ताज़ा खबर
 

2019 चुनाव में जुटी बीजेपी, ‘अबकी बार मोदी सरकार’ नहीं, अब यह होगा नया नारा

26 मई को सरकार के चार साल पूरा होने के मौके पर पीएम मोदी ओडिशा के कटक में रैली करेंगे। बता दें कि पीएम मोदी द्वारा 2019 में पुरी से लोकसभा चुनाव लड़ने की भी चर्चा है। बीजेपी अपनी कामयाबियों की लिस्ट में जन-धन योजना, उज्ज्वला योजना, ग्रामीण विद्युतीकरण को प्रमुखता से पेश कर रही है। हालांकि बीजेपी पूरे प्रचार अभियान को इस तरह से तैयार कर रही है, जिससे जनता में ये संदेश जाए कि काम की गति सही दिशा में है, लेकिन अभी बहुत कुछ किया जाना बाकी है।

उत्तर प्रदेश के शामली 24 मई को में कैराना उपचुनाव के दौरान एक रैली में बीजेपी का एक कार्यकर्ता पीएम मोदी के वेश में (PTI Photo)

भारतीय जनता पार्टी 26 मई को नरेंद्र मोदी सरकार के 4 साल पूरे होने का जश्न बड़े पैमाने पर मनाने जा रही है। इसी के साथ केन्द्र की सरकार चुनावी मोड में भी आ गई है। बीजेपी ने 2019 लोकसभा चुनाव के लिए नये टैगलाइन और नये पंचलाइन जारी किये हैं। खास बात यह है कि 2014 में बेहद चर्चा में रहे बीजेपी के पंचलाइन  ‘अबकी बार मोदी सरकार’ को बदल दिया गया है। पार्टी ने अब इससे एक कदम आगे बढ़ते हुए ‘2019 में फिर मोदी सरकार’ का नारा दिया है। पार्टी ने अपने प्रचार अभियान का टैगलाइन ‘साफ नीयत, सही विकास’ दिया है। हिन्दुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक ये नारा कुछ इस प्रकार है, “मंजिल आ रही है पास, देश का बढ़ता जाता विश्वास; साफ नीयत सही विकास।” बीजेपी के नये प्रचार अभियान में पीएम मोदी के काम करने की ‘नीयत’ और विकास के एजेंडे पर जोर दिया जाएगा।

बता दें कि 26 मई को सरकार के चार साल पूरा होने के मौके पर पीएम मोदी ओडिशा के कटक में रैली करेंगे। बता दें कि पीएम मोदी द्वारा 2019 में पुरी से लोकसभा चुनाव लड़ने की भी चर्चा है। बीजेपी अपनी कामयाबियों की लिस्ट में जन-धन योजना, उज्ज्वला योजना, ग्रामीण विद्युतीकरण को प्रमुखता से पेश कर रही है। हालांकि बीजेपी पूरे प्रचार अभियान को इस तरह से तैयार कर रही है, जिससे जनता में ये संदेश जाए कि काम की गति सही दिशा में है, लेकिन अभी बहुत कुछ किया जाना बाकी है। 26 मई को पार्टी अध्यक्ष अमित शाह दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे और देश को मोदी सरकार के फैसलों से हुए लाभ की जानकारी देंगे।

इधर केन्द्र सरकार के प्रति कांग्रेस का रुख हमलावर है। पार्टी नरेंद्र मोदी सरकार की चौथी वर्षगांठ को ‘विश्वासघात दिवस’ के रूप में मनाएगी, जिसके तहत पार्टी शनिवार को भाजपा के ‘चुनाव पूर्व वादों’ की विफलता और ‘कुशासन’ के बारे में बताएगी। पार्टी के एक नेता ने गुरुवार (24 मई) को यह जानकारी दी। कांग्रेस का आरोप है कि प्रधानमंत्री ने युवाओं को रोजगार देने के साथ चुनाव पूर्व किए अन्य वादों को भी नहीं निभाया। कांग्रेस का कहना है कि पार्टी ‘विश्वासघात दिवस’ के अंतर्गत शनिवार को पूरे देश के प्रत्येक जिले में प्रदर्शन और रैली करेगी और धरना देगी।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App