ताज़ा खबर
 

सत्‍ता पर हिंदुओं का कब्‍जा जरूरी बताने वाले तेजस्‍वी को बीजेपी ने बनाया युवा मोर्चा अध्यक्ष

करीब 30 साल के तेजस्‍वी सूर्या ने सीएए-एनआरसी के आलोचकों को जाहिल, पंक्‍चर वाला भी कहा था।

tejasvi Surya, BJPबीजेपी ने तेजस्वी सूर्या को युवा मोर्चा का अध्यक्ष नियुक्त किया है।(फोटो-Twitter)

भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने बिहार चुनाव की तारीखों के एलान के बाद शनिवार को अपनी नई टीम की घोषणा की।  नई टीम में पार्टी ने युवा सांसद तेजस्वी सूर्या को युवा मोर्चा का अध्यक्ष बनाया है। तेजस्वी सूर्या का विवादों से नाता रहा है। कई ऐसे मौके आए हैं जब उन्होंने भड़काऊं बयान दिए हैं।

सूर्या ने  इसी साल अगस्त के महीने में एक विवादित ट्वीट किया था। उन्होंने ट्वीट में लिखा था, प्यारे हिंदुओं, अपने धर्म को बनाए रखने के लिए सत्ता पर हिंदुओं का कब्जा जरूरी है। जब हम सत्ता में नहीं थे तो हमारे मंदिर तोड़े गए अब हम सत्ता में है तो दोबारा मंदिर बनाने जा रहे हैं। साल 2014 में 282 सीटें और 2019 में 303 सीटों की बदौलत मोदी जी के लिए ऐसा करना संभव रहा।

इससे पहले उन्होंने इस्लाम धर्म की औरतों को लेकर विवादित टिप्पणी की थी। उन्होंने तारेक फतेह को कोट करते हुए लिखा था। पिछले कई सैकड़ों सालों से 95 प्रतिशत अरब महिलाओं को यौन संबंधों के दौरान चरमोत्कर्ष नहीं मिला है। हर मां ने बच्चों को जन्म दिया है लेकिन उन्हें प्यार नहीं मिला है।

इसके अलावा नागरिकता संसोधन कानून को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शन के दौरान भी उन्होंने विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था, जो लोग बेंगलुरु के आईटी सेक्टर में काम करते हैं, वकील, इंजीनियर्स, जो विकास में अपना योगदान देते हैं। रोजमर्रा के कामगार, रिक्शा ड्राइवर सभी इस रैली में साथ खड़े हैं।’ तेजस्वी ने कहा, ‘लेकिन ये अनपढ़, अगर तुम इनका सीना चीर के देखोगे तो तुम्हें दो शब्द भी नहीं मिलेंगे, पंक्चरवालों की तरह, सिर्फ यही लोग इस कानून का विरोध कर रहे हैं।

बता दें कि  भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने शनिवार को अपनी बहुप्रतीक्षित टीम का ऐलान कर दिया। लंबी मशक्कत के बाद तैयार की गई राष्ट्रीय पदाधिकारियों की टीम से राम माधव, मुरलीधर राव, सरोज पांडे और अनिल जैन की महासचिव पद से छुट्टी कर दी गई है।

इसी प्रकार राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के पद से उमा भारती, विनय सहस्रबुद्धे, प्रभात झा, ओम माथुर, श्याम जाजू, अविनाश राय खन्ना और रेणू देवी जैसे दिग्गजों की छुट्टी कर उनके स्थान पर नए चेहरों को मौका दिया गया है। नड्डा ने पार्टी के विभिन्न मोर्चों में भी व्यापक बदलाव करते हुए लगभग सभी पुराने अध्यक्षों को हटाकर नए चेहरों को अवसर दिया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सभी भारतीयों को कोरोना वैक्सीन देने के लिए 80 हजार करोड़ रुपये की जरूरत, सरकार के पास है इतना पैसा? अदार पूनावाला ने उठाए सवाल
2 ‘जब हम मजबूत थे तो कभी किसी को नहीं सताया, हम पूरे विश्व को परिवार मानते हैं’, यूएन में बोले पीएम मोदी
3 बिहार चुनाव: एंकर ने पूछा सीधा सवाल तो फँस गए शाहनवाज़ हुसैन, मोबाइल देख कर भी नहीं दे पाए सही आँकड़े
IPL 2020 LIVE
X