बढ़ते पेट्रोल-डीजल के भाव पर भाजपा सांसद ने जताई चिंता, बोले- अर्थव्यवस्था का सुधरना और मुश्किल

सुब्रमण्यम स्वामी इससे पहले भी अपने ट्वीट से मोदी सरकार के लिए परेशानी खड़ी करते रहे हैं। अक्सर अपने बयानों में वो सरकार की नीतियों पर परामर्श देते रहते हैं।

Subramanian Swamy, BJP, Rajya Sabha
भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी(फाइल/फोटो सोर्स: PTI)

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से आम जनता परेशान है। बुधवार को भी डीजल के दाम में 34 से 37 पैसे तो वहीं पेट्रोल के दाम में 26 से 30 पैसे की बढ़ोत्तरी हुई है। इस बीच तेल कीमतों के आसमान छूने को लेकर भाजपा के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने एक ट्वीट कर कहा कि, पेट्रोल, डीजल और अन्य ईंधन की कीमतों में बढ़ोत्तरी होना भारत की ईमानदार जनता के लिए दुखद है।

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि, इसकी मांग कमजोर होगी जिससे अर्थव्यवस्था का सुधरना और भी मुश्किल होगा। गौरतलब है कि, देश में महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, राजस्थान, कर्नाटक, ओडिशा, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में पेट्रोल की कीमत 100 रुपये से अधिक है। दिल्ली में जहां पेट्रोल का दाम 102.94 रुपये है तो वहीं डीजल का दाम 91.42 रुपये प्रति लीटर है। मुंबई में पेट्रोल 108.96 रुपये व डीजल 99.17 रुपये प्रति लीटर है। इसके अलावा कोलकाता में पेट्रोल का दाम 103.65 रुपये जबकि डीजल का दाम 94.53 रुपये लीटर है। वहीं चेन्नई में भी पेट्रोल 100.49 रुपये लीटर है तो डीजल 95.93 रुपये लीटर है।

बता दें कि इससे पहले भी सुब्रमण्यम स्वामी अपने ट्वीट से मोदी सरकार के लिए परेशानी खड़ी करते रहे हैं। अक्सर अपने बयानों में वो सरकार की नीतियों पर परामर्श देते रहते हैं। ऐसे में भाजपा के अन्य कार्यकर्ताओं, नेताओं से सोशल मीडिया पर उनकी बहस भी होती रहती है।

इससे पहले बीजेपी युवा मोर्चा के नेशनल सेक्रेटरी तेजिंदर पाल सिंह के एक आरोप पर पलटवार करते हुए स्वामी ने कहा था कि, “मैंने वीपी सिंह की सरकार भी गिराई और राजीव गांधी के समर्थन से चंद्रशेखर की सरकार बनाई। फिर मैंने भाजपा के खिलाफ पीवीएनआर सरकार की मदद की। मुझे उकसाया मत करो। मैं राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ और विश्व हिंदू परिषद के आशीर्वाद से भाजपा में आया हूं। मेरे लिए विचारधारा मायने रखती है।”

दरअसल बग्गा ने ट्विटर पर एक फोटो शेयर किया था, जिसमें कांग्रेस नेता राहुल गांधी, गुलाम नबीं आजाद के साथ-साथ विपक्ष के कई नेताओं के साथ सुब्रमण्यम स्वामी दिख रहे थे। इसको लेकर उन्होंने आरोप लगाया था कि, वो विपक्षी नेताओं के साथ मिले हुए हैं। इसी आरोप को लेकर बात सरकार गिराने तक जा पहुंची।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट