ताज़ा खबर
 

नवजोत सिद्धू पर भड़की बीजेपी, कहा- पाकिस्‍तानी सेनाध्‍यक्ष से मिलना जघन्‍य अपराध

भाजपा नेता संबित पात्रा ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा नवजोत सिंह सिद्धू के पीओके के राष्ट्रपति के बराबर में बैठने को लेकर भी उनकी आलोचना की। संबित पात्रा ने कहा कि यह साधारण बात नहीं है।

नवजोत सिंह सिद्धू पाकिस्तान आर्मी चीफ जनरल बाजवा से मिलते हुए। (image source-ANI)

भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू के पाकिस्तान दौरे को लेकर उन पर निशाना साधा है। बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए पाकिस्तान गए हुए हैं। शनिवार को इस्लामाबाद में हुए इस शपथ ग्रहण समारोह में नवजोत सिंह सिद्धू के पाकिस्तान सेना प्रमुख जनरल बाजवा से गले मिलते हुए तस्वीरें सामने आयी हैं, जिसे लेकर भाजपा ने सिद्धू की आलोचना की है। भाजपा नेता संबित पात्रा ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर नवजोत सिंह सिद्धू के पीओके के राष्ट्रपति के बराबर में बैठने को लेकर भी उनकी आलोचना की। गौरतलब है कि शपथ ग्रहण समारोह के दौरान सिद्धू को पीओके के राष्ट्रपति के बराबर में बैठाया गया था।

बता दें कि भारत पीओके को अपना हिस्सा मानता है, यही वजह है कि सिद्धू के पीओके के राष्ट्रपति के बराबर में बैठाए जाने पर सवाल उठाए जा रहे हैं। पात्रा ने कहा कि सिद्धू पीओके के राष्ट्रपति के बराबर में बैठे, उन्होंने मना क्यों नहीं किया। हर हिंदुस्तानी ने इस बात को गंभीरता से लिया है। वहीं इस पूरे मामले से कांग्रेस पर भी सवाल खड़े होते हैं। पाकिस्तान आर्मी चीफ जनरल बाजवा से सिद्धू के गले मिलने पर संबित पात्रा ने कहा कि यह साधारण बात नहीं है, बाजवा से मिलना जघन्य अपराध है। संबित पात्रा ने सवाल उठाते हुए कहा कि क्या नवजोत सिंह सिद्धू ने पाकिस्तान में इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में जाने के लिए कांग्रेस पार्टी से इजाजत ली थी?

वहीं अभी खबर आयी है कि पाकिस्तान में भारतीय राजदूत अजय बिसारिया चर्चा के लिए दिल्ली आ रहे हैं। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि सिद्धू जी ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में पाकिस्तान को संबोधित करते हुए कहा कि अगर मेरे रोम-रोम से भी सहस्त्रों जुबान निकलने लगे, तो भी मैं पाकिस्तान का धन्यवाद नहीं कर सकता। पात्रा ने सवाल उठाते हुए कहा कि किस चीज के लिए धन्यवाद देना चाहते हैं। हमारे देश में आतंक फैलाने के लिए या निर्दोषों को मारने के लिए? उल्लेखनीय है कि हाल ही में पाकिस्तान में हुए आम चुनावों में इमरान खान की पार्टी तहरीक ए इंसाफ सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। जिसके बाद इमरान खान ने शनिवार को पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री के रुप में शपथ ग्रहण की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App