scorecardresearch

जेरेमी कॉर्बिन के साथ राहुल की फोटो को लेकर कांग्रेस को घेरने चले थे कपिल मिश्रा, श्रीनिवास ने मोदी की तस्वीर रख दी सामने

ब्रिटिश नेता जेरेमी कॉर्बिन को भारत और हिंदू विरोधी रुख अपनाने के लिए जाना जाता है, वे कश्मीर को भारत से अलग करने का भी समर्थन कर चुके हैं। जेरेमी को लेकर बीजेपी और कांग्रेस एक-दूसरे को घेरने में लगे हैं।

Jeremy Corbyn|Rahul Gandhi Jeremy Corbyn meeting| PM Modi met Jeremy Corbyn
कांग्रेस नेता राहुल गांधी की ब्रिटिश नेता जेरेमी कॉर्बिन से मुलाकात (Photo Credit- Twitter/ Indian Overseas Congress)

भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने कांग्रेस (Congress) नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की ब्रिटिश नेता जेरेमी कॉर्बिन (Jeremy Corbyn) से मुलाकात पर सवाल उठाए, तो जवाब में कांग्रेस ने भी कॉर्बिन के साथ पीएम मोदी की एक फोटो शेयर कर पलटवार कर दिया।

कपिल मिश्रा (Kapil Mishra) ने मंगलवार (24 मई, 2022) को राहुल गांधी की जेरेमी कॉर्बिन के साथ एक फोटो शेयर करते हुए सवाल किया, “राहुल गांधी लंदन में जेरेमी कॉर्बिन के साथ क्या कर रहे हैं? जेरेमी कॉर्बिन भारत विरोधी हिंदू स्टैंड के लिए बदनाम हैं। जेरेमी कॉर्बिन खुलेआम कश्मीर को भारत से अलग करने की वकालत करते रहे हैं।”

इस पर युवा कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी (Srinivas BV) ने पीएम मोदी की एक फोटो शेयर करते हुए पलटवार किया। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, “प्रिय संघी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लंदन में जेरेमी कॉर्बिन के साथ क्या कर रहे थे?” बता दें कि जेरेमी कॉर्बिन को भारत और हिंदू विरोधी रुख अपनाने के लिए जाना जाता है, वे कश्मीर को भारत से अलग करने की भी वकालत करते रहे हैं।

इन नेताओं ने भी उठाया सवाल
इंडियन ओवरसीज कांग्रेस ने जब जेरेमी कॉर्बिन के साथ राहुल गांधी और सैम पित्रोदा की फोटो पोस्ट की तो, बीजेपी के विदेश प्रभारी विजय चौथाईवाले ने कहा कि कांग्रेस नेता की तरफ से हिंदू और भारत विरोधी ताकतों का समर्थन किया जा रहा है। वहीं, बीजेपी नेता शहजाद पूनावाल ने भी सवाल उठाए थे।

रणदीप सुरजेवाला ने दिया जवाब
कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने भी ट्विटर पर पीएम मोदी और जेरेमी कॉर्बिन की फोटो शेयर करते हुए बीजेपी को घेरा। उन्होंने कहा, “मैं भी अपनी मीडिया से कह सकता हूं कि पहचानो यह शख्स कौन है उसी तरह का सवाल पूछो जैसा राहुल गांधी से पूछा जा रहा है। क्या इसका यह मतलब हुआ कि पीएम मोदी जेरेमी कॉर्बिन के भारत के बारे में विचारों का समर्थन करते हैं?”

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट