किसान आंदोलन पर वरुण गांधी ने फिर सरकार पर साधा निशाना! अटल बिहारी का वीडियो शेयर कर दिया अपना संदेश

वरुण गांधी द्वारा शेयर किए गए पुराने वीडियो में पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी कह रहे हैं, “अगर सरकार दमन करेगी, कानून का गलत इस्तेमाल करेगी, शांतिपूर्ण आंदोलन को दबाने की कोशिश करेगी, तो किसानों की इस लड़ाई में कूदने में हम संकोच नहीं करेंगे।”

Varun Gandhi,BJP
पिछले 17 सालों से वरुण गांधी भाजपा में शामिल हैं। कई मौकों पर वो विरोधी स्वर भी उठाते नजर आए हैं(फोटो सोर्स: PTI/ट्विटर)।

किसान आंदोलन और लखीमपुर हिंसा में मारे गए किसानों को लेकर भाजपा सांसद वरुण गांधी लगातार अपनी ही पार्टी पर हल्ला बोल रहे हैं। भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की सूची से बाहर किए गए वरुण गांधी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का एक पुराना वीडियो शेयर करते हुए इशारों-इशारों में फिर से केंद्र सरकार पर निशाना साधा है।

वीडियो में अटल जी ने कही हैं ये बातें: बता दें शेयर किए गए वीडियो में अटल बिहारी तत्कालीन सरकार को किसानों पर अत्याचार ना करने की चेतावनी दे रहे हैं। इस वीडियो में अटल जी कह रहे हैं, “मैं सरकार को चेतावनी देना चाहता हूं कि दमन के तरीके छोड़ दीजिए। डराने की कोशिश मत कीजिए। किसान डरने वाला नहीं है। हम किसानों के आंदोलन का दलीय राजनीति के लिए उपयोग करना नहीं चाहते, लेकिन हम किसानों की उचित मांग का समर्थन करते हैं।”

इस पुराने वीडियो में अटल बिहारी कह रहे हैं, “अगर सरकार दमन करेगी, कानून का गलत इस्तेमाल करेगी, शांतिपूर्ण आंदोलन को दबाने की कोशिश करेगी, तो किसानों की इस लड़ाई में कूदने में हम संकोच नहीं करेंगे, उनके साथ कंधे से कंधे लगाकर हम खड़े रहेंगे।”

कब का है वीडियो: बता दें कि यह वीडियो साल 1980 का है। उस दौरान वाजपेयी ने मुंबई में बीजेपी के अधिवेशन में किसानों को लेकर यह भाषण दिया था। उस समय किसान फसलों के उचित दाम को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे। माना जा रहा है कि इस वीडियो के जरिए वरुण गांधी किसानों के समर्थन में अपनी ही पार्टी को संदेश देना चाह रहे हैं।

सीएम योगी को लिखा था पत्र: वैसे यह पहला मौका नहीं है, इससे पहले उन्होंने लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के लिए जिम्मेदारी तय किए जाने की बात कही थी। यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ को एक पत्र लिखकर वरुण गांधी ने मामले की जांच सीबीआई को सौंपनी की मांग की थी। उन्होंने मरने वालों के परिवारों को 1 करोड़ रुपये आर्थिक मदद देने की बात कही थी।

कार्यकारिणी से हुए बाहर: पिछले 17 सालों से वरुण गांधी भाजपा में शामिल हैं। कई मौकों पर वो विरोधी स्वर भी उठाते नजर आए हैं। माना जा रहा है कि इसी वजह से भाजपा ने उन्हें राष्ट्रीय कार्यकारिणी से बाहर कर दिया है। उनके अलावा यूपी की सुल्तानपुर लोकसभा सांसद मेनका गांधी को भी इस सूची से बाहर रखा गया है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट