ताज़ा खबर
 

केरल में कम्युनिस्टों के खिलाफ और बंगाल में साथ चुनाव लड़ रही कांग्रेस, असम में बोले नड्डा- इन्हें शर्म नहीं आती

सोमवार को असम की एक चुनावी रैली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा ने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कांग्रेस अवसरवाद की राजनीति करती है।

j p nadda, BJP, Assamअसम की एक चुनावी रैली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा (फोटो – पीटीआई)

पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव में अब कम ही समय रह गया है। एकतरफ कांग्रेस जहां बंगाल में कम्युनिस्ट पार्टी के साथ चुनाव लड़ रही है तो वहीं दूसरी तरफ वह केरल में उनके खिलाफ चुनाव लड़ रही है। इसी मुद्दे पर असम की एक चुनावी रैली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा ने कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा है कि इन्हें शर्म नहीं आती है।

सोमवार को असम की एक चुनावी रैली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा ने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कांग्रेस अवसरवाद की राजनीति करती है। कांग्रेस के नेताओं में शर्म-हया नहीं रह गई है। जे पी नड्डा ने कहा कि एक ही समय में 5 राज्यों में चुनाव हो रहे हैं। केरल में कांग्रेस कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सिस्ट(सीपीएम) के खिलाफ चुनाव लड़ रही है और बंगाल में कांग्रेस CPM के साथ गले मिल रही है

साथ ही जे पी नड्डा ने कहा कि कांग्रेस की न नीयत साफ है और न नीति साफ है, जब नीयत और नीति ही नहीं है तो कार्यक्रम नाम की तो चीज ही नहीं है। एक तरफ भाजपा है, मोदी जी से लेकर सर्बानंद सोनोवाल तक हमारी नीति भी साफ है और नीयत भी। इससे पहले असम के डिब्रूगढ़ में भी जे पी नड्डा ने एक चुनावी रैली को संबोधित किया।

जे पी नड्डा ने कांग्रेस के ऊपर असम की सभ्यता को चोट पहुंचाने का आरोप लगाया। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस ने असम की सभ्यता को चोट पहुंचाई है। कांग्रेस पार्टी ने असम की सुरक्षा को कभी तरजीह नहीं दी इसलिए यहां परेशानियां बढ़ती गई। लेकिन पिछले 5 साल में सर्बानंद सोनोवाल की सरकार आई तो असम की तस्वीर बदल दी गई। साथ ही उन्होंने कहा कि हमें तय करना है कि क्या हम असम की संस्कृति की रक्षा करेंगे या बदरुद्दीन अजमल के नेतृत्व में जिस तरह से समाज को बांटने की कोशिश हो रही है, उसका साथ देंगे।  

बता दें कि असम की 126 सदस्यों वाली विधानसभा के लिए तीन चरणों में वोटिंग होगी। पहले चरण की वोटिंग 27 मार्च को, दूसरे चरण के लिए 1 अप्रैल को और तीसरे चरण के लिए 6 अप्रैल को वोटिंग होगी। मतों की गिनती 2 मई को की जाएगी।

Next Stories
1 विश्व जल दिवसः इधर PM ने की ‘कैच द रेन’ अभियान की शुरुआत, उधर केंद्र-UP व MP ने केन-बेतवा नदी जोड़ो समझौते पर किए साइन
2 बिना मास्क पहने चुनाव प्रचार कर रहे प्रचारकों पर अदालत सख्त, केंद्र और EC से मांगा जवाब, महाराष्ट्र में बीजेपी कार्यकर्ताओं पर केस दर्ज
3 केरल कांग्रेस की वरिष्ठ महिला नेता ने पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा दिया
ये पढ़ा क्या?
X