ताज़ा खबर
 

बिहार में भाजपा की लहर, विकास के लिए सत्ता परिवर्तन जरूरी: मुलायम सिंह

समाजवाद पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव का भाजपा प्रेम फिर से जाग उठा है। उन्होंने बिहार में भाजपा की लहर का दावा करते हुए कहा कि वे बिहार की सत्ता में बदलाव चाहते हैं..

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव (पीटीआई फाइल फोटो)

समाजवाद पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव का भाजपा प्रेम फिर से जाग उठा है। उन्होंने बिहार में भाजपा की लहर का दावा करते हुए कहा कि वे बिहार की सत्ता में बदलाव चाहते हैं।

उन्होंने भाजपा की तारीफ में कसीदे पढ़ते हुए कहा, “बिहार में भाजपा की लहर है। बिहार में जो विकास होना चाहिए था, वह नहीं हुआ इसलिए सत्ता परिवर्तन जरूरी है।”

धोखेबाज़ है नीतीश:

एक चुनावी सभा में मुलायम सिंह ने कहा कि चारा घोटाले में पांच साल की सजा होने से लालू को भारी राजनीतिक नुकसान हुआ पर आश्चर्य है कि उन्होंने नीतीश के साथ जाने का निर्णय लिया। मुलायम ने नीतीश को धोखेबाज बताते हुए कहा कि जनता परिवार को एकजुट करने में उन्होंने शुरुआत में तो सहयोग किया पर बाद में धोखा दिया।

लालू की कैसी मजबूरी:

समाजवादी पार्टी (सपा) प्रमुख मुलायम सिंह ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर धोखा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि पता नहीं राजद प्रमुख लालू प्रसाद की क्या मजबूरी थी कि चारा घोटाला मामले में नीतीश के उनको सजा दिलवाने के बावजूद वह उनके साथ जा खड़े (बिहार विधानसभा चुनाव में गठबंधन) हुए।

नीतीश के विकास पर सवाल:

एक चुनावी रैली में मुलायम ने नीतीश के अपने शासनकाल के दौरान किए गए विकास के दावे पर प्रश्न खड़ा करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव की सरकार ने साढ़े तीन साल की अवधि में जितना विकास का काम किया उतना नीतीश अपने दस साल के शासनकाल के दौरान नहीं कर पाए।

उल्लेखनीय है कि बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर बने नीतीश नीत धर्मनिरपेक्ष महागठबंधन में सपा के लिए पहले एक भी सीट नहीं देने और बाद में छोड़ी गई तीन सीटें राकांपा के अस्वीकार कर दिए जाने पर उक्त सीटों के साथ लालू ने अपनी दो सीटें (कुल पांच) सपा को दी थी जिसे लेने से इनकार करते हुए उसने महागठबंधन से नाता तोड़कर राकांपा सहित चार अन्य दलों के साथ मिलकर तीसरे मोर्चे का गठन कर लिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App