ताज़ा खबर
 

‘BJP से मिलीभगत भी हो सकती है जनता परिवार से सपा के अलग होने का कारण’

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने कहा है कि भाजपा के साथ मिलीभगत के चलते समाजवादी पार्टी जनता परिवार से अलग हुई है।

Author उन्नाव | September 5, 2015 14:29 pm

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने कहा है कि भाजपा के साथ मिलीभगत के चलते समाजवादी पार्टी जनता परिवार से अलग हुई है।

रमेश ने कल यहां संवाददाताओं से बातचीत में कहा, ‘‘भाजपा और सपा में हमेशा मिलीभगत रही है और जनता परिवार में बिखराव के पीछे यह भी एक कारण लगता है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा बिहार विधानसभा चुनाव साम्प्रदायिक धु्रवीकरण के आधार पर लडना चाहती है और महागठबंधन से सपा के अलग हो जाने से उसे फायदा हो सकता है।’’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पैकेजिंग और रिपैकेजिंग का एक्सपर्ट बताते हुए रमेश ने कहा कि पैकेजिंग और बा्रंडिग के मामले में वह जो कर रहे हैं वैसा कोई और नहीं कर सकता है। यहां तक कि ओबामा (अमेरिकी राष्ट्रपति) भी उनसे सीख रहे हैं।

रमेश ने यह भी कहा कि मोदी मनमोहन सरकार की योजनाओं की रिपैकेजिंग करके उसकी मार्केटिंग कर रहे हैं, यहां तक कि गंगा सफाई के नाम पर भी केवल उसका नाम बदला गया है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने गंगा सफाई अभियान में आईआईटी के विशेषज्ञ शामिल किये थे , मोदी सरकार यह काम साधुसंतो के सहारे पूरा करना चाहती है।

गुजरात माडल की बात करने पर कांग्रेस नेता ने कहा कि हार्दिक पटेल के आंदोलन ने सरकार चलाने के गुजरात माडल की पोल खोल दी है।

उन्होंने उत्तर प्रदेश में 2017 में होने वाले विधानसभा चुनाव के बारे में कहा कि कांग्रेस वह चुनाव अकेले लडेगी।

रमेश ने सपा सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि युवा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव स्वयं तो सकारात्मक और विकासोन्मुखी सोच रखते हैं, मगर उनकी मजबूरी यह है कि प्रदेश में चार चार मुख्यमंत्री हैं।

मनरेगा में हुए घोटाले के बारे में उन्होंने कहा कि आश्चर्य की बात है कि बसपा राज में हुए घोटाले में शामिल लोगों को सपा सरकार बचा रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App