ताज़ा खबर
 

संबित पात्रा का अभय दुबे को जवाब- मुंगेर कांड की तुलना फ़्रांस की घटना से ना करें, कांग्रेस ने उठाया था नरेंद्र मोदी की चुप्पी पर सवाल

भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि मुझे आश्चर्य है कि यहां मुंगेर की घटना को आतंकवादी घटना बताकर फ्रांस की गला काटने वाली घटना के साथ तुलना किया जा रहा है...

munger, sambit patraसंबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस प्रवक्ता मुंगेर और फ्रांस की घटना की तुलना कर रहे हैं।

न्यूज चैनल ‘आज तक’ पर डिबेट के दौरान कांग्रेस प्रवक्ता अभय दुबे ने बिहार के मुंगेर में हुई घटना पर पीएम नरेंद्र मोदी की चुप्पी को लेकर सवाल उठाया। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि ‘ मैं यह स्पष्ट रूप से भारतीय जनता पार्टी से पूछना चाहता हूं कि ये तो संस्थागत आतंकवाद है जो मुंगेर में हो गया..मैंने देखा कि मुंगेर की तरफ प्रधानमंत्री जी ने मुंह तक नहीं किया…भारतीय जनता पार्टी के लोग यहां की जनता को दोषी ठहराते रहे कि वो हिंसा फैलाते हैं, असामाजिक तत्वों ने हिंसा किया…यूपी के कमलेश तिवारी कांड पर पीएम ने बोला था…वो भी आतंक की घटना थी जो हिन्दुस्तान में हुई थी…हम किसी भी प्रकार की धर्म के आधार पर हिंसा के पक्षधर नहीं हैं…’

इसपर भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि मुझे आश्चर्य है कि यहां मुंगेर की घटना को आतंकवादी घटना बताकर फ्रांस की गला काटने वाली घटना के साथ तुलना किया जा रहा है…फ्रांस में जो हुआ है…हर चीज में हिंदू को ढूंढ कर लाना कि हिंदू भी उतना ही बड़ा आतंकवादी है..जितना की फ्रांस में हुआ…मुंगेर में भी हिंदू आतंकवादियों ने मारा और वहां मुस्लिम आतंकवादियों ने मारा…ये जो समानता ढूंढने की कोशिश हो रही है…वो गलत है..क्या तुलना करना चाहते हैं आप?

क्या हुआ मुंगेर में?
26 अक्टूबर की रात 10 बजे मुंगेर के लोहापट्टी बेकापुर के रहने वाले 19 साल के अनुराग कुमार पोद्दार रात 10 बजे अपने घरवालों को कहकर निकले की वो मूर्ति विसर्जन देखने के लिए जा रहे हैं। इस दौरान पुलिस ने मूर्ति विसर्जन करने जा रहे लोगों पर लाठीचार्ज किया। हिंसक झड़प में नौजवान अनुराग को सिर में गोली लग गई। गोली लगने से ग्रेजुएशन के छात्र अनुराग की मौत हो गई।

क्या हुआ फ्रांस में?
गुरुवार को फ्रांस के नीस शहर में नोत्रे दाम चर्च के सेक्सटन ने जब दरवाजा खोला तो चाकू लिए एक शख्स अंदर आया और उसने सेक्स्टन का गला रेत दिया। उसके बाद एक बुजुर्ग महिला का सिर लगभग काट दिया और तीसरी महिला को बुरी तरह घायल कर दिया।


सेक्सटन और बुजुर्ग महिला की तत्काल मौके पर ही मौत हो गई जबकि तीसरी महिला किसी तरह चर्च के पास के कैफे तक जाने में सफल रही। हालांकि वहां पहुंचने के बाद उसने भी दम तोड़ दिया. मौके पर मौजूद नीस के मेयर क्रिश्टियान एस्त्रोसी ने यह जानकारी दी। इसके बाद से वहां हिंसक भड़क उठी है।

Next Stories
1 राहुल का पीएम मोदी पर निशाना, ‘किसके आए अच्छे दिन’ देश के पीएम 8400 करोड़ के हवाई जहाज में घूमते हैं और जवान सर्दी में टेंट में गुजारा करते हैं
2 मध्य प्रदेश: विवादित बयानों के बाद कमलनाथ पर चला चुनाव आयोग का ‘चाबुक’, छिन गया स्टार प्रचारक का दर्जा
3 महंगाई बेलगाम, काबू करने को भूटान की मदद ले रही भारत सरकार
आज का राशिफल
X