ताज़ा खबर
 

इलाहाबाद में भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक, उप्र के ‘गुंडाराज’ पर होगी चर्चा

भाजपा का मानना है कि कानून एवं व्यवस्था अखिलेश यादव सरकार के खिलाफ एक मजबूत मुद्दा बन सकता है क्योंकि राज्य अगले साल में होने जा रहे विधानसभा के लिए कमर कस रहा है।
Author नई दिल्ली। | June 9, 2016 21:25 pm
भारतीय जनता पार्टी

भाजपा ने गुरुवार (9 जून) को दावा किया कि उत्तर प्रदेश में ‘गुंडाराज’ पर उसकी राष्ट्रीय कार्यकारिणी में विचार विमर्श किया जाएगा तथा पार्टी ने मांग की कि मथुरा के जवाहर पार्क का नाम एसपी मुकुल द्विवेदी और एसआई संतोष यादव पर रखा जाए। इन दोनों पुलिस अधिकारियों की कब्जा जमाने वालों ने उस समय जान ले ली थी जब वे कब्जा खाली करवाने गए थे।

पार्टी के मीडिया प्रमुख श्रीकांत शर्मा ने संवाददाताओं से कहा, ‘राज्य में गुंडाराज हमारे लिए एक मुद्दा है। यह (मुद्दा) राष्ट्रीय कार्यकारिणी का हिस्सा होगा।’ भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की 12-13 जून को इलाहाबाद में बैठक होगी। प्रधानमंत्री 13 जून की शाम को होने वाली अपनी रैली में समाजवादी पार्टी सरकार को आड़े लेते हुए मथुरा हिंसा के मुद्दे को उठा सकते हैं जिसमें 29 लोगों की मौत हुई थी।

भाजपा का मानना है कि कानून एवं व्यवस्था अखिलेश यादव सरकार के खिलाफ एक मजबूत मुद्दा बन सकता है क्योंकि राज्य अगले साल में होने जा रहे विधानसभा के लिए कमर कस रहा है। शर्मा ने कहा कि उन्होंने यादव को पत्र लिखकर पार्क का नाम मारे गए पुलिस अधिकारियों पर रखने की मांग की है। साथ ही उन्होंने कहा कि घटना की सीबीआई जांच होनी चाहिए।

शर्मा ने आरोप लगाया कि घटना मुख्यमंत्री की ‘प्रत्यक्ष विफलता’ है। उन्होंने कहा कि कब्जा करने वालों के पास बड़ी मात्रा में हथियार एवं गोला बारूद होने की पूर्व में दी गयी खुफिया जानकारी के बावजूद पुलिस को बिना तैयारियों के साथ पार्क में इस निर्देश के साथ भेजा गया कि वह उनके खिलाफ बल प्रयोग नहीं करेगी।

उन्होंने कहा, ‘इन दोनों की मौत नहीं हुई है बल्कि इस राज्य सरकार ने उन्हें मरने के लिए मजबूर किया।’ उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार कब्जा करने वाले लोगों के नेता रामवृक्ष यादव को पट्टे पर पार्क देने की तैयारी कर रही थी। रामवृक्ष की भी झड़प में मौत हो गई।

भाजपा ने एक अभियान शुरू कर लोगों से कहा है कि वे ‘समाजवादी पार्टी से जुड़े गुंडों’ द्वारा कब्जा की गयी जमीन के बारे में उसे सूचित करें। उसने वादा किया कि यदि वह सत्ता में आई तो ऐसे सभी कब्जों को मुक्त कराया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App