ताज़ा खबर
 

कपिल देव के घर पहुंचे अमित शाह, मोदी सरकार की उपलब्धियां गिना मांगा समर्थन

पार्टी ने कहा था कि अमित शाह खुद 50 लोगों से मुलाकात करेंगे। इस कड़ी के तहत उन्होंने पूर्व सेना प्रमुख दलबीर सिंह सुहाग और संविधान विशेषज्ञ सुभाष कश्यप से 29 मई को मुलाकात की थी।

अमित शाह ने पूर्व कप्तान कपिल देव से उनके घर जाकर मुलाकात की और मोदी सरकार के चार सालों की उपलब्धियां उन्हें बताईं।(फोटो- ANI)

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार (01 जून) को भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान कपिल देव से उनके घर जाकर मुलाकात की और मोदी सरकार के चार सालों की उपलब्धियां उन्हें बताईं। शाह ने ‘‘समर्थन के लिए संपर्क’’ अभियान के तहत पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी से मिलकर समर्थन मांगा है। पार्टी नेताओं ने बताया कि 26 मई को मोदी सरकार की चौथी वर्षगांठ के बाद भाजपा ने ‘समर्थन के लिए संपर्क’ अभियान की शुरुआत की है और घोषणा की है कि चार हजार पदाधिकारी एक लाख लोगों से संपर्क करेंगे जो अपने क्षेत्र में लोकप्रिय हैं ताकि अपने कार्यकाल के दौरान कार्यों का प्रसार कर सकें।

पार्टी ने कहा था कि अमित शाह खुद 50 लोगों से मुलाकात करेंगे। इस कड़ी के तहत उन्होंने पूर्व सेना प्रमुख दलबीर सिंह सुहाग और संविधान विशेषज्ञ सुभाष कश्यप से 29 मई को मुलाकात की थी। पार्टी नेताओं ने कहा कि वह 1983 के विश्व कप विजेता कप्तान के घर गए और सरकार की सफलताओं से उन्हें अवगत कराया। अमित शाह ने भी कपिल देव से मुलाकात की तस्वीरें सोशल मीडिया पर साझा की हैं और लिखा है, “समर्थन के लिए संपर्क अभियान के तहत कपिल देव और उनकी पत्नी से उनके घर पर जाकर मुलाकात की और उन्हें सरकार के चार साल की उपलब्धियों से अवगत कराया।” शाह ने इस मौके पर उन्हें सरकार की उपलब्धियों से जुड़े दस्तावेज भी सौंपे।

कपिल देव के घर पर अमित शाह।

शाह ने पहले कहा था कि अभियान का मकसद लोगों को सरकार के विभिन्न कदमों से अवगत कराना है जिनसे लोगों का जीवन स्तर ऊंचा हुआ है क्योंकि गांवों में लोगों की समस्याओं को दूर करने और गरीबों का जीवन बेहतर करने के लिए काफी काम किया गया। उन्होंने कहा था कि पांचवें वर्ष में सरकार का लक्ष्य किसानों को उनके उत्पाद का डेढ़ गुना कीमत दिलाकर उनकी जिंदगी में बदलाव लाना है। इसका लक्ष्य 50 करोड़ लोगों को पांच लाख रुपये स्वास्थ्य बीमा के कवरेज में लाना है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App