ताज़ा खबर
 

उद्धव ठाकरे ने अमित शाह को खिलाया घर का बना खाना, फिर की फडणवीस सरकार की शिकायत!

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने एनडीए के ढीले पुर्जे कसने की कवायद शुरू कर दी है। उन्होंने गिले-शिकवे दूर करने के मकसद से शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से उनके मुंबई स्थित आवास पर मुलाकात की।

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मुंबई पहुंचकर शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से उनके मातोश्री आवास पर की मुलाकात।

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने एनडीए के ढीले पुर्जे कसने की कवायद शुरू कर दी है। उन्होंने गिले-शिकवे दूर करने के मकसद से शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से उनके मुंबई स्थित आवास पर मुलाकात की। इस दौरान दोनों नेताओं ने गठबंधन से जुड़ी समस्याओं पर चर्चा की।शिवसेना बीजेपी की सबसे पुरानी मगर आक्रामक आलोचक सहयोगी मानी जाती है। हाल में शिवसेना ने एनडीए से राह अलग करने के संकेत दिए तो दबाव में आई बीजेपी ने बातचीत के जरिए मामला सुलझाने की कोशिश की।शिवसेना ने 2019 में अलग चुनाव लड़ने की बात कही थी, ऐसे में अमित शाह की इस मुलाकात के नतीजों पर सबकी निगाहें टिकीं हैं।

मातोश्री आवास पर उद्धव ठाकरे और अमित शाह के बीच करीब एक घंटे तक व्यक्तिगत बातचीत चली। जबकि उद्धव के बेटे आदित्या ठाकरे और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने तब तक बाहर इंतजार किया। इसके बाद अमित शाह ने ठाकरे परिवार के साथ घर पर बना महाराष्ट्रियन भोजन किया।सूत्र बताते हैं कि बातचीत के दौरान उद्धव ठाकरे ने अमित शाह के सामने कई बातें उठाईं। मसलन जिस तरह से बाजपेयी के जमाने में एनडीए को एकजुट करने के लिए संयोजन बैठकें होतीं थीं, अब उस तरह के प्रयास नहीं हो रहे।उन्होंने महाराष्ट्र में बीजेपी के संगठन और फडणवीस सरकार पर भी सवाल उठाए। कहा कि सरकार में शामिल शिवसेना के मंत्रियों को अपेक्षित सम्मान और महत्व नहीं मिल रहा है।

बीजेपी के सूत्रों ने मीटिंग को सफल बताते हुए कहा कि दोनों दलों के बीच पैदा हुई परेशानियों को दूर करने की कोशिश हुई है, आगे भी कई मौकों पर मीटिंग होती रहेगी।ताकि पहले की तरह बीजेपी-शिवसेना के रिश्ते बेहतर बने रहें। हालांकि सूत्रों ने यह भी बताया कि 2019 में साथ लोकसभा चुनाव लड़ने को लेकर बात साफ नहीं हो सकी। उद्धव ठाकरे ने अमित शाह को फिलहाल इस मुद्दे पर कोई भरोसा नहीं दिया।शिवसेना इससे पहले अकेले चुनाव लड़ने की बात कह चुकी है।

Next Stories
1 लता मंगेशकर ने बताई अमित शाह से न मिल पाने की वजह, बीजेपी अध्यक्ष ने दिया यह जवाब
2 रमजान में देवबंद से निकला फतवा: शियाओं के यहां ना खाएं सुन्नी मुसलमान
3 योगी आदित्यनाथ पर सवाल टाल गए रामदेव, बोले- 2019 में जीत के लिए BJP को करना होगा संघर्ष
ये पढ़ा क्या?
X