पार्टी मुंबई मेयर का चुनाव नहीं लड़ेगी क्योंकि पार्टी के पास निगम में पर्याप्त संख्याबल नहीं है। बीजेपी किसी भी पार्टी के साथ गठबंधन नहीं करना चाहती। 2022 में हमारे पास खुद का पर्याप्त संख्या बल होगा।’ बता दें कि पिछले चुनाव में शिवसेना के विश्वनाथ महादेश्वर बीजेपी के समर्थन से मेयर बने थे। तब शिवसेना ने ही समर्थन देकर विधानसभा में बीजेपी को सत्तासीन होने में मदद की थी। 2014 में विधानसभा चुनाव और बीएमसी चुनाव बीजेपी-शिवसेना ने अलग-अलग लड़ा था लेकिन चुनाव के बाद दोनों ही स्पष्ट बहुमत नहीं हासिल कर पाई थी और दोनों ने गठबंधन कर लिया था।

शरद-सोनिया की मुलाकात अहमः इधर राज्य में सरकार बनाने को लेकर दोनों दलों की तकरार के बाद गठबंधन को बहुमत मिलने के बावजूद सरकार नहीं बन पाई। अब शिवसेना को कांग्रेस के समर्थन का इंतजार है। दिल्ली में सोमवार (18 नवंबर) को एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार (Sharad Pawar) कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) से मुलाकात करेंगे। यह बैठक करीब शाम को करीब 4 बजे होगी। महाराष्ट्र में फिलहाल राष्ट्रपति शासन लगा हुआ है और राज्य की सियासत के लिहाज से यह बेहद अहम मुलाकात मानी जा रही है।

Hindi News Today, 18 November 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की बड़ी खबरों के लिए क्लिक करें

शरद पवार ने दिया बड़ा बयानः दिल्ली में मीडिया से बातचीत के दौरान शरद पवार ने सरकार गठन के सवाल पर कहा कि यह सवाल बीजेपी-शिवसेना से पूछा जाना चाहिए, क्योंकि उनके गठबंधन को बहुमत मिला है। एनसीपी-कांग्रेस संग शिवसेना के गठबंधन की मशक्कत और असमंजस के बीच पवार का यह बयान बेहद अहम है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 आसाराम केस के प्रमुख गवाह पर हमला, कहा- समझौते के लिए बनाया जा रहा दबाव
2 ‘अर्बन नक्सल, अराजकतावादी और नास्तिक जा रहे सबरीमाला’, मोदी सरकार के मंत्री का दावा
3 ‘अपुन ही भगवान है वाली सोच गलत’, BJP पर भड़के संजय राउत ने ट्वीट किया यह नया शेर
जस्‍ट नाउ
X